मुख्य समाचार:

Covid-19 Vaccine Latest News: क्यों रोकना पड़ा Oxford की कोरोना वैक्सीन का ट्रायल, सबसे ज्यादा जगा रही थी उम्मीद

Corona Vaccine News: ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा तैयार की गई वैक्सीन AZD1222 के अंतिम चरण का ट्रॉयल रोकना पड़ा है.

Updated: Sep 09, 2020 9:35 AM
Oxford Corona Vaccine, Oxford University Covid-19 Vaccine Latest News, corona vaccine trial on hold, side effect in a volunteer, third phase trial of oxford vaccine, covid-19 treatment, AZD1222, cprona vaccine newsCorona Vaccine News: ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा तैयार की गई वैक्सीन AZD1222 के अंतिम चरण का ट्रॉयल रोकना पड़ा है.

Oxford University Corona Vaccine News: कोरोना वायरस महमारी के इलाज खोजने के प्रयासों को बड़ा झटका लगा है. ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा तैयार की गई वैक्सीन AZD1222 को लेकर दुनियाभर की उम्मीदें बहुत ज्यादा है. लेकिन ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी को इस वैक्सीन के अंतिम चरण का ट्रॉयल रोकना पड़ा है. अलग अलग मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि ब्रिटेन में एक व्‍यक्ति को ऑक्‍सफर्ड की कोरोना वायरस वैक्‍सीन लगाई गई थी और उसके शरीर में निगेटिव इफेक्ट देखने को मिला. उस शख्स के बीमार पड़ने के बाद कोरोना वैक्‍सीन के ट्रायल को रोकना पड़ा है. हालांकि आगे कुछ दिनोकं बाद ट्रायल फिर शुरू किया जा सकता है.

ट्रायल सबसे आगे

बता दें कि ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में वैक्सीन के ट्रायल पर पूरी दुनिया की निगाहें टिकी हुईं हैं. मौजूदा समय में जब दुनिया भर में करीब 150 वैक्सीन या ड्रग पर ट्रायल चल रहा है, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा वैक्सीन का ट्रायल सबसे आगे चल रहा है. यहां तीसरे फेज का ट्रायल हो रहा है और उम्मीद है कि बाजार में सबसे पहले आने वाले वैक्सीन में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन हो सकती है. वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल में हजारों लोग शामिल होते हैं और इसमें कई बार कई साल लगते हैं.

ट्रायल के दौरान होती हैं ऐसी घटनाएं

जानकारों का कहना है कि वैक्‍सीन के ट्रायल के दौरान उसे रोका जाना कोई नई बात नहीं है लेकिन इससे दुनियाभर में जल्‍द से जल्‍द कोरोना वायरस वैक्‍सीन म‍िलने के प्रयासों को बड़ा झटका लगा है. ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनिका की यह वैक्‍सीन रेस में सबसे आगे चल रही थी. यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है कि मरीज में किस तरह का दुष्‍प्रभाव देखा गया है लेकिन इस पूरे मामले से जुड़े एक व्‍यक्ति ने बताया कि मरीज के जल्‍द ही ठीक होने की उम्‍मीद है.

वैक्सीन को लेकर भरोसा

ऑक्सफोर्ड के वैज्ञानिक न सिर्फ वैक्सीन AZD1222 के पूरी तरह सफल होने को लेकर आश्वस्त हैं बल्कि उन्हें 80 फीसदी तक भरोसा है कि सितंबर तक वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी. ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन का उत्पादन एस्ट्राजेनेका करेगी. यह वैक्सीन ChAdOx1 वायरस से बनी है जो सामान्‍य सर्दी पैदा करने वाले वायरस का एक कमजोर रूप है. इसे जेनेटिकली बदला गया है इसलिए इससे इंसानों में इन्‍फेक्‍शन नहीं होता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. Covid-19 Vaccine Latest News: क्यों रोकना पड़ा Oxford की कोरोना वैक्सीन का ट्रायल, सबसे ज्यादा जगा रही थी उम्मीद

Go to Top