सर्वाधिक पढ़ी गईं

PM मोदी ने माइक्रो कंटेनमेंट जोन, टेस्टिंग पर जोर देने को कहा; 11 से 14 अप्रैल तक टीका उत्सव मनाने का दिया सुझाव

पीएम मोदी ने कहा कि एक चुनौतीपूर्ण स्थिति दोबारा सामने आ रही है. वे सभी से कोविड-19 की स्थिति से निपटने के लिए सुझाव देने की प्रार्थना करते हैं.

April 8, 2021 9:27 PM
PM narendra modi tells states to focus on micro containment zones testing 11 to 14 april as teeka utsavपीएम मोदी ने कहा कि एक चुनौतीपूर्ण स्थिति दोबारा सामने आ रही है. वे सभी से कोविड-19 की स्थिति से निपटने के लिए सुझाव देने की प्रार्थना करते हैं.

कई राज्यों में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड-19 की स्थिति और टीकाकरण अभियान की चर्चा करने के लिए मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक की. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि एक चुनौतीपूर्ण स्थिति दोबारा सामने आ रही है. वे सभी से कोविड-19 की स्थिति से निपटने के लिए सुझाव देने की प्रार्थना करते हैं. उन्होंने कहा कि हमें मामलों में बढ़ोतरी से लड़ने की जरूरत है. बहुत से राज्य जिनमें महाराष्ट्र, गुजरात, छत्तीसगढ़, पंजाब शामिल हैं, उन्होंने पहली लहर को पीछे छोड़ दिया है. यह गंभीर चिंता है. लोग लापरवाह बन गए हैं. ज्यादातर राज्यों में प्रशासन भी ढीला हो गया है.

नाइट कर्फ्यू की जगह कोरोना कर्फ्यू का इस्तेमाल करने की अपील

मोदी ने कहा कि सभी चुनौतियों के बावजूद, हमारे पास बेहतर अनुभव, संसाधन और वैक्सीन है. उनके मुताबिक, कोविड-19 ट्रेसिंग और ट्रैकिंग कोविड-19 संक्रमण को फैलने से रोकने का तरीका है. उन्होंने बताया कि हमें माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर ध्यान देना चाहिए. जिन जगहों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है, वे कोरोना कर्फ्यू शब्द इस्तेमाल करने की अपील करते हैं, जिससे कोरोना वायरस के खिलाफ लोग अलर्ट हों. कर्फ्यू का समय रात 9 या 10 बजे से शुरू करना और सुबह 5 या 6 बजे तक करना बेहतर होगा.

प्रधानमंत्री ने कहा कि वे सभी से कोविड-19 टेस्टिंग पर जोर देने की प्रार्थना करते हैं. उनका लक्ष्य 70 फीसदी RT-PCR टेस्ट करना है. पॉजिटिव केस की संख्या ज्यादा होने दें, लेकिन अधितम टेस्ट करें. सही सैंपल कलेक्शन बहुत महत्वपूर्ण है, इसे सही गवर्नेंस के जरिए चेक किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि हमारी चर्चा के दौरान, हमने मृत्यु दर का मामला उठाया, हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि यह जितना संभव हो, कम रहे. हमें मरीज की बीमारी आदि के बारे में विस्तृत डेटा रखना चाहिए, जिससे उनकी जिंदगियों को बचाने में मदद मिले.

Coronavirus: सचिन तेंदुलकर अस्पताल से डिस्चार्ज, केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन कोविड-19 पॉजिटिव

एक राज्य में वैक्सीन को रखकर नतीजा नहीं मिलेगा: PM मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि 11 से 14 अप्रैल को टीका उत्सव के तौर पर मनाया जा सकता है. उनके मुताबिक, हमें एक बार दोबारा मास्क पहनने और कोविड-19 सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करने को लेकर महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि हमें जो हमारे पास है, उसके साथ (वैक्सीन वितरण) प्राथमिकता देने की जरूरत है. हमें एक राज्य में वैक्सीन को रखकर नतीजा नहीं मिलेगा. इस तरीके से सोचना सही नहीं है. हमें देश के बारे में सोचकर मैनेज करना होगा.

मोदी ने कहा कि आज मुश्किल यह है कि हम कोविड-19 टेस्टिंग के बारे में भूलकर टीकाकरण की ओर बढ़ गए हैं. हमें याद रखना होगा कि हमने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई वैक्सीन के बिना जीती थी. हमें टेस्टिंग पर जोर देना होगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. PM मोदी ने माइक्रो कंटेनमेंट जोन, टेस्टिंग पर जोर देने को कहा; 11 से 14 अप्रैल तक टीका उत्सव मनाने का दिया सुझाव

Go to Top