मुख्य समाचार:

कैश की नहीं होगी कमी, RBI ने नियमों में किया बदलाव

RBI LCR Norms: रिजर्व बैंक ने एलसीआर नियमों में बदलाव किया

April 4, 2019 5:30 PM
RBI, LCR Norms, रिजर्व बैंक, एलसीआर, एलसीआर नियमों में बदलाव, RBI Governor, Liquidity, CashRBI LCR Norms: रिजर्व बैंक ने एलसीआर नियमों में बदलाव किया

RBI LCR Norms: बैंकों में नकदी की स्थिति में और सुधार लाने के लिए रिजर्व बैंक ने लिक्विडिटी कवरेज रेश्यो (एलसीआर) नियमों में बदलाव किया है. आरबीआई ने बैंकों को इसमें 2 फीसदी की अतिरिक्त सुविधा उपलब्ध कराई है. एलसीआर से बैंकों की उन परिसंपत्तियों के बारे में संकेत मिलता है जो कि हाई लिक्विडिटी क्षमता रखती हैं. इस प्रकार की संपत्तियों से अल्पकालिक दायित्वों को पूरा करने की बैंकों की क्षमता का पता चलता है.

RBI: 2% अतिरिक्त LCR की अनुमति

RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास ने चालू वित्त वर्ष की पहली द्वैमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा जारी करने के बाद कहा कि हमने बैंकों के लिए 2 फीसदी अतिरिक्त एलसीआर की अनुमति दी है. इसमें बैंकों के एलसीआर की गणना के लिए हाई क्वालिटी वाली लिक्विड एसेट को शामिल करना है. इस पहल से जहां एक तरफ बैंकों की लिक्विडिटी संबंधी जरूरत पूरी होगी, वहीं दूसरी तरफ बैंकों को कर्ज पर देने के लिये अतिरिक्त नकदी जारी होगा.

उन्होंने कहा कि यह भी तय किया गया है कि निवेश और रिण कंपनियों की श्रेणी में प्रणाली के लिहाज से महत्वपूर्ण नॉन-बैंंकिंग फाइनेंस कंपनियां जो कि जमा राशि स्वीकार नहीं करती हैं, उन्हें दूसरी श्रेणी के लाइसेंस के तहत प्राधिकृत डीलर के लिए आवेदन करने के योग्य माना जाएगा.

निर्देश इस माह के अंत तक

गवर्नर ने कहा कि इस बारे में विस्तृत निर्देश इस माह के अंत तक जारी कर दिये जाएंगे. दुनियाभर में आवास और वाणिज्यिक गतिविधियों के लिए गिरवी रखकर कर्ज देने वाले वित्तीय संस्थानों को हाई क्वालिटी वाली तरल प्रतिभूति बाजारों का समर्थन प्राप्त होता है. इनमें गिरवी कारोबार करने वाले प्रणेता गिरवी संपत्तियों के पैकेज पोर्टफोलियो तैयार करते हैं और उन्हें गिरवी संपत्तियों से समर्थित प्रतिभूतियों या बांड से कवर दिया जाता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. कैश की नहीं होगी कमी, RBI ने नियमों में किया बदलाव

Go to Top