सर्वाधिक पढ़ी गईं

प्राइवेट डिजिटल करेंसी को देश में नहीं मिल सकती मंजूरी: शक्तिकांत दास

RBI डिजिटल मुद्रा जारी करने के मुद्दे पर गौर कर रहा है.

Updated: Dec 05, 2019 7:13 PM
reserve bank of india could release digital currency soon said governor shaktikanta dasRBI डिजिटल मुद्रा जारी करने के मुद्दे पर गौर कर रहा है. (Representational Image)

रिजर्व बैंक (RBI) डिजिटल मुद्रा जारी करने के मुद्दे पर गौर कर रहा है. RBI के गर्वनर शक्तिकांत दास ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी. RBI ने देश में निजी तौर पर जारी की जाने वाली किसी भी डिजिटल मुद्रा को चलाने की मंजूरी दिये जाने की संभावना को पूरी तरह से नकार दिया है. शक्तिकांत दास ने डिजिटल मुद्रा के बारे में पूछे जाने पर कहा कि प्रौद्योगिकी दिक्कतों के चलते रिजर्व बैंक द्वारा इस तरह की मुद्रा पेश करने के बारे में अभी कुछ कह पाना जल्दबाजी होगी.

दास ने कहा कि दुनिया भर में सरकारें और केंद्रीय बैंक निजी डिजिटल मुद्रा के खिलाफ हैं, क्योंकि मुद्रा जारी करने का अधिकार सरकारी निकायों के पास है और इसे स्वायत्त एजेंसी द्वारा ही किया जाना चाहिये. उन्होंने कहा कि दूसरे देशों की सरकारों और केंद्रीय बैंकों के साथ सरकारी डिजिटल मुद्रा के बारे में चर्चाएं हुई हैं, लेकिन अभी इस बारे में कुछ कह पाना जल्दबाजी होगी.

सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी को अवैध करार दिया था

उन्होंने कहा कि जब पर्याप्त सुरक्षा के साथ प्रौद्योगिकी और विकसित हो जाएगी, तो उन्हें लगता है कि यह ऐसा क्षेत्र है जिसके ऊपर सही समय आने पर रिजर्व बैंक निश्चित रूप से गौर करेगा. करीब एक साल पहले सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी और बिटक्वॉइन जैसी वर्चुअल करेंसी को अवैध करार दिया था. रिजर्व बैंक ने इन मुद्राओं के कारोबार पर रोक लगा दी थी. हालांकि, इसके कुछ महीने बाद सोशल मीडिया क्षेत्र की प्रमुख कंपनी फेसबुक ने लिब्रा नाम से डिजिटल मुद्रा जारी करने की योजना को लेकर एलान किया था.

RBI monetary policy: रेपो रेट 5.15% पर बरकरार, अर्थव्यवस्था में और सुस्‍ती का अनुमान

RBI ने रेपो रेट को बरकरार रखा

RBI ने गुरुवार को अपनी मौद्रिक नीति का एलान करते हुए रेपो रेट में कोई कटौती नहीं की. चालू वित्त वर्ष 2019-20 की 5वीं द्विमासिक मौद्रिक नीति का एलान करते हुए ​RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट को 5.15 फीसदी पर बरकरार रखा है. रिवर्स रेपो रेट भी 4.90 फीसदी ही बना रहेगा. रिजर्व बैंक ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए जीडीपी ग्रोथ रेट का अनुमान 6.1 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी कर दिया है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. प्राइवेट डिजिटल करेंसी को देश में नहीं मिल सकती मंजूरी: शक्तिकांत दास

Go to Top