मुख्य समाचार:

देश में लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ा, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में PM मोदी ने देशवासियों से मांगा इन 7 बातों के लिए साथ

पीएम ने कहा कि जिन जगहों पर 20 अप्रैल तक नए हॉटस्पॉट नहीं बनेंगे वहां सशर्त छूट मिलेगी. पीएम ने युवा वैज्ञानिकों से कोरोना वैक्सीन विकसित करने का आग्रह किया है.

April 14, 2020 11:20 AM
Prime Minister Narendra Modi address the nation on 14th April 2020 lockdown extension Coronavirus outbreak PM full speech textपीएम मोदी ने देश के युवा वैज्ञानिकों से कोरोना वैक्सीन विकसित करने के लिए आगे आने की अपील की है.

Coronavirus Outbreak Lockdown Extension: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम संदेश में देशभर में लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ाने का एलान किया. उन्होंने कहा कि हमें उसी तरह अनुसाशन का पालन करना है, जैसे हमने अबतक किया है. कोरोना को हमें आगे नहीं फैलने देना है. स्थानीय स्तर पर अब एक भी मरीज बढ़ता है, तो यह हमारे लिए चिंता का विषय है. कहीं भी यदि कोरोना से किसी की​ मौत होती है, तो हमारी चिंता और बढ़नी चाहिए. इसके अलावा, उन्होंने कुछ जगहों पर 20 अप्रैल से सशर्त छूट देने की भी बात कही है. साथ ही पीएम मोदी ने देशवासियों से 7 बातों के लिए साथ मांगा है.

लॉकडाउन: 20 से इन्हें मिल सकती है सशर्त छूट

20 अप्रैल तक हर जिले, हर तहसील की पूरी तरह निगरानी की जाएगी. लगातार इसका मूल्यांकन किया जाएगा. जो क्षेत्र इस परीक्षा में सफल होंगे, जो अपने यहां हॉटस्पॉट नहीं बढ़ने देंगे. जहां हॉटस्पॉट की संभावना कम होगी, वहां पर 20 अप्रैल से कुछ कार्यों के लिए अनुमति दी जा सकती है. लेकिन, यह अनुमति सशर्त होगी. लॉकडाउन का नियम तोड़ा जाता है कोरोना का असर बढ़ता है तो यह अनुमति तुरंत वापस ले ली जाएगी. इसलिए खुद न लापरवाही करें और नहीं किसी को करने दें.

15 अप्रैल को जारी होगी विस्तृत गाइडलाइन

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 15 अप्रैल को सरकार की तरफ से एक विस्तृत गाइडलाइन जारी की जाएगी. 20 अप्रैल से सीमित छूट का प्रावधान हमारे गरीब भाइयों की जरूरतों को देखते हुए किया गया है. उन्होंने कहा, ”मेरी सर्वोच्च प्राथमिकताओं में एक इनके जीवन में आई दिक्कत को कम करना है. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के जरिए इनकी दिक्कतों को काफी हद तक दूर करने का काम किया गया है. नई गाइडलाइन में भी इसी का ध्यान रखा गया है. देश में फसल कटाई भी चल रही है. राज्य सरकारें भी काम कर रही हैं.”

युवा वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन बनाने में आगे आएं

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि विश्व का अनुभव कहता है कि 10 हजार मामले पर 1500 से 1600 बेड की जरूरत पड़ती है. हमने एक लाख बेड तैयार किए हैं. 600 अस्पताल कोविड19 को देखकर तैयार किया गया है. पीएम मोदी ने युवा वैज्ञानिकों से आग्रह है कि विश्व कल्याण के लिए मानव कल्याण के लिए आगे आए. कोरोना की वैक्सीन बनाने का मेरे देश के नागरिक, वैज्ञानिक आगे आए. हम धैर्य के साथ कोरोना के नियमों का पालन करेंगे तो हम इस पर विजय हासिल कर लेंगे

इन 7 बातों के लिए मांगा साथ

  • अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें. खासकर जिन्हें कोई पुरानी बीमारी है.
  • लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह पालन करें.
  • घर में फेसकवर या मॉस्क का अनिवार्य रूप से इस्तेमाल करें.
  • अपनी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय के निर्देशों का पालन करें.
  • आरोग्य सेतू मोबाइल ऐप जरूर डाउनलोड करें.
  • जितना हो सके, उतने गरीब परिवार की देख रेख करें. उनके भोजन की जरूर पूरी करें.
  • आप अपने व्यवसाय और अपने उद्योग में काम करने वाले कर्मचारियों के साथ संवेदना बरतें. किसी को नौकरी से न निकालें.
  • देश के कोरोना योद्धाओं हमारे डाक्टर, नर्सेस, सफाईकर्मी, पुलिसकर्मी, ऐसे सभी लोगों का सम्मान करें आदर करें.

भारत ने तेजी से फैसले किये, इंतजार नहीं किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अन्य देशों के मुकाबले भारत ने कैसे अपने यहां संक्रमण रोकने का प्रयास किया, दुनिया इसकी साक्षी रही है. जब भारत में एक भी मरीज नहीं था, तब से हमने एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग शुरू कर दी. कोरोना के जब एक मामले आए तब से हमने विदेश से आए हर आदमी का 14 दिन का क्वारंटाइन अनिवार्य कर दिया था. पीएम ने अपने संबोधन में कहा, जब हमारे यहां 550 केस थे, तभी भारत ने 21 दिन के लॉकडाउन का बड़ा कदम उठा लिया. भारत ने समस्या बढ़ने का इंतजार नहीं किया. बल्कि जैसे ही समस्या दिखी, तेजी से फैसले लेकर उसी समय रोकने का भरसक प्रयास किया.

यह एक ऐसा संकट है जिसमें किसी भी देश के साथ तुलना करना उचित नहीं है. फिर भी कुछ स​च्चाइयों को हम नकार नहीं सकते हैं. ये भी एक सच्चाई है कि दुनिया के बड़े बड़े सामर्थवान देशों में कोरोना से जुड़े मामले देखें, तो उनकी तुलना में भारत आज भी बहुत संभली हुई स्थिति में है. महीना डेढ़ महीना पहले कई देश कोरोना संक्रमण के मामले में भारत के बराबर खड़े थे, लेकिन आज भारत की तुलना में उन देशों में कोरोना के मामले 25 से 30 गुना ज्यादा बढ़ गए हैं. हजारों लोगों की मौतें हो गई है.

सोशल डिस्टेंसिंग, लॉकडाउन का लाभ देश को मिला

पीएम ने कहा कि भारत में इंटीग्रेटेड अप्रोच न अपनाई होती, तेजी से फैसले नहीं लिए होते तो आज इसकी कल्पना करते हुए भी रोंगटे खड़े हो जाते हैं. बीते दिनों के अनुभव से हमने जो रास्ता चुना है, वही हमारे लिए सही है. सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन का लाभ देश को मिला है. सिर्फ आर्थिक दृष्टि ये यह महंगा लगता है लेकिन भारतवासियों की जिंदगी के आगे इसकी कोई तुलना नहीं हो सकती है. सीमित संसाधनों के बीच भारत जिस मार्ग पर चला है, उसकी चर्चा दुनियाभर में होना स्वाभाविक है. राज्यों और स्वयंशासित संस्थाओं ने भी हर संभव प्रयास किए हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि इन सभी प्रयासों के बावजूद कोरोना जिस तरह फैल रहा है उसने विश्व भर में हेल्थ एक्सपर्ट और सरकारों को और ज्यादा सतर्क कर दिया है. भारत में भी कोरोना के खिलाफ लड़ाई अब आगे कैसे बढ़े, हम विजयी कैसे हों, हमारे यहां नुकसान कम से कम कैसे हो, लोगों की दिक्कतों को कम कैसे करें, इन सभी पर राज्यों के साथ चर्चा की. हर किसी का यही सुझाव आता है, नागरिकों का भी यही सुझाव आता है कि लॉकडाउन आगे बढ़ाया जाए. इसलिए भारत में लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ाने का फैसला किया गया है.

देश में कोरोना के मामले 10 हजार के पार

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 10 हजार के पार चली गई है. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के 14 अप्रैल सुबह 8:00 बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में इस महामारी के पॉजिटिव केस 10363 हो गए हैं. पिछले 24 घंटों में 1000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं. कुल मामलों में 8988 एक्टिव केस हैं. आंकड़ों के मुताबिक, अबतक इस बीमारी से 1035 लोगों को निजात भी मिल चुकी है. जबकि कोरोना वायरस के चलते देश में मरने वालों की संख्या बढ़कर 339 हो गई है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. देश में लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ा, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में PM मोदी ने देशवासियों से मांगा इन 7 बातों के लिए साथ

Go to Top