मुख्य समाचार:

COVID-19: क्या मास्क पहनने से ऑक्सीजन लेवल कम हो जाता है? हेल्थ एक्सपर्ट ने बताई सच्चाई

कोविड19 (COVID-19) से बचने के लिए मास्क पहनना आवश्यक है. लेकिन मास्क के कारण स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव को लेकर कुछ बातें भी फैल रही हैं.

Updated: Jul 08, 2020 1:53 PM
Can wearing masks lower oxygen levels in body, know what health experts sayकोविड19 (COVID-19) से बचने के लिए मास्क पहनना आवश्यक है.

कोविड19 (COVID-19) से बचने के लिए मास्क पहनना आवश्यक है. लेकिन मास्क के कारण स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव को लेकर कुछ बातें भी फैल रही हैं. कुछ लोगों का मानना है कि मास्क पहनने से शरीर में ऑक्सीजन लेवल काफी कम हो जाता है. वहीं कुछ लोगों का कहना है कि मास्क पहने रहने से पसीना आने से बैक्टीरियल इन्फेक्शन होने का खतरा है या फिर इम्यून सिस्टम कमजोर हो सकता है.

लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट इन सब से इत्तेफाक नहीं रखते. उनका कहना है कि मास्क पहनने से स्वास्थ्य पर किसी प्रकार का दुष्प्रभाव पड़ने की संभावना नहीं है. सीएनबीसी मेक इट में इन्हीं सब अफवाहों और एक्सपर्ट द्वारा बताए गए सच को लेकर एक रिपोर्ट पब्लिश हुई है. आइए जानते हैं क्या है इस रिपोर्ट में…

ऑक्सीजन लेवल घटने का सच

मास्क पहनने से शरीर में ऑक्सीजन लेवल घटता है या नहीं, इसे लेकर अमेरिका के साउथ कोरोलिना की एक डॉक्टर मेघन हॉल ने खुद पर एक टेस्ट किया. उन्होंने 4 स्थितियों में अपने ऑक्सीजन सैचुरेशन और हार्ट रेट को मॉनिटर किया. पहली बार ​मास्क के बिना, दूसरी बार सर्जिकल मास्क के साथ, तीसरी बार एन95 मास्क के साथ और चौथी बार एन95 और सर्जिकल मास्क दोनों के साथ. चारों बार टेस्टिंग 5-5 मिनट के लिए की गई. इस टेस्ट में डॉक्टर हॉल ने पाया कि उनके ऑक्सीजन सैचुरेशन या हार्ट रेट में मास्क पहनने पर कोई बड़ा बदलाव नहीं आया. उनका कहना है कि मास्क पहनना कुछ लोगों के लिए असुविधाजनक हो सकता है लेकिन सांस लेने में कोई परेशानी नहीं होती.

मास्क पहनना सुरक्षित है और कोविड19 से बचने का अच्छा तरीका है. मास्क हवा को फिल्टर कर देता है. एक अन्य एक्सपर्ट का कहना है कि सामान्य, स्वस्थ लोग मास्क पहनकर कुछ एनर्जेटिक काम भी कर सकते हैं. ग्रैंड रैपिड्स, मिशीगन के स्पेक्ट्रम हेल्थ में इन्फेक्शियस डिसीज के स्पेशियलिस्ट डॉ. लियाम सुलिवान का कहना है कि अगर मास्क पहनना खतरनाक होता तो नर्स और डॉक्टरों के बीमार पड़ने के कई मामले सामने आ गए होते. वे लोग तो ऑक्सीजन की कमी या कार्बन डाई ऑक्साइड (CO2) की अधिकता से बेहोश नहीं हुए.

एक अन्य एक्सपर्ट का कहना है कि साइटिंफिक स्टडी भी यही कहती है कि सर्जिकल मास्क पहनने से ऑक्सीजन या CO2 के लेवल में कोई अधिक फर्क नहीं पड़ता. हां ये सच है कि मास्क पहनने पर सांस लेने के लिए थोड़ा एफर्ट लगता है लेकिन ऐसा इसलिए क्योंकि मास्क हवा को फिल्टर कर अंदर भेजता है.

हवा से भी फैल रहा है कोरोना वायरस? वैज्ञानिकों ने कहा ‘Yes’; WHO फिर सवालों में

बैक्टीरियल इन्फेक्शन और इम्यून सिस्टम को खतरे का सच

एक्सपर्ट का कहना है कि गर्मी में मास्क पहनने से पसीना आना स्वाभाविक है लेकिन इससे बैक्टीरियल इन्फेक्शन होने का कोई प्रमाण नहीं है. अगर मास्क कपड़े का है तो इसे धो सकते हैं. अगर मास्क सर्जिकल है तो नया इस्तेमाल कर सकते हैं. एक्सपर्ट का यह भी कहना है कि मास्क पहनने से इम्यून सिस्टम को खतरा होने वाली बात बकवास है. अगर कोई पूरा दिन मास्क लगाए रहे तो भी उसका इम्यून सिस्टम कमजोर होने वाला नहीं है.

वास्तव में लोग क्यों कतरा रहे मास्क से?

लोगों के मास्क न पहनने के पीछे सर्वाधिक आम कारण मनौवैज्ञानिक कारण हैं. एक्सपर्ट का कहना है कि मास्क पहनना कई लोगों के लिए असुविधाजनक है. कोराना आने से पहले सभी खुलकर जी रहे थे. ऐसे में अब मास्क पहने रहना कई लोगों के लिए मुश्किल है क्योंकि यह अभी आदत में नहीं है.

नोट: सीएनबीसी के अनुसार, यह आर्टिकल ओरिजिनली ‘TODAY’ पर आया था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. COVID-19: क्या मास्क पहनने से ऑक्सीजन लेवल कम हो जाता है? हेल्थ एक्सपर्ट ने बताई सच्चाई

Go to Top