सर्वाधिक पढ़ी गईं

रजनीकांत 31 दिसंबर को करेंगे राजनीतिक पार्टी का एलान, जनवरी में होगी लॉन्च

तमिल फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है. इसे अगले साल जनवरी में लांच किया जाएगा.

December 3, 2020 1:29 PM
south film superstar Rajinikanth announced to enter into politics and political party will be launched in JanuaryRajinikanth announced on December 3 that he would launch a political party in January 2021 to contest in the Assembly elections in Tamil Nadu.

तमिल फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है. इसे अगले साल जनवरी में लांच किया जाएगा. इसके संबंध में घोषणा 31 दिसंबर को की जाएगी. दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने ट्वीट कर अपने इस फैसले के बारे में जानकारी दी है. रजनीकांत की यह घोषणा करीब तीन बाद आई है, जब उन्होंने 31 दिसंबर 2017 को राजनीति में प्रवेश का एलान किया था.
रजनीकांत ने तीन साल पहले यह भी एलान किया था कि अगर सत्ता में आने के तीन साल के भीतर उन्होंने अपने वादे पूरे नहीं किए तो वह राजनीतिक पार्टी छोड़ देंगे.

कमल हसन के साथ आने के लग रहे थे कयास

रजनीकांत ने जब से राजनीति में प्रवेश की बात कही थी, तब से वह कई विकल्पों पर गौर कर रहे थे. जैसे किकिसी राष्ट्रीय पार्टी के सहयोग से राजनीति में शुरुआत करनी है या अकेले ही राज्य में विकल्प पेश करें. इसके अलावा एक और विकल्प पेश किया जा रहा था कि वे तमिल फिल्मों के एक और सुपरस्टार कमल हसन के साथ मिलकर प्रमुख तमिल पार्टियों डीएमके और एआईडीएमके के खिलाफ मजबूत राजनीतिक विकल्प पेश कर सकते हैं. भाजपा भी तमिल राजनीति में रजनीकांत के सहयोग के लिए लगातार कोशिशें कर रही थी.

98 की उम्र में भी कम नहीं हुई थी ‘मसालों के बादशाह’ की शोहरत, टॉप अमीरों में रहे शुमार

राजनीति से पहले भी रहा है नाता

ऐसा नहीं है कि दक्षिण भारतीय फिल्मों के महानायक रजनीकांत का प्रभाव पहली बार राजनीति में दिख रहा है. इससे पहले 1996 के तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव के दौरान उन्होंने कहा था कि अगर जयललिता की एआईडीएमके पार्टी दोबारा सत्ता में वापसी करती है तो इस राज्य को भगवान भी नहीं बचा सकता है. इसका प्रभाव यह हुआ कि तत्कालीन मुख्यमंत्री जयललिता खुद अपनी सीट हार गई और उनकी पार्टी को 216 सीटों के नुकसान के साथ महज चार सीटें मिलीं और राज्यमें 221 सीटों के साथ डीएमके के एम करुणानिधि की सरकार बनी. 2016 में जयललिता और 2018 में करुणानिधि के निधन के बाद तमिल राजनीति में एक शून्य सा बन चुका है. इसके बाद से ही लगातार रजनीकांत और कमल हसन के ऊपर लोगों की निगाहें बनी हुई हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. रजनीकांत 31 दिसंबर को करेंगे राजनीतिक पार्टी का एलान, जनवरी में होगी लॉन्च

Go to Top