सर्वाधिक पढ़ी गईं

Jaypee इंफ्रा लि. की दिवाला समाधान प्रक्रिया 90 दिन में हो पूरी, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि परिवर्तित समाधान योजना सिर्फ NBCC और सुरक्षा रियल्टी से ही मंगाई जाएगी.

November 6, 2019 7:45 PM
SC orders completion of Jaypee Infra insolvency resolution within 90 daysImage: PTI

जेपी समूह को बड़ा झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को जेपी इंफ्राटेक लिमिटेड की कॉरपोरेट दिवाला समाधान प्रक्रिया 90 दिन में पूरी करने का आदेश दिया है. साथ ही कहा है कि परिवर्तित समाधान योजना सिर्फ एनबीसीसी और सुरक्षा रियल्टी से ही मंगाई जाएगी. शीर्ष अदालत ने कहा एनसीएलटी (राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण) या एनसीएलएटी के समक्ष अंतरिम निर्देश के लिए लंबित अर्जी समेत अन्य आवेदन इन दो बोली लगाने वालों से संशोधित समाधान योजना स्वीकार करने और उस पर कार्रवाई करने के मामले में दिवाला समाधान प्रक्रिया में बाधक नहीं होगा.

न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी की पीठ ने कहा कि वह मकान खरीदारों, जेपी समूह और संबंधित बैंकों के साथ पूरा न्याय करने के लिए ‘असाधारण स्थिति’ में यह निर्देश दे रहे हैं. पीठ ने कहा कि हम दिवाला समाधान प्रक्रिया को कॉर्पोरेट दिवाला समाधान प्रक्रिया आज से 90 दिन के भीतर पूरा करने का निर्देश देते हैं. इसमें से पहले 45 दिन में दिवाला समाधान प्रक्रिया के तहत सिर्फ सुरक्षा रियलटी और एनबीसीसी से संशोधित समाधान योजना मंगाया जा सकेगा.

21 दिसंबर से शुरू हो रही है दूसरे चरण की अवधि

न्यायालय ने कहा कि ये दोनों जेपी इंफ्राटेक के लिए अंतिम बोली लगाने वालों में थे. दोनों ने पहले भी समाधान योजना पेश की थी और वे बातचीत के बाद कर्जदाताओं की समिति के समक्ष अपनी संशोधित योजना, यदि ऐसा आवश्यक हुआ, पेश करें और अपनी रिपोर्ट राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण को सौंपे. पीठ ने कहा कि दूसरे चरण की 45 दिन की अवधि 21 दिसंबर, 2019 से शुरू हो रही है. इसमें किसी भी तरह की कठिनाई को दूर करने और निर्णय करने वाले प्राधिकार को उचित आदेश पारित करने के लिये समय दिया गया है.

NCLAT के फैसले के खिलाफ सुनाया है फैसला

पीठ ने राष्ट्रीय कंपनी विधि अपीलीय न्यायाधिकरण (एनसीएलएटी) के फैसले के खिलाफ जेपी समूह की याचिका पर यह आदेश पारित किया. अपीलीय न्यायाधिकरण ने अपने फैसले में जेपी समूह को कर्ज में डूबी जेपी इंफ्रा लि की नीलामी प्रक्रिया में हिस्सा लेने से प्रतिबंधित कर दिया था. एनसीएलएटी ने 30 जुलाई को जेपी इंफ्राटेक के लिए नई बोलियां आमंत्रित करने की अनुमति देते हुए इसके प्रवर्तक जेपी समूह को इसमे हिस्सा लेने से प्रतिबंधित कर दिया था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Jaypee इंफ्रा लि. की दिवाला समाधान प्रक्रिया 90 दिन में हो पूरी, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश

Go to Top