मुख्य समाचार:

नोटबंदी के दो साल बाद RBI ने घटाई 2000 के नोटों की प्रिंटिंग, रहेगी न्यूनतम स्तर पर

वित्त मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी.

January 3, 2019 8:47 PM
RBI scales down printing of Rs 2000 note to minimum: Govt sourceनवंबर 2016 में 500 व 1000 रुपये के नोटों को बैन करने की घोषणा के ठीक बाद 2000 रुपये और 500 रुपये के नए नोट को जारी किया गया था. (PTI)

नवंबर 2016 में नोटबंदी के बाद जारी किए गए 2000 रुपये के नोटों की प्रिंटिंग रिजर्व बैंक ने बेहद कम कर दी है. वित्त मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी. नवंबर 2016 में 500 व 1000 रुपये के नोटों को बैन करने की घोषणा के ठीक बाद 2000 रुपये और 500 रुपये के नए नोट को जारी किया गया था.

नोटबंदी के बाद की जरूरत को पूरा करने के लिए लाए गए थे 2000 के नोट

वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि नोटों के सर्कुलेशन के आधार पर रिजर्व बैंक और सरकार की ओर से समय-समय पर करंसी प्रिंटिंग की मात्रा पर निर्णय लिया जाता है. जब 2000 रुपये के नोट लॉन्च हुए थे, तब यह फैसला लिया गया था कि आगे जाकर इन्हें कम कर दिया जाएगा, क्योंकि इसे रिमॉनेटाइजेशन की जरूरतों को पूरा करने के लिए जारी किया गया था.

अधिकारी ने कहा कि 2000 रुपये के नोटों की प्रिटिंग काफी कम कर दी गई है. इसकी न्यूनतम प्रिंटिंग का फैसला किया गया है. इसमें कुछ नया नहीं है.

कितनी आई कमी

आरबीआई डेटा के मुताबिक, मार्च 2017 के अंत में सर्कुलेशन में 2000 रुपये के नोटों की कुल संख्या 328.5 करोड़ थी. एक साल बाद (31 मार्च, 2018) मामूली वृद्धि के साथ इसकी संख्या 336.3 करोड़ हुई. मार्च 2018 के अंत में सर्कुलेशन में मौजूद कुल 18,037 अरब रुपये में से 37.3 फीसदी हिस्सा 2000 रुपये के नोटों का था, जबकि मार्च 2017 में यह हिस्सेदारी 50.2 फीसदी थी.

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. नोटबंदी के दो साल बाद RBI ने घटाई 2000 के नोटों की प्रिंटिंग, रहेगी न्यूनतम स्तर पर

Go to Top