सर्वाधिक पढ़ी गईं

सरकारी बैंकों में अप्रैल-जून में हुई 19964 करोड़ रु की धोखाधड़ी, SBI में सबसे ज्यादा मामले

सूचना के अधिकार (RTI) के तहत मांगी गई जानकारी से यह खुलासा हुआ है.

Updated: Sep 20, 2020 8:00 PM
Public sector banks reported frauds worth over Rs 19,964 crore in 2,867 cases during April-June of the ongoing fiscal year, RTI, RBI, PSBsImage: PTI

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSBs) में चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में 19,964 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 2,867 मामले सामने आए. सूचना के अधिकार (RTI) के तहत मांगी गई जानकारी से यह खुलासा हुआ है. RTI कार्यकर्ता चंद्र शेखर गौड़ ने सूचना के अधिकार के तहत रिजर्व बैंक से यह जानकारी मांगी थी. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में संख्या के हिसाब से धोखाधड़ी के सबसे ज्यादा मामले आए. वहीं मूल्य के हिसाब से बैंक ऑफ इंडिया (BoI) धोखाधड़ी से सबसे अधिक प्रभावित रहा.

आंकड़ों के अनुसार, अप्रैल-जून 2020 में सार्वजनिक क्षेत्र के 12 बैंकों में एसबीआई में धोखाधड़ी के सबसे अधिक 2,050 मामले सामने आए. इन मामलों से जुड़ी राशि 2,325.88 करोड़ रुपये है. मूल्य के हिसाब से बैंक ऑफ इंडिया को धोखाधड़ी से सबसे अधिक चोट पहुंची. इस दौरान बैंक ऑफ इंडिया में 5,124.87 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 47 मामलों का पता चला.

बैंक ऑफ बड़ौदा में 60 केस

इसके अलावा केनरा बैंक में 3,885.26 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 33, बैंक ऑफ बड़ौदा में 2,842.94 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 60, इंडियन बैंक में 1,469.79 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 45, इंडियन ओवरसीज बैंक में 1,207.65 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 37 और बैंक ऑफ महाराष्ट्र में 1,140.37 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 9 मामले सामने आए.

1 अक्टूबर से 1500 रु से भी ज्यादा महंगे हो जाएंगे TV, ओपन सेल पर फिर लगेगी 5% इंपोर्ट ड्यूटी

PNB में 270.65 करोड़ के फ्रॉड

इस दौरान दूसरे सबसे बड़े सरकारी बैंक पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में सिर्फ 270.65 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले सामने आए. हालांकि, बैंक के साथ धोखाधड़ी के मामलों की संख्या 240 रही. अन्य बैंकों की बात की जाए, तो यूको बैंक में 831.35 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 130, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में 655.84 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 149, पंजाब एंड सिंध बैंक में 163.3 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 18 और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में 46.52 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 49 मामलों का पता चला.

रिजर्व बैंक ने अपने जवाब में कहा है कि बैंकों की ओर से दिए गए ये शुरुआती आंकड़े हैं. इनमें बदलाव या सुधार हो सकता है. रिजर्व बैंक ने स्पष्ट किया कि धोखाधड़ी से जुड़ी राशि का मतलब बैंक को इतनी ही राशि के नुकसान से नहीं है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. सरकारी बैंकों में अप्रैल-जून में हुई 19964 करोड़ रु की धोखाधड़ी, SBI में सबसे ज्यादा मामले

Go to Top