सर्वाधिक पढ़ी गईं

सरकार को राहत! S&P ने ‘स्टेबल आउटलुक’ के साथ भारत की रेटिंग को BBB- पर बरकरार रखा

वैश्विक रेटिंग एजेंसी एसएंडपी ने भारत की सॉवरेन रेटिंग को ‘स्टेबल आउटलुक’ के साथ BBB- पर बरकरार रखा है.

December 4, 2019 12:12 PM
S&P India rating at BBB- with stable outlook, economy, slowdown, India GDP, Indian Economy, एसएंडपी, भारत की सॉवरेन रेटिंग, relief to modi govtवैश्विक रेटिंग एजेंसी एसएंडपी ने भारत की सॉवरेन रेटिंग को ‘स्टेबल आउटलुक’ के साथ BBB- पर बरकरार रखा है.

S&P India Rating: वैश्विक रेटिंग एजेंसी एसएंडपी ने भारत की सॉवरेन रेटिंग को ‘स्टेबल आउटलुक’ के साथ BBB- पर बरकरार रखा है. आर्थिक मामलों के सचिव अतनु चक्रवर्ती ने मंगलवार को यह जानकारी दी है. एसएंडपी की यह रेटिंग इस लिहाज से महत्वपूर्ण है कि कुछ सप्ताह पहले ही एक अन्य वैश्विक रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर सर्विस ने भारत के रेटिंग आउटलुक को ‘स्टेबल’ से ‘निगेटिव’ कर दिया था.

भारतीय अर्थव्यवस्था करेगी आउटपरफॉर्म!

चक्रवर्ती ने ट्वीट किया कि एसएंडपी ने भारत की सॉवरेन रेटिंग को स्टेबल आउटलुक के साथ बीबीबी- पर कायम रखा है. एजेंसी का कहना है कि हालिया गिरावट के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था निरंतर रूप से प्रभावशाली दीर्घावधि ग्रोथ रेट हासिल करती रहेगी. यह रेटिंग किसी इकाई की अपनी वित्तीय प्रतिबद्धताओं को पूरा करने की पर्याप्त क्षमता को दर्शाती है. हालांकि, प्रतिकूल आर्थिक परिस्थितियों या बदलती परिस्थितियों से उसकी वित्तीय प्रतिबद्धताओं को पूरा करने की क्षमता कमजोर पड़ सकती है.

साइक्लिक है स्लोडाउन

वित्त मंत्रालय ने एसएंडपी द्वारा भारत पर जारी रेटिंग का हवाला देते हुए कहा कि हालिया गिरावट के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था लंबी अवधि में आउटपरफॉर्म करेगी. ऐसा समझा जाता है कि मौजूदा आर्थिक सुस्ती संरचनात्मक कारणों से होने के बजाय साइक्लिक अधिक है. एसएंडपी का अनुमान है कि भारतीय अर्थव्यवस्था अपनी समकक्ष अर्थव्यवस्थाओं की तुलना में बेहतर प्रदर्शन करेगी और अगले 2 साल के दौरान ग्रोथ रेट मजबूत बनी रहेगी.

एजेंसी ने भारत के मामले में स्टेबल आउटलुक इस आधार पर बनाये रखा है कि अगले दो साल के दौरान ग्रोथ रेट मजबूत बनी रहेगी और भारत की बाह्य स्थिति भी बेहतर रहेगी. राजकोषीय घाटा ऊंचा रहेगा, लेकिन मोटे तौर पर यह अनुमानों के दायरे में बना रहेगा.

सरकार को राहत

एसएंडपी की ताजा रेटिंग ऐसे समय आई है जबकि विपक्ष अर्थव्यवस्था में आती गिरावट को लेकर लगातार सरकार पर हमलावर है. विपक्ष आरोप लगा रहा है कि सरकार आर्थिक वृद्धि दर में आती गिरावट को रोकने के लिए पर्याप्त प्रयास नहीं कर रही है. बता दें कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर घटकर 4.5 फीसदी रह गई है जो इसका छह साल का निचला स्तर है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. सरकार को राहत! S&P ने ‘स्टेबल आउटलुक’ के साथ भारत की रेटिंग को BBB- पर बरकरार रखा

Go to Top