मुख्य समाचार:

RBI Loan Moratorium: 3 महीने और रोक सकते हैं अपने लोन की EMI, कैश की किल्लत के बीच राहत!

रिजर्व बैंक ने जहां ब्याज दरों में फिर 40 बेसिस प्वॉइंट की कटौती की है. वहीं, केंद्रीय बैंक ने रिटेल लोन की EMI भरने पर 3 महीने की और राहत दे दी है.

May 22, 2020 11:24 AM
RBI extended Loan Moratorium period for another 3 month, Loan Moratorium, RBI, reserve bank of india, home loan, auto loan, EMI, middle class, small businessman, big relief to middle class, cash crisis, lockdownरिजर्व बैंक ने जहां ब्याज दरों में फिर 40 बेसिस प्वॉइंट की कटौती की है. वहीं, केंद्रीय बैंक ने रिटेल लोन की EMI भरने पर 3 महीने की और राहत दे दी है.

RBI Loan Moratorium: कोरोना वायरस से अर्थव्यवस्था पर खतरे को देखते हुए रिजर्व बैंक ने जहां ब्याज दरों में फिर 40 बेसिस प्वॉइंट की कटौती की है. वहीं, केंद्रीय बैंक ने रिटेल लोन की EMI भरने पर 3 महीने की और राहत दे दी है. यानी अब आपके पास अपने होम लोन या आटो लोन की ईएमआई को 3 महीने तक और रोकने का विकल्प मिल गया है. कुल मिलाकर आरबीआई ने लोन मोरेटोरियम पीरियड 6 महीने का मार्च से अगस्त तक कर दिया है. लॉकडाउन के बीच कैया कि किल्लत झेल रहे मिडिल क्लास और कारोबारियों के लिए यह बड़ी राहत भी हो सकती है.

6 महीने बाद सामान्य तरीके से आपकी ईएमआई कटती रहेगी. खास बात है कि इससे आपकी क्रेडिट हिस्ट्री पर कोई असर नहीं होगा. इसके पहले 27 मार्च को RBI ने 3 महीने तक यानी मार्च से मई तक EMI न चुकाने की छूट दी है. यह फैसला सभी कमर्शियल, रूरल, सहकारी बैंकों से लिए गए लोन पर प्रभावी होगा. केंद्रीय बैंक ने मोरेटोरियम का फायदा एनबीएफसी को भी उपलब्ध कराया है.

मिडिल क्लास को बड़ी राहत

3 महीने के मोरेटोरियम पीरियड को आगे बढ़ाने का मतलब है कि इस बढ़ी अवधि के दौरान (जून से अगस्त) आपके होम लोन या कार लोन के बदले अकाउंट से किसी तरह की ईएमआई नहीं काटी जाएगी. उसके बाद नॉर्मल डिडक्शन शुरू किया जाएगा. वहीं, इस रिलैक्सेशन से आपकी क्रेडिट हिस्ट्री पर भी कोई असर नहीं होगा. आरबीआई ने मिडिल क्लास को दोहरा तोहफा दिया है. रेपो रेट में 40 अंकों की कमी आने का मतलब है कि अब लोन भी सस्ती दरों पर मिलेगा.

किसे मिलेगी राहत

आरबीआई के इस कदम से छोटे कारोबारियों से लेकर मिडिल क्लास को बड़ी राहत मिलेगी. कोरोना के चलते अगर इस दौरान किसी की कमाई प्रभावित हो रही है तो उसे अगस्त तक होम लोन, आटो लोन की ईएमआई देने में राहत मिलेगी. इसके तहत अगर कोई कारोबारी वर्किंग कैपिटल पर लोन की EMI नहीं चुका पाता है तो उसे डिफॉल्ट नहीं माना जाएगा.

क्या है मोरेटोरियम के मायने

मोरेटोरियम उस अवधि को कहते हैं जिस दौरान आपको लिए गए कर्ज पर ईएमआई का भुगतान नहीं करना पड़ता है. इस अवधि को ईएमआई हॉलीडे के रूप में भी जाना जाता है. हालांकि यह सिर्फ ईएमआई टालने का विकल्प है. ऐसा नहीं है कि आपकी ईएमआई से ये 6 किस्तें कम दी जाएंगी. पहले भी आरबीआई ने कहा था कि ग्राहकों को कोरोना वायरस से बिगड़ी स्थितियों का सामना करने में समर्थ बनाने के लिए राहत दी जा रही है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. RBI Loan Moratorium: 3 महीने और रोक सकते हैं अपने लोन की EMI, कैश की किल्लत के बीच राहत!

Go to Top