मुख्य समाचार:

Covid-19: अक्टूबर से शुरू हो जाएगा वैक्सीनेशन! रूस ने पूरा किया क्लिनिकल ट्रॉयल

Covid-19 Vaccine: रूस ने दावा किया है कि अक्टूबर से कोविड वैक्सीन का इस्तेमाल शुरू हो जाएगा.

August 3, 2020 10:39 AM
Covid-19 Vaccine, corona vaccine, covid-19 mass vaccination, russia corona vaccine, कोविड वैक्सीन, corona virus, COVID-19, Moscow Gamaleya InstituteCovid-19 Vaccine: रूस ने दावा किया है कि अक्टूबर से कोविड वैक्सीन का इस्तेमाल शुरू हो जाएगा.

Covid-19 Vaccine News Updates: कोरोना वायरस महामारी के इलाज को लेकर बड़ी खबर आ रही है. पहली कोविड वैक्सीन का आम लोगों के लिए इस्तेमाल इसी साल अक्टूबर से शुरू होने की उम्मीदें बढ़ गई हैं. रूस ने दावा किया है कि वह देश में अक्टूबर से ही मास वैक्सीनेशन का कार्यक्रम शुरू करने वाला है. इसके तहत सबसे पहले डॉक्टर्स और टीचर्स को वैक्सीन दी जाएगी, इसके बाद इमरजेंसी सर्विसेज से जुड़े लोगों का नंबर आएगा. बता दें कि हाल ही इस बारे में खबर आई थी कि रूस अगस्त में इस वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर रेगुलेटरी मंजूरी दिलाने में लगा है.

क्लिनिकल ट्रॉयल पूरा हुआ

अलग अलग मीडिया रिपोर्ट के हवाले से खबर आ रही है कि रूस में डेवलप की गई इस वैक्सीन का क्लिनिकल ट्रॉयल पूरा कर लिया गया है. इस वैक्सीन को मास्को बेस्ड गैमेलेया इंस्टीट्यूट ने तैयार किया है. इंस्टीट्यूट की ओर से ही रिपोर्ट है कि इस वैक्सीन का क्लिनिकल ट्रॉयल अब पूरा है, अब इसे अगस्त में ही मंजूरी मिल जाएगी. बता दें कि पिछले महीने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने यह साफ किया था कि कोरोना वायरस महामारी से लड़ने वाली पहली वैक्सीन 2021 के पहले बाजार में आनी मुश्किल है. लेकिन लगता है कि WHO का यह आंकलन गलत साबित होने वाला है.

गवर्नमेंट ने भी दी जानकारी

रूस के स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराशको ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि अक्टूबर से कोरोना वैक्सीन आम लोगों के लिए उपलब्ध होगी. उन्होंने बताया कि गामालेया इंस्टीट्यूट द्वारा तैयार इस वेक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल में नतीजे काफी अच्छे रहे हैं. फिलहाल वैक्सीन रजिस्ट्रेशन और डिस्ट्रीब्यूशन की प्रक्रिया में है. उन्होंने कहा कि हम अक्टूबर से मास वैक्सीनेशन शुरू कर देंगे. सबसे पहले डॉक्टर्स और टीचर्स के लिए वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएगी. मिखाइल के मुताबिक रूस की इस वैक्सीन को अगस्त तक मंजूरी मिल जाएगी.

साइंटिफिक डाटा जारी नहीं

हालांकि रूस ने अबतक इस वेक्सीन के बारे में साइंटिफिक डाटा नहीं जारी किया है. इसलिए इस वैक्सीन की सेफ्टी और एफिशिएंसी को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं. वैक्सीन का 3 अगस्त के बाद तीसरे फेज का ट्रॉयल होना है. इसके दूसरे फेज का ट्रॉयल हो चुका है. पहले भी ऐसी रिपोर्ट आई थी कि तीसरे फेज के ट्रॉयल के समानांतर ही इसके इस्तेमाल करने की इजाजत मिल सकती है.

ये वैक्सीन भी लाइन में

इसके अलावा भी कुछ देशों की कंपनियों का दावा है कि उनके क्षरा बनाई जा रही है वैक्सीन जल्द बाजार में आएगी. इनके ट्रॉयल में 99% से 100% असरदार होने का दावा किया गया है. इसमें ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा डेवलप की जा रही ऑक्सफोर्ड वैक्सीन, चीन की एक कंपनी Sinovac बायोटेक द्वारा तैयार की जा रही वैक्सीन, अमेरिकी कंपनी Moderna की वैक्सीन, भारत की फार्मा कंपनी सेरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया द्वारा तैयार की जा रही वैक्सीन, भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन ‘COVAXIN’, भारत में फार्मा कंपनी जायडस कैडिला (Zydus Cadila) की कोविड-19 वैक्सीन ZyCoV-D शामिल हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. Covid-19: अक्टूबर से शुरू हो जाएगा वैक्सीनेशन! रूस ने पूरा किया क्लिनिकल ट्रॉयल

Go to Top