सर्वाधिक पढ़ी गईं

नीरव मोदी को UK कोर्ट से बड़ा झटका, नई जमानत याचिका भी खारिज

ब्रिटेन की अदालत ने भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की नई जमानत याचिका बुधवार को खारिज कर दी.

November 6, 2019 11:17 PM

UK court rejects Nirav Modi's new bail application

ब्रिटेन की अदालत ने भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) की नई जमानत याचिका बुधवार को खारिज कर दी. इससे नीरव मोदी को तगड़ा झटका लगा है.नीरव ने सिक्योरिटी के तौर पर 40 लाख पाउंड की भारी धनराशि का भुगतान करने के साथ ही संदिग्ध आतंकवादियों के समान निगरानी में रखे जाने की पेशकश की थी. लेकिन अदालत ने उसकी दलील को अनसुना कर दिया.

नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक (PNB) से जुड़े दो अरब डॉलर के धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में भारत को सौंपे जाने के खिलाफ मुकदमा लड़ रहा है. जमानत के लिए चौथी कोशिश के तहत नीरव ने वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत में जज एम्मा अर्बथनॉट के सामने याचिका दी.

नीरव पर नहीं है जज को विश्वास

सुनवाई के बाद नीरव मोदी को वापस वैंड्सवर्थ जेल भेज दिया गया. अब चार दिसंबर को वीडियो लिंक के जरिए इसी अदालत में उसकी पेशी होगी. न्यायाधीश एम्मा अर्बथनॉट ने कहा कि अतीत से अंदाजा लगाया जा सकता है कि भविष्य में क्या हो सकता है. वह अब भी नहीं मानती हैं कि नीरव सबूतों से छेड़छाड़ नहीं करेगा और मई 2020 में मुकदमे के दौरान अदालत के सामने आत्मसमर्पण कर देगा.

Jaypee इंफ्रा लि. की दिवाला समाधान प्रक्रिया 90 दिन में हो पूरी, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश

मीडिया को खबरें लीक करने की भी आलोचना

जज ने कहा कि नीरव ने खुद माना है कि वह अवसाद में है और यह ऐसी वजह नहीं है कि वह जमानत से इंकार के पुराने आदेश को बदल दें. जज ने नीरव मोदी की नई जमानत याचिका के बारे में पिछले महीने भारतीय मीडिया को खबरें लीक करने की भी आलोचना की. खबरों में गोपनीय चिकित्सा रिपोर्ट के जरिए उसकी मानसिक स्थिति के बारे में बताया गया था. जज ने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि डॉक्टरों की रिपोर्ट लीक हुई. ऐसा नहीं होना चाहिए. इससे अदालत के प्रति भरोसा घटेगा.

भारत सरकार की ओर से क्राउन प्रोसिक्यूशन सर्विस (सीपीएस) के लिए पेश जेम्स लेविस ने जोर दिया कि इस तरह की ‘लीक’ अफसोसजनक है, लेकिन यह भारत की ओर से नहीं हुआ. उन्होंने जमानत याचिका को इस आधार पर चुनौती दी कि पूर्व के तीन मौके की तरह इस बार भी परिस्थिति में कोई बदलाव नहीं हुआ है और नीरव का इरादा ब्रिटेन से भागने का है.

वैंड्सवर्थ जेल में है नीरव मोदी

नीरव के वकील हूगो कीथ ने पूर्व में 20 लाख पाउंड सिक्योरिटी की जगह 40 लाख पाउंड देने और इलेक्ट्रॉनिक टैगिंग के साथ लगातार निगरानी की पेशकश की. नीरव मोदी 19 मार्च को गिरफ्तारी के बाद दक्षिण-पश्चिम लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में है. भारत सरकार के अनुरोध पर स्कॉटलैंड यार्ड (लंदन पुलिस) ने प्रत्यर्पण वारंट की तामील करते हुए उसे गिरफ्तार किया था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. नीरव मोदी को UK कोर्ट से बड़ा झटका, नई जमानत याचिका भी खारिज

Go to Top