मुख्य समाचार:

चीन के सामने नया संकट, कर्ज बढ़कर 2580 अरब डॉलर हुआ

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की एक खबर में वित्त मंत्रालय के हवाले से कहा गया है कि चीन का स्थानीय सरकारी कर्ज अगस्त के आखिर में 17,660 अरब युआन (2,580 अरब डॉलर) रहा.

September 24, 2018 11:16 AM
China debt, China new Crisis, China debt GDP ratio, India china relation, China debt Crisisसमाचार एजेंसी सिन्हुआ की एक खबर में वित्त मंत्रालय के हवाले से कहा गया है कि चीन का स्थानीय सरकारी कर्ज अगस्त के आखिर में 17,660 अरब युआन (2,580 अरब डॉलर) रहा. (Reuters)

चीन का बढ़ता कर्ज अब 2,580 अरब डॉलर के आंकड़े तक पहुंच गया है. देश की आर्थिक वृद्धि की रफ्तार सुस्त होने के संदर्भ में इसे बड़ी चिंता के तौर पर देखा जा रहा है. देश की शीर्ष विधायिका ने तय किया है कि स्थानीय सरकार के कर्ज की अधिकतम सीमा 21,000 अरब युआन होनी चाहिए.

अर्थशास्त्री और रेग्युलेटर काफी चिंतित

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी सिन्हुआ की एक खबर में वित्त मंत्रालय के हवाले से कहा गया है कि चीन का स्थानीय सरकारी कर्ज अगस्त के आखिर में 17,660 अरब युआन (2,580 अरब डॉलर) रहा, जो आधिकारिक सीमा के नीचे ही है. स्थानीय सरकारी कर्जे में हो रही वृद्धि से अर्थशास्त्री और रेग्युलेटर काफी चिंतित हैं.

सरकारी कर्ज GDP का 36.2 फीसदी

हालांकि देश के पिछले साल का कुल सरकारी कर्ज जीडीपी का 36.2 फीसदी था, जो सबसे आधुनिक अर्थव्यवस्थाओं के स्तर से कम है. चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग वित्तीय खतरे को कम करने के लिए स्थानीय सरकार पर कर्ज के स्तर में कमी लाने के लिए दबाव बना रहे हैं लेकिन उनमें से कई अपनी आदतों की वजह से अब तक इससे नहीं उबर पाए हैं. विश्व की दूसरी सबसे बड़ी चीन की अर्थव्यवस्था की गति धीमी पड़ने को लेकर चिंता प्रकट की जा रही है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. चीन के सामने नया संकट, कर्ज बढ़कर 2580 अरब डॉलर हुआ

Go to Top