मुख्य समाचार:
  1. Alibaba के हेड Jack Ma के एक बयान से चीन में छिड़ गया बवाल, जानिए क्या है पूरा मामला

Alibaba के हेड Jack Ma के एक बयान से चीन में छिड़ गया बवाल, जानिए क्या है पूरा मामला

जैक मा चीन के सबसे अमीर आदमी हैं.

April 20, 2019 8:49 AM
Alibaba head Jack Ma's remarks spark debate over China working hoursImage: Reuters

चीन की ऑनलाइन बाजार चलाने वाली कंपनी अलीबाबा के प्रमुख जैक मा (Jack Ma) ने युवकों को रोज ज्यादा घंटे काम करने की सलाह क्या दे दी, देश में काम और आराम के बीच तालमेल को लेकर बहस छिड़ गई है. जैक मा चीन के सबसे अमीर आदमी हैं.

उन्होंने पिछले सप्ताह कहा कि युवाओं को धन कमाना है तो उन्हें हर सप्ताह छह दिन 12-12 घंटे काम करना चाहिए. एक तरफ उनके इस बयान की आलोचना हो रही है तो चीन में आर्थिक वृद्धि दर में गिरावट के इस दौर में कई लोग उनके पक्ष में भी बोल रहे हैं.

चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के मुख-पत्र पीपल्स डेली ने एक सम्पादकीय टिप्पणी में लिखा कि ‘ओवरटाइम अनिवार्य’ करने की बात में प्रबंधकों का घमंड झलकता है. अखबार ने इस तरह के सुझाव को अव्यावहारिक और अनुचित बताया है.

लंबी ड्यूटी के चलते ही जन्म दर में गिरावट

चीन में ऑनलाइन कार्य संबंधी शिकायतों में एक बड़ी शिकायत यह भी है कि लंबी ड्यूटी के चलते ही देश में जन्म दर में गिरावट आई है. जैक मा ने आलोचनाओं के जवाब में लिखा कि काम में आनंद होना चाहिए, इसमें अध्ययन, चिंतन और आत्म-सुधार का समय भी शामिल होना चाहिए.

Jack Ma का क्या था बयान

चीन के सबसे बड़े ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म अलीबाबा के फाउंडर और चीन के सबसे अमीर शख्स जैक मा ने 6 वर्किंग डे और एक दिन में 8-8.5 घंटे की बजाय 12 घंटे काम करने की वकालत कर एक नई बहस छेड़ दिया है. 996 Work Culture: अलीबाबा के जैक मा ने हर दिन 12 घंटे काम के लिए कहा, सोशल साइट्स पर तीखी आलोचना

अलीबाबा की इंटरनल मीटिंग में अलीबाब ने अपने कर्मियों से कहा कि कंपनी में टिके रहने के लिए हफ्ते में 6 दिनों तक हर दिन 12 घंटे के हिसाब से काम करना होगा. जैक मा ने कहा कि उन्हें ऐसे कर्मियों की जरूरत नहीं है जो सिर्फ 8 घंटे की शिफ्ट में ही काम करना चाहते हैं.

Go to Top