सर्वाधिक पढ़ी गईं

UGC ने यूनिवर्सिटी, कॉलेजों को दोबारा खोलने के लिए जारी की गाइडलाइंस, कंटेनमेंट जोन के स्टाफ और छात्रों को आने की इजाजत नहीं

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने गुरुवार को देशभर में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को दोबारा खोलने के लिए गाइडलाइंस जारी की हैं.

Updated: Nov 05, 2020 10:04 PM
UGC issues guidelines for reopening of schools and colleges amid covid 19विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने गुरुवार को देशभर में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को दोबारा खोलने के लिए गाइडलाइंस जारी की हैं.

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने गुरुवार को देशभर में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को दोबारा खोलने के लिए गाइडलाइंस जारी की हैं. ये कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए मार्च से बंद हैं. केंद्रीय विश्वविद्यालयों और दूसरे केंद्र से फंड वाले उच्च शैक्षणिक संस्थान के लिए, कैंपेस को दोबारा खोलने का फैसला वायस चांसलर और हेड पर छोड़ा गया है. हालांकि, गाइडलाइंस में कहा गया है कि राज्य विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के लिए, संबंधित राज्य सरकारें फैसाल लेंगी.

राज्य की यूनिवर्सिटी का फैसला वहां की सरकारों का होगा

गाइडलाइंस के मुताबिक, केंद्र द्वारा फंड किए जाने वाले उच्च शैक्षणिक संस्थानों के लिए हेड को फिजिकल क्लास को दोबारा खोलने की संभावना को लेकर खुद को संतुष्ट करना और उसके मुताबिक फैसला लेना होगा. दूसरे सभी संस्थानों जिसमें राज्य की यूनिवर्सिटी, प्राइवेट यूनिवर्सिटी और कॉलेज शामिल हैं, फिजिकल क्लास को खोलने का फैसला संबंधित राज्यों सरकार के फैसले के मुताबिक होगा.

यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को कैंपस को चरणबद्ध तरीके से खोलने की योजना बनाने के लिए कहा गया है जिसमें कोविड-19 नियमों जैसे सोशल डिस्टैंसिंग, फेस मास्क का इस्तेमाल और दूसरे सुरक्षा के उपायों का ध्यान रखा जाए. गाइडलाइंस में कहा गया है कि विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को खोलने की मंजूरी तभी मिलेगी अगर वे कंटेनमेंट जोन के बाहर हैं. इसके अलावा केंटेनमेंट जोन में रहने वाले छात्रों और परिवार को कॉलेज आने की इजाजत नहीं होगी.

पश्चिम बंगाल में 11 नवंबर से फिर चलेंगी सबअर्बन ट्रेनें, पर्याप्त सुरक्षा उपाय रहेंगे लागू

सभी रिसर्च प्रोग्राम के छात्र कर सकते हैं ज्वॉइन

आगे कहा गया है कि छात्रों और स्टाफ को उन क्षेत्रों में नहीं जाने का सुझाव होगा जो कंटेनमेंट जोन में आते हैं. यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की फैकल्टी, स्टाफ और छात्रों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने के लिए प्रोत्साहन दिया जाएगा. सभी रिसर्च प्रोग्राम और पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम के साइंस और टेक्नोलॉजी प्रोग्राम में पढ़ने वाले छात्र ज्वॉइन कर सकते हैं क्योंकि ऐसे छात्रों की संख्या कम है और फिजिकल डिस्टैंसिंग और रोकथाम के उपायों को आसानी से लागू किया जा सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. करियर
  3. UGC ने यूनिवर्सिटी, कॉलेजों को दोबारा खोलने के लिए जारी की गाइडलाइंस, कंटेनमेंट जोन के स्टाफ और छात्रों को आने की इजाजत नहीं
Tags:UGC

Go to Top