मुख्य समाचार:
  1. पारा@51°C! देश के आधे हिस्सों में गर्म हवाओं का कहर, क्या पूर्वी हवाएं देंगी राहत!

पारा@51°C! देश के आधे हिस्सों में गर्म हवाओं का कहर, क्या पूर्वी हवाएं देंगी राहत!

पूर्वी हवाएं गर्मी से दे सकती हैं हल्की राहत

June 3, 2019 10:42 AM
Weather, Heat Wave, Rainfall, Weather Update India, IMD, Skymet, गर्मी, North India, Delhi, Rajasthan, MP, UP, Vidarbh, बारिश, लू, गर्म हवाएंउत्तर भारत सहित देश के करीब आधे हिस्से में भीषण गर्मी

समूचे उत्तर भारत सहित देश के करीब आधे हिस्से में भीषण गर्मी, लू और तपिश के चलते आम जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. राजस्थान के कुछ इलाकों में तो पारा करीब 51 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया है. फिलहाल राजस्थान, दिल्ली, यूपी, बिहार, विदर्भ, झारखंड, मध्य प्रदेश, तेलंगाना, हरियाणा और पंजाब में हालत ज्यादा खराब है. भारत मौसम विभाग के अनुसार उत्तर भारत में पाकिस्तान से आ रही गर्म पश्चिमी हवाओं के कारण ये हालात बने हैं. हालांकि बंगाल की खाड़ी से चली पूर्वी हवाएं जल्द राहत लेकर पहुंच सकती हैं.

पाकिस्तान से आ रही हवाओं ने बिगाड़ा मिजाज

मौसम विभाग के उत्तरी क्षेत्र के प्रमुख वैज्ञानिक डॉ. कुलदीप श्रीवास्तव के अनुसार पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आने वाली गर्म पश्चिमी हवाएं उत्तर भारत में राजस्थान, उत्तर प्रदेश, दिल्ली सहित अन्य इलाकों में गर्मी का प्रकोप बढ़ा रही हैं. जिसका असर लू और भीषण गर्मी के रूप में इन दिनों दिख रहा है. इन दिनों भारतीय उपमहाद्वीप में समूचे उत्तरी इलाके में बारिश का पूरी तरह से अभाव है, सूर्य की सीधी किरणें पड़ रही हैं और गर्म पश्चिमी हवाओं के कारण ये इलाके भीषण गर्मी के प्रकोप में हैं.

2 दिन बाद हल्की राहत

मौसम विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटों में बंगाल की खाड़ी से पूर्वी हवाओं का दौर शुरु हो गया है. ये हवाएं मानसून के साथ नमी लाती हैं. हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश सहित आसपास के इलाकों में इनका असर 2 दिन बाद दिखने लगेगा. इससे 47 डिग्री के अधिकतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आएगी. हालांकि इन नम हवाओं का असर सीमित इलाकों में ही होने के कारण समूचे उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में गर्मी से बहुत राहत मिलने की उम्मीद नहीं की जानी चाहिए.

पूर्वोंत्तर राज्यों में बारिश की संभावना

डॉ. कुलदीप श्रीवास्तव के इनुसार एक तरफ पूरा उत्तर भारत भीषण गर्मी की चपेट में है वहीं, पूर्वोत्तर राज्यों में भारी बारिश का खतरा है. यह पूरी तरह सामान्य स्थिति है, क्योंकि देश में मई के आखिर में मानसूनी हवाएं पूर्वी तट से ही प्रवेश करती हैं. इसलिये पूर्वोत्तर इलाकों में बारिश का दौर शुरु हो जाता है. उन्होंने बताया कि इस दौरान 3 जून को हरियाणा और दिल्ली के आसपास, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कुछ इलाकों में बूंदाबांदी के कारण गर्मी से मामूली राहत मिलने की उम्मीद रहेगी.

24 घंटों में देश के सबसे गर्म स्थान

source: www.skymetweather.com

(एजेंसी से भी इनपुट)

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop