scorecardresearch

Presidential Election 2022: द्रौपदी मुर्मू या यशवंत सिन्हा? जल्द ही सामने आएगा देश के 15वें राष्ट्रपति का नाम

Droupadi Murmu vs Yashwant Sinha: राष्ट्रपति चुनाव के लिए 18 जुलाई को वोट डाले जा चुके हैं, जिनकी गिनती सुबह 11 बजे संसद भवन में शुरू होगी.

Presidential Election 2022: द्रौपदी मुर्मू या यशवंत सिन्हा? जल्द ही सामने आएगा देश के 15वें राष्ट्रपति का नाम
द्रौपदी मुर्मू की जीत हुई तो वे आदिवासी समुदाय से आने वाली देश की पहली राष्ट्रपति बनेंगी.

Presidential Election 2022, Counting on Thursday, 21 July 2022: देश के 15वें राष्ट्रपति का नाम कल यानी गुरुवार 21 जुलाई को देश की जनता के सामने आ जाएगा. देश भर के सांसद और विधायक अगले राष्ट्रपति का चुनाव करने के लिए 18 जुलाई को वोट डाल चुके हैं. जिनकी गिनती सुबह 11 बजे संसद भवन में शुरू होगी. शाम तक चुनाव परिणाम घोषित किए जाने की संभावना है. सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की ओर से द्रौपदी मुर्मू जबकि कई विपक्ष दलों की तरफ से यशवंत सिन्हा उम्मीदवार हैं. आंकड़ों के गणित में द्रौपदी मुर्मू के जीतने की पूरी संभावना है. यदि वह जीत हासिल कर लेती हैं, तो देश की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति बन जाएंगी. 

देश के वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो जाएगा और 25 जुलाई को नए राष्ट्रपति शपथ लेंगे. सभी राज्यों से मतपत्र संसद भवन लाए जा चुके हैं. चुनाव अधिकारी संसद के कमरा संख्या 63 में मतगणना के लिए तैयार हैं. इस कक्ष में मतपत्रों की चौबीस घंटे कड़ी सुरक्षा की जा रही है. चुनाव के लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी राज्य सभा के सचिव जनरल पी.सी. मोदी बृहस्पतिवार को मतगणना की निगरानी करेंगे. वे पहले सांसदों के सभी मतों की गिनती के बाद चुनावी रुझानों के बारे में जानकारी देंगे और फिर 10 राज्यों के वोटों की अल्फाबेटिकल ऑर्डर यानी वर्णानुक्रम में गिनती के बाद फिर से जानकारी साझा करेंगे. 

राष्ट्रपति चुनाव के लिए संसद भवन समेत 31 स्थानों और विधानसभाओं के भीतर 30 केंद्रों पर सोमवार को पूर्वाह्न 10 बजे से शाम पांच बजे के बीच मतदान हुआ था. कई राज्यों में मुर्मू के पक्ष में ‘क्रॉस वोटिंग’ होने की खबरें भी आई थीं. राष्ट्रपति चुनाव में सदस्यों को व्हिप जारी नहीं किया जाता. मनोनीत सांसदों को छोड़कर संसद के दोनों सदनों लोकसभा व राज्य सभा के सदस्य और सभी राज्यों की विधानसभा के सदस्य राष्ट्रपति चुनाव में मतदान करते हैं. राष्ट्रपति चुनाव में 776 सांसदों और 4,033 निर्वाचित विधायकों समेत कुल 4,809 मतदाता मतदान के पात्र थे. इसमें मनोनीत सांसद व विधायक और विधान परिषद के सदस्य मतदान नहीं कर सकते. निर्वाचन आयोग के अनुसार सोमवार को हुए मतदान के दौरान 99 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने अपना वोट डाला. 

भारतीय जनता पार्टी के सांसद सनी देओल और संजय धोत्रे समेत आठ सांसद मतदान नहीं कर पाए. देओल मतदान के दौरान इलाज के लिए विदेश गए हुए हैं जबकि धोत्रे आईसीयू में भर्ती हैं. सोमवार को भाजपा और शिवसेना के दो-दो, बहुजन समाज पार्टी, कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और एआईएमआईएम के एक-एक विधायक ने मतदान नहीं किया. कोविंद ने वर्ष 2017 में हुए राष्ट्रपति चुनाव में कुल 10,69,358 में से 7,02,044 वोट पाकर जीत हासिल की थी. उनकी प्रतिद्वंद्वी मीरा कुमार को केवल 3,67,314 वोट मिले थे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News