सर्वाधिक पढ़ी गईं

मामल्लापुरम में क्या है खास? मोदी-शिनपिंग की हो रही है दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता

मामल्लापुरम (महाबलीपुरम) मंदिरों का शहर है.

Updated: Oct 11, 2019 12:25 PM
pm modi xi mamallapuram, Chinese President Xi Jinping, Prime Minister Narendra Modi, Mamallapuram, Xi Jinping second informal meeting with PM Modi, mamallapuram beach, mamallapuram upsc, mamallapuram hotels, mamallapuram stone sculptures, mamallapuram caves, mamallapuram monumentsमामल्लापुरम (महाबलीपुरम) मंदिरों का शहर है. (ANI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता शुक्रवार से शुरू हो रही है. इस बार इस शिखर वार्ता की सबसे खास बात उस जगह को लेकर है, जो दुनिया के दो दिग्गज नेता मिल रहे हैं. भारत और चीन के बीच यह अनौपचारिक शिखर वार्ता दिल्ली, मुंबई जैसे महानगरों की बजाय तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से करीब 60 किमी दूर मामल्लापुरम (महाबलीपुरम) में हो रही है. इस दौरान सीमा विवाद, व्यापार, 5जी, कश्मीर, आतंकवाद जैसे मसलों पर बातचीत की संभावना है.

जिनपिंग की इस दो दिन की यात्रा के दौरान मोदी के साथ उनकी करीब चार बार मुलाकात होगी. दोनों नेता 1000 साल से अधिक पुराने चार स्मारकों का अवलोकन करेंगे.

क्यों खास है मामल्लापुरम?

जिनपिंग के स्वागत के लिए तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के पास मामल्लापुरम (महाबलीपुरम) में तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. मंदिरों का शहर महाबलीपुरम चेन्नई से करीब 60 किलोमीटर दूर बंगाल की खाड़ी के तट पर स्थित है. पहले इस शहर को मामल्लापुरम कहा जाता था. तमिलनाडु का यह प्राचीन शहर अपने भव्य मंदिरों, स्थापत्य और सागर-तटों के लिए बहुत प्रसिद्ध है. सातवीं शताब्दी में यह शहर पल्लव राजाओं की राजधानी था. द्रविड वास्तुकला के नजरिए से यह शहर प्रमुख स्थान है. यहां पर पत्थरों को काटकर मंदिर बनाया गया.

मामल्लापुरम के मुख्य आकर्षण में अर्जुन्स पेनेन्स, शोर टेम्पल, रथ, कृष्ण मंडपम, गुफाएं, क्रोकोडाइल बैंक आदि शामिल हैं.

मामल्लापुरम का चीन के साथ भी काफी पुराना रिश्ता है. 18वीं सदी में यही पर तत्कालीन पल्लव राजा और चीन के शासक के बीच सुरक्षा समझौता हुआ था. पीएम मोदी के लिए ममल्लापुरम राजनीतिक लिहाज से और भी अहम है क्योंकि यह तमिलनाडु में बीजेपी की योजनाओं के लिए फिट बैठता है.

जिनपिंग को डिनर देंगे मोदी

शी जिनपिंग शुक्रवार दोपहर करीब 2.10 बजे चेन्नई एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे. वहां पीएम मोदी उनकी आगवानी करेंगे. इस दौरान तमिलनाडु के सीएम पलानीस्वामी भी मौजूद रहेंगे. शी एयरपोर्ट से आईटीसी ग्रांड चोला होटल जाएंगे.

इसके बाद शी महाबलीपुरम के लिए रवाना होंगे. वहां मोदी और शी चार स्मारकों का अवलोकन करेंगे. इसके बाद पीएम मोदी शी को डिनर देंगे. शनिवार को दोनों नेताओं के बीच अनौपचारिक वार्ता होगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. मामल्लापुरम में क्या है खास? मोदी-शिनपिंग की हो रही है दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता

Go to Top