मुख्य समाचार:

कोरोनावायरस की वैक्सीन में अब कितनी देर! ये 2 कंपनियां रेस में सबसे आगे

हर कोई इस इंतजार में है कि कब कोरोनावायरस की वैक्सीन बनेगी और कब इस महामारी से बचाव मिलेगा.

Published: June 29, 2020 1:21 PM
Coronavirus vaccine status, WHO says Covid-19 vaccine candidates developed by Oxford University-AstraZeneca and Moderna Inc as the front-runnersदुनियाभर में कोविड19 के मामले 1 करोड़ के पार हो चुके हैं. Image: Reuters

COVID-19 Vaccine: दुनियाभर में कोविड-19 के मामले 1 करोड़ के पार हो चुके हैं. हर कोई इस इंतजार में है कि कब कोरोनावायरस की वैक्सीन बनेगी और कब इस महामारी से बचाव मिलेगा. कई देशों में कोविड-19 की वैक्सीन तैयार करने की पुरजोर कोशिश चल रही है. पूरी दुनिया में 200 से अधिक संभावित वैक्सीन तैयार हो रही हैं. इनमें से 15 क्लीनिकल ट्रायल में पहुंच चुकी हैं. कोरोनावायरस की वैक्सीन बनाने की रेस में सबसे आगे एस्ट्राजेनेका AstraZeneca है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की चीफ साइंटिस्ट सौम्या स्वामीनाथन का कहना है कि AstraZeneca की एक्सपेरिमेंटल कोविड19 वैक्सीन सबसे आगे चल रही है. इस वैक्सीन को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स ने विकसित किया है. AstraZeneca ने इस वैक्सीन के लार्ज स्केल, मिड स्टेज ह्यूमन ट्रायल शुरू कर दिए हैं. इस सप्ताह AstraZeneca ने इस वैक्सीन के लिए 10वीं सप्लाई और मैन्युफक्चरिंग डील की.

सौम्या स्वामीनाथन ने AstraZeneca की वैक्सीन को लेकर कहा है, ‘वह जिस स्टेज पर हैं और जितने अडवांस्ड हैं, मुझे लगता है वे सबसे आगे हैं.’ ऑक्‍सफोर्ड और AstraZeneca Plc. की वैक्‍सीन AZD1222 (पूर्व नाम ChAdOx1 nCov-19) क्लिनिकल ट्रायल के फाइनल स्‍टेज में है. इस स्टेज में पहुंचने वाली दुनिया की इस पहली वैक्‍सीन को अब 10,260 लोगों को दिया जाएगा. इसका ट्रायल ब्रिटेन, साउथ अफ्रीका और ब्राजील में भी हो रहा है.

हाल ही में AstraZeneca (AZN.L) के सीईओ Pascal Soriot ने कहा था कि कंपनी की संभावित कोरोनावायरस वैक्सीन एक साल तक COVID-19 से बचाव कर सकती है. अगर सब कुछ ठीक रहा तो क्लीनिकल ट्रायल्स का परिणाम अगस्त/सितंबर में आ जाएगा और अक्टूबर से डिलीवरी शुरू हो जाएगी.

Moderna भी नहीं पीछे

स्वामीनाथन ने आगे कहा कि Moderna की संभावित कोविड19 वैक्सीन भी AstraZeneca की वैक्सीन से बहुत पीछे नहीं है. हमें पता है कि Moderna की वैक्सीन भी तीसरे फेज के क्लिनिकल ट्रायल में पहुंचने वाली है, शायद जुलाई में, इसलिए वे भी ज्यादा पीछे नहीं हैं.’ हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि अगर यह देखा जाए कि वे अपने ट्रायल कहां प्लान कर रहे हैं और कहां करेंगे, तो AstraZeneca का ग्लोबल स्कोप ज्यादा है.’

Moderna Inc, Catalent Inc के साथ मिलकर 2020 की तीसरी तिमाही तक अपनी वैक्सीन mRNA-1273 की 10 करोड़ डोज बनाने की कोशिश में है. Catalent वैक्सीन की पैकेजिंग, लेबलिंग, स्टोरेज और डिस्ट्रिब्यूशन देखेगी. Moderna जुलाई में 30 हजार लोगों पर फाइनल स्टेज ट्रायल के लिए तैयार है और इस साल नवंबर में इसके डेटा के आने की उम्मीद में है.

Sanofi-GSK

फ्रांस की फार्मास्युटिकल कंपनी Sanofi ने अपनी वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल्स दिसंबर की जगह सितंबर में करने की तैयारी शुरू कर दी है. Sanofi ने GSK के साथ मिलकर सभावित वैक्सीन तैयार की है. कंपनी का दावा है कि वह कई वैक्सीन कैंडिडेट्स पर काम कर रही है और इस साल की चौथी तिमाही तक इंसानों पर ट्रायल शुरू कर देगी. Sanofi को उम्मीद है कि वह 2020 के आखिर तक कोविड19 की संभावित वैक्सीन के 10 करोड़ डोज तैयार कर लेगी और 2021 में उसके पास एडिशनल 1 अरब डोज होंगे. Sanofi ने यह भी कहा है कि वह अमेरिका की स्टार्टअप Translate Bio के साथ वैक्सीन डेवलपमेंट में अपने विस्तार के लिए 42.5 करोड़ डॉलर का निवेश भी करेगी.

थाइलैंड में 7 वैक्सीन पर चल रहा काम

थाइलैंड में सात COVID-19 वैक्सीन पर काम चल रहा है. अलग-अलग तरीकों से वैक्सीन बनाने की कोशिश में लगे थाइलैंड का कहना है कि उसकी एक वैक्सीन कैंडिडेट का इंसानों पर ट्रायल अक्टूबर में शुरू हो सकता है. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार, सैन डिएगो और वैंकुवर में तुरंत लगभग 10000 वैक्सीन डोज बनाकर ह्यूमन ट्रायल्स के लिए थाइलैंड भेजने की योजना है.

इसके अलावा कोविड19 की वैक्सीन को लेकर WHO Sinovac समेत कई चाइनीज मैन्युफैक्चरर्स और कई भारतीय मैन्युफैक्चरर्स के साथ भी बातचीत कर रहा है.

Input: Reuters

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. कोरोनावायरस की वैक्सीन में अब कितनी देर! ये 2 कंपनियां रेस में सबसे आगे

Go to Top