सर्वाधिक पढ़ी गईं

इन्वेस्टर्स को संसाधन, सुविधाएं और सुरक्षा देने के लिए यूपी तैयार, विदेशी निवेशकों से मिले 500 करोड़ से ज्यादा के प्रस्ताव

विदेशी निवेशक राज्य में बेखौफ होकर प्रभावी तरीके से कारोबार कर सकते हैं.

December 29, 2020 9:45 PM
Uttar pradesh government is ready to provide resources, facilities and security to investors, UP gov received 500 cr rupee investment proposal from foreign investorsImage: PTI

उत्तर प्रदेश सरकार का कहना है कि वह राज्य में निवेश करने वालों को संसाधन, सुविधाएं और सुरक्षा देने के लिए तैयार है. विदेशी निवेशक राज्य में बेखौफ होकर प्रभावी तरीके से कारोबार कर सकते हैं. ये बातें उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने सोमवार रात प्रवासी भारतीयों की प्रतिष्ठित संस्था पीआईओ चैंबर ऑफ कॉमर्स के एक ग्लोबल वेबिनार में कहीं. वह कनाडा, अमेरिका, यूके, यूरोप, अफ्रीका, सिंगापुर व ऑस्ट्रेलिया के निवेशकों को संबोधित कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की वजह से विश्व में भारत का सम्मान बढ़ा है. इस कारण विदेशी निवेशक उत्तर प्रदेश में भी कारोबार के लिए आकर्षित हो रहे हैं. आगे कहा कि प्रदेश सरकार निवेशकों को संसाधन, सुविधाएं और सुरक्षा देने के लिए तैयार हैं. योगी सरकार की पारदर्शी नीतियों के तहत वे बेखौफ होकर उत्तर प्रदेश में प्रभावी तरीके से कारोबार कर सकते हैं.

सैमसंग कंपनी का उदाहरण देते हुए मंत्री महाना ने बताया कि हमने सभी जरूरी अनुमति देखकर रिकॉर्ड समय में काम पूरा करवाया, जिसकी वजह से नोएडा स्थित सैमसंग की फैक्ट्री दुनिया में मोबाइल बनाने की सबसे बड़ी फैक्ट्री है. इस फैक्ट्री में 50 लाख मोबाइल का उत्पादन हर महीने होता है. पीआईओ चैंबर ऑफ कॉमर्स 150 से ज्यादा देशों में मौजूद है.

मिले 500 करोड़ रु के निवेश प्रस्ताव

पीआईओ चैंबर ऑफ कॉमर्स के ग्लोबल वेबिनार में उद्योग मंत्री महाना को उत्तर प्रदेश में निवेश के अनेक प्रस्ताव भी प्राप्त हुए. 96 वर्ष पहले स्थापित प्रतिष्ठित सिंगापुर इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स के भारतीय मूल के सीईओ पॉल जॉनसन ने उत्तर प्रदेश के खाद्य संस्करण क्षेत्र में निवेश की रुचि दिखाई.

इंडियन एसोसिएशन ऑफ साउथ अफ्रीका के प्रेसिडेंट अमित मोरे ने बताया कि साउथ अफ्रीका में भारतीय मूल के करीब 15 लाख लोग हैं, जिनमें से 60 फीसदी तमिल व बाकी तेलुगु, हिन्दी व गुजराती भाषी हैं. इनमें से 50 हजार लोग हर वर्ष भारत आते हैं. स्वाभाविक रूप से भारत की सांस्कृतिक राजधानी वाराणसी से सभी का गहरा लगाव है. विदेशों में हॉलिडे रिजॉर्ट की तर्ज पर उन्होने वाराणसी में स्प्रिचुअल हॉलिडे होम बनाने का प्रस्ताव दिया. उन्होने कहा उत्तर प्रदेश सरकार सहयोग करे तो दक्षिण अफ्रीका के समृद्ध प्रवासी भारतीय पहले चरण में ही सरलता से ढाई सौ करोड़ से ज्यादा का निवेश वाराणसी में कर सकते हैं.

शिक्षा, टेक्नोलॉजी के लिए भी निवेश प्रस्ताव

वैंकूवर कनाडा के चार्टर्ड अकाउंटेंट विजय गुप्ता ने उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में शिक्षा के क्षेत्र में निवेश का प्रस्ताव दिया. यूरोप की सेजल कोठारी व जूली देसाई ने उत्तर प्रदेश में टेक्नोलॉजी हब बनाने का प्रस्ताव दिया. भारतीय मूल के सबसे बड़े अफ्रीकी किसान केवल बोडा सिंह ने उत्तर प्रदेश में कृषि क्षेत्र में निवेश में रुचि दिखाई.

पीआईओ चैंबर ऑफ कॉमर्स उत्तर प्रदेश संयोजक मनीष खेमका ने प्रवासी भारतीयों को उत्तर प्रदेश में निवेश के लिए आमंत्रित करते हुए कहा कि योगी सरकार ने चार लाख करोड़ रुपये से ज्यादा के एमओयू साइन किये थे. इसमें से करीब दो लाख करोड़ रुपये के निवेश प्रस्तावों पर काम शुरू भी हो चुका है. अपराधियों के प्रति योगी सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति और ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में उत्तर प्रदेश का बेहतरीन प्रदर्शन इसका प्रमुख कारण हैं. हमारे समृद्ध प्रवासी भारतीय इन अनुकूल परिस्थितियों का लाभ उठा कर न केवल अपना बल्कि देश का विकास भी कर सकते हैं.

ये लोग रहे मौजूद

वेबिनार में कनाडा स्थित ब्रिटिश कोलंबिया इंडिया नेटवर्क के चेयरमैन विवेक सावकुर, निवेश से सम्बंधित केंद्र सरकार की संस्था इन्वेस्ट इंडिया के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ आनंद समेत नोएडा अथॉरिटी के चेयरमैन आलोक टंडन, औद्योगिक विकास विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी आलोक कुमार व पीआईओ चैंबर के पदाधिकारी मनीष खेमका, अनूप गुप्ता, मुनीश गुप्ता व अभय अग्रवाल समेत अनेक प्रतिष्ठित प्रवासी भारतीय मौजूद थे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. इन्वेस्टर्स को संसाधन, सुविधाएं और सुरक्षा देने के लिए यूपी तैयार, विदेशी निवेशकों से मिले 500 करोड़ से ज्यादा के प्रस्ताव

Go to Top