मुख्य समाचार:

PM मोदी ईमानदार टैक्सपेयर्स के लिए लॉन्च करेंगे नया प्लेटफॉर्म, डायरेक्ट टैक्स रिफॉर्म की बढ़ेगी रफ्तार

वित्त मंत्रालय का कहना है कि केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने हाल के वर्षों में डायरेक्ट टैक्स के मोर्चे पर में कई अहम सुधार किए हैं.

Updated: Aug 12, 2020 2:02 PM
Prime Minister Narendra Modi to launch platform to honour honest taxpayersबजट 2020 भाषण में ‘टैक्सपेयर चार्टर’ की बात कही गई थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) गुरुवार को देश के ईमानदार टैक्सपेयर्स के सम्मान में एक प्लेटफॉर्म ‘पारदर्शी कराधान-ईमानदार का सम्मान’ लॉन्च करेंगे. 1 फरवरी को पेश किए गए बजट 2020-21 में ‘टैक्सपेयर्स चार्टर’ का एलान किया गया था, जिसे वैधानिक दर्जा मिलने की उम्मीद है. साथ ही नागरिकों को आयकर विभाग की ओर से तय समय में सेवाएं सुनिश्चित होंगी. वित्त मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि प्रधानमंत्री ‘पारदर्शी कराधान – ईमानदार का सम्मान’ के लिए जो प्‍लेटफॉर्म लॉन्च करेंगे, वह डायरेक्ट टैक्स रिफॉर्म की यात्रा को और भी आगे ले जाएगा.

मंत्रालय का कहना है कि केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने हाल के वर्षों में डायरेक्ट टैक्स के मोर्चे पर में कई अहम सुधार किए हैं. पिछले साल कॉरपोरेट टैक्स की दर को 30 फीसदी से घटाकर 22 फीसदी कर दिया गया और नई मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स के लिए इस रेट को और भी अधिक घटाकर 15 फीसदी कर दिया गया. ‘डिविडेंट डिस्ट्रिब्यूशन टैक्स’ को भी हटा दिया गया.

टैक्स कानून को सरल बनाने पर फोकस

मंत्रालय का कहना है कि टैक्स रिफॉर्म टैक्‍स रेट में कमी करने और डायरेक्ट टैक्स कानूनों के सरलीकरण पर फोकस रहा है. आयकर विभाग के कामकाज में दक्षता और पारदर्शिता लाने के लिए सीबीडीटी की ओर से कई कदम उठाए गए हैं. हाल ही में शुरू की गई ‘दस्तावेज पहचान संख्या (DIN)’ के जरिए आधिकारिक कम्युनिकेशन में अधिक पारदर्शिता लाना भी इन उपायों में शामिल है. जिसके तहत विभाग के हर कम्युनिकेशन या पत्र-व्यवहार पर कंप्यूटर जेनरेटेड एक यूनिक डिन होता है.

इसी तरह, करदाताओं के लिए कम्प्लायंस को ज्‍यादा आसान करने के लिए आयकर विभाग अब ‘पहले से ही भरे हुए आयकर रिटर्न फॉर्म’ उपलब्ध करा रहा है, ताकि पर्सनल टैक्सपेयर्स के लिए कम्प्लायंस को और भी अधिक सुविधाजनक बनाया जा सके. इसी तरह स्टार्टअप्‍स के लिए भी कंप्लायंस मानकों को सरल बना दिया गया है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में कहा था कि सीबीडीटी ‘टैक्सपेयर चार्टर’ लेकर आएगा. जिससे कर प्रशासन और करदाता के बीच भरोसा बढ़ेगा और विभाग की दक्षता बढ़ेगी. सीबीडीटी डायरेक्ट टैक्स के मामले पर निर्णय लेने वाली शीर्ष संस्था है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. PM मोदी ईमानदार टैक्सपेयर्स के लिए लॉन्च करेंगे नया प्लेटफॉर्म, डायरेक्ट टैक्स रिफॉर्म की बढ़ेगी रफ्तार

Go to Top