सर्वाधिक पढ़ी गईं

कोविड-19: एंटीबॉडी थैरेपी से कम हो सकता है वायरस का असर, स्टडी में दावा

एक नई स्टडी से इसकी जानकारी मिली है.

October 31, 2020 5:29 PM
covid 19 antibody therapy can reduce risks of coronavirus finds studyएक नई स्टडी से इसकी जानकारी मिली है.

जिन कोविड-19 मरीजों को नई एंटीबॉडी दी गई, उन्हें कम लक्षण आए और जिन लोगों को थैरपी की जरूरत पड़ी, उनके मुकाबले अस्पताल में भर्ती या इमरजेंसी मेडिकल केयर की जरूरत है. एक नई स्टडी से इसकी जानकारी मिली है. वर्तमान में जारी फेज 3 क्लीनिकल ट्रायल, जिसके अंतरिम नतीजे द न्यू इंग्लैंड जरनल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित किए गए, उसमें LY-CoV555 के तीन डोज को टेस्ट किया गया. यह मोनोक्लोनल एंटीबॉडी कोविड-19 मरीज के खून से ली जाती है.

अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत घटी

विश्लेषण में मरीजों में वायरल लोड के कम होने का संकेत मिला है. इसमें कम से मध्य कोविड-19 मामलों को 2,800 मिलिग्राम डोसेज लेवल पर देखा गया. इसके साथ सभी डोसेज लेवल पर मरीजों में अस्पताल में भर्ती होने और इमरजेंसी मेडिकल केयर का कम रेट देखा गया.

अमेरिका में Cedars-Sinai मेडिकल सेंटर से Peter Chen ने कहा कि उनके लिए सबसे ज्यादा बड़ी खोज हॉस्पिटलाइजेशन में कमी आना था. Chen ने कहा कि इस जैसी मोनोक्लोनल एंटीबॉडी में बहुत से मरीजों में कोविड-19 की तीव्रता कम करने की क्षमता है. जिससे ज्यादा लोग घर पर रिकवर हो सकते हैं. शोधकर्ताओं के मुताबिक, मोनोक्लोनल एंटीबॉडी खुद को वायरस में अटैच करके और इसे आगे बढ़ने से रोकती है. उन्होंने कहा कि LY-CoV555 नोवल कोरोना वायरस पर एक प्रोटीन से जुड़ जाती है जिसे स्पाइक प्रोटीन कहते हैं. इससे वायरस को मानव के सेल में घुसने में मदद मिलती है.

वैक्सीन डिप्लोमेसी में भारत की बड़ी जीत! चीन को नकार बांग्लादेश ने भारतीय कंपनी के साथ किया करार

इम्यून सिस्टम को मिलता है लड़ने का समय

वैज्ञानिकों ने कहा कि एंटीबॉडी इसके आगे बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा करती है जिससे मरीज का इम्यून सिस्टम समय पर वापसी कर पाता है. Chen ने कहा कि हम जो कर रहे हैं, वह वायरस को शुरिआत में बहुत ज्यादा नुकसान करने से रोकना है. इसके आगे उन्होंने कहा कि वे मरीजों का समय ले रहे हैं, जिससे उनका शरीर वायरस से लड़ने के लिए अपनी इम्युनिटी को विकसित करना शुरू करेगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. कोविड-19: एंटीबॉडी थैरेपी से कम हो सकता है वायरस का असर, स्टडी में दावा

Go to Top