मुख्य समाचार:
  1. PhonePe और M-Paisa पर करोड़ों का जुर्माना, आरबीआई की कार्रवाई

PhonePe और M-Paisa पर करोड़ों का जुर्माना, आरबीआई की कार्रवाई

आरबीआई ने शुक्रवार को वोडाफोन एम-पैसा और फोनपे समेत पांच प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट इश्यूर्स पर जुर्माना लगाया है.

May 4, 2019 1:57 AM
rbi, rbi penalty, phonepay, m paisa, penalty on phonepay, penalty on m paisa, rbi penalty phonepay, rbi penalty on m paisa, फोनपे, एम पैसा, ppi, पीपीआईफोनपे पर 1 करोड़ और एम-पैसा पर 3 करोड़ का जुर्माना लगा है.

केंद्रीय बैंक आरबीआई ने शुक्रवार को वोडाफोन M-Paisa और PhonePe समेत पांच प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट (PPI) इश्यूर्स पर जुर्माना लगाया है. इसके अलावा दो अमेरिकी कंपनियों- वेस्टर्न यूनियन फाइनैंशल सर्विसेज इंक और मनीग्राम पेमेंट सिस्टम्स इंक पर भी दिशा-निर्देश न मानने के लिए पेनल्टी लगाई गई है. केंद्रीय बैंक ने एक बयान में कहा, ‘सेक्शन-30 के पेमेंट ऐंड सेटलमेंट सिस्टम्स ऐक्ट, 2007 के नियमों के तहत, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने पांच पीपीआई इश्यूर्स पर दिशा-निर्देशों को न लागू करने के लिए मौद्रिक पेनल्टी लगाई है.’

PhonePe पर 1 करोड़ और M-Paisa पर 3 करोड़ का जुर्माना

वोडाफोन एम-पैसा पर 3.05 करोड़ रुपये और मोबाइल पेमेंट्स फोनपे, प्राइवेट और जीआई टेक्नॉलजी पर 1 करोड़ रुपये का जुर्माना लगा है. इसके अलावा वाई-कैश सॉफ्टवेयर सॉल्यूशन पर 5 लाख रुपये की पेनल्टी लगी है. एक दूसरे बयान में आरबीआई ने कहा कि नियमों के उल्लंघन के लिए वेस्टर्न यूनियन फाइनैंशल सर्विसेज इंक, यूएसए पर 29,66,959 रुपये और मनीग्राम पेमेट सिस्टम्स इंक यूएसए पर 10,11,653 रुपये का जुर्माना लगाया गया है. आरबीआई ने पेमेंट और सेटलमेंट सिस्टम्स ऐक्ट, 2007 के प्रावधानों के तहत उल्लंघन करने के लिए वेस्टर्न यूनियन और मनीग्राम पर जुर्माना लगाया है.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop