मुख्य समाचार:

इस साल मनेगी ‘हिंदुस्तानी दिवाली’! चीन को तगड़ा झटका देंगे ट्रेडर्स; जानिए क्या है प्लान

CAIT ने देश के 7 करोड़ व्यापारियों की तरफ से सरकारों द्वारा उठाए गए कदमों का पूरी तरह से समर्थन किया है.

Updated: Jun 26, 2020 6:36 PM
Hindustani Diwali, boycott chinese products, Traders, CAIT, Bhartiya Saamaan- Hamara Abhimaan, chinese goods, Prime Minister Shri Narendra Modiकैट ने व्यापारियों से कहा है कि चीनी वस्तुओं का स्टॉक 15 जुलाई तक बेच दें.

Hindustani Diwali, boycott chinese products: देश में इस साल में ‘हिंदुस्तानी दिवाली’ मनाई जाएगी और इस मुहिम से चीन को तगड़ा झटका देने की तैयारी है. दरअसल, कारोबारियों की संस्था कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने देश के व्यापारियों और लोगों को इस साल की दिवाली को बड़े पैमाने पर “हिन्दुस्तानी दिवाली” के रूप में मनाने का आव्हान किया है. कैट कहा है की सभी भारतवासी इस वर्ष की दिवाली में किसी भी चीनी सामान का उपयोग न करने का संकल्प लें. कैट का साफ तौर पर कहना है कि इस बार चीन से किसी भी तैयार माल का आयात नहीं होगा. साथ ही उसने व्यापारियों से कहा है कि चीनी वस्तुओं का स्टॉक 15 जुलाई तक निपटा दें. इसका मतलब की अगस्त से देश में कोई भी चीनी सामान नहीं बेचा जाएगा.

कैट ने यह भी कहा की चीन और चीनी वस्तुओं के विरोध में देश के व्यापारी बेहद मजबूती से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देश की सेनाओं के साथ खड़े हैं. ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके की चीनी सामान अथवा चीनी कंपनियों के साथ करार किसी भी तरह देश के व्यापार को और अधिक प्रदूषित न करें.

देश में बने दीये, मूर्तियों का हो इस्तेमाल

कैट ने कहा है कि इस वर्ष की दिवाली पर अपने देश की मिट्टी से बने दीये और मिट्टी की मूर्तियां, सजावटी सामान भारत में बिजली के बल्ब, झालर और अन्य भारतीय सामान का ही उपयोग पर किया जाएगा. इसी तरह राखी और जन्माष्टमी एवं अन्य त्यौहार भी केवल भारतीय वस्तुओं का उपयोग कर भारतीय संस्कृति के अनुरूप ही मनाए जाएंगे. कैट ने यह भी कहा की देश में कोई भी व्यापारी भारत में किसी भी चीनी सामान की बिक्री नहीं करेगा. कैट ने व्यापारियों से चीन से अपना माल अब आयात न करने का अनुरोध किया है. साथ ही कहा कि यदि किसी भी व्यापारी के पास चीनी सामान का स्टॉक है तो उन्हें ऐसे स्टॉक को 15 जुलाई तक बेच देना चाहिए.

सरकार के साथ 7 करोड़ व्यापारी

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल का कहना है कि भारतीय त्योहारों में से चीनी सामानों की घुसपैठ को रोकना जरूरी है. ऐसे समय में यह और जरूरी है जब चीन आक्रामक रूप से लद्दाख की सीमाओं पर अपनी सेना तैनात कर रहा है और भारत को घेरने के लिए पड़ोसी देश नेपाल में अपना अड्डा बनाने की कोशिश कर रहा है.

उन्होंने केंद्र सरकार और कई राज्य सरकारों की सराहना की और चीनी कंपनियों को जारी कई टेंडर रद्द करने पर सरकार के निर्णयों को ठीक ठहराया. कैट ने देश के 7 करोड़ व्यापारियों की ओर से सरकारों द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों का पूरी तरह से समर्थन किया है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. इस साल मनेगी ‘हिंदुस्तानी दिवाली’! चीन को तगड़ा झटका देंगे ट्रेडर्स; जानिए क्या है प्लान

Go to Top