सर्वाधिक पढ़ी गईं

शांतिपूर्ण तरीके से निपटा ‘चक्का जाम’, किसान नेता टिकैत ने सरकार को 2 अक्टूबर तक का दिया अल्टीमेटम

किसान यूनियन्स द्वारा आयोजित राष्ट्रव्यापी चक्का जाम शांतिपूर्ण तरीके से हुआ.

Updated: Feb 06, 2021 5:00 PM
Security upped at Delhi borders as farmers set to hold chakka jam on 6th feb against internet ban farm billsकेंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ तीन राज्यों को छोड़कर देश भर में 6 फरवरी को 'चक्का जाम' का आह्वान किया गया था.

किसानों के चक्का जाम प्रोटेस्ट के चलते गृह मंत्रालय ने आज सिंघू, गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर एरियाज में इंटरनेट सर्विसेज को आज 6 फरवरी की रात 12 बजे तक बंद कर रखा है. मंत्रालय के मुताबिक यह फैसला पब्लिक सेफ्टी को ध्यान में रखते हुए लिया गया. वहीं दूसरी तरफ भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) नेता राकेश टिकैत ने सरकार को 2 अक्टूबर तक केंद्रीय कृषि कानूनों को रद्द करने को कहा है. टिकैत ने कहा कि इसके बाद यूनियन आगे की रणनीति बनाएगी. टिकैत के मुताबिक किसान संघ दबाव में सरकार के साथ बातचीत नहीं कर सकती. किसान यूनियन्स द्वारा आयोजित राष्ट्रव्यापी चक्का जाम शांतिपूर्ण तरीके से हुआ. पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और कर्नाटक में सबसे अधिक प्रदर्शन हुए जबकि दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में ‘चक्का जाम’ के लिए पहले ही स्पष्ट कर दिया गया था कि इन तीनों राज्यों में प्रदर्शन नहीं होंगे.

केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में आज 6 फरवरी को किसानों द्वारा देश भर में ‘चक्का जाम’ कर प्रदर्शन किया जाएगा. इसे लेकर दिल्ली पुलिस ने राजधानी दिल्ली के सभी बॉर्डर प्वाइंट्स पर सुरक्षा बलों की तैनाती बढ़ा दी है. दिल्ली की सीमा पर पैरामैलिट्री फोर्सेज भी लगाई गई हैं ताकि किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटा जा सके. इसके अलावा लाल किला, जामा मस्जिद, जनपथ, केंद्रीय सचिवालय, खान मार्केट, नेहरू प्लेस के मेट्रो स्टेशन्स के एंट्री और एग्जिट गेट बंद रहेंगे.
यह प्रदर्शन देश भर में किया जाएगा लेकिन एक दिन पहले ही संयुक्त किसान मोर्चा ने स्पष्ट कर दिया कि दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में सड़कें नहीं बंद की जाएगी. इन तीनों राज्यों को छोड़कर देश भर के शेष राज्यों में किसान दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक शांतिपूर्ण तरीके से चक्का जाम करेंगे. इसके तहत राज्यों में नेशनल हाइवे और स्टेट हाइवे को ब्लॉक किया जाएगा.

लाल किला और आईटीओ पर भी सुरक्षा व्यवस्था तगड़ी

गणतंत्र दिवस को ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा के चलते दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था तगड़ी कर दी है. राजधानी के सभी बॉर्डर प्वाइंट्स के अलावा लाल किला और आईटीओ समेत राजधानी के कई अन्य स्थानों पर भी सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है. लाल किला और आईटीओ पर ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा में 500 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए थे और एक प्रदर्शनकारी की मौत हुई थी.

यह भी पढ़ें- Gold में 5 दिनों से लगातार गिरावट से हो रही उलझन! जानिए सोना खरीदने का सही समय

सोशल मीडिया पर भी रखी जा रही नजर

दिल्ली पुलिस किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए विरोध प्रदर्शन स्थलों पर ड्रोन कैमरे के जरिए कड़ी निगरानी कर रही है. इसके अलावा प्रोटेस्ट साइट्स पर मल्टीलेयर बैरिकेड्स, बार्ब्ड वायर्स और कीलें लगाई गई हैं. सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर भी नजर रखी जा रही है. सोमवार 1 फरवरी को किसान संघों ने 6 फरवरी को देश भर में चक्का जाम की चेतावनी दी थी. इसके तहत आज 6 फरवरी को दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक देश भर में दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड को छोड़कर अन्य राज्यों में राष्ट्रीय व राज्य राजमार्गों को बंद किया जाएगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. शांतिपूर्ण तरीके से निपटा ‘चक्का जाम’, किसान नेता टिकैत ने सरकार को 2 अक्टूबर तक का दिया अल्टीमेटम

Go to Top