सर्वाधिक पढ़ी गईं

पीएम मोदी ने कृषि कानूनों को बताया किसानों के लिए फायदेमंद, निजी सेक्टर के योगदान को सराहा

भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (FICCI) देश में व्यापारिक संगठनों का महासंघ है.

Updated: Dec 12, 2020 1:35 PM
pm narendra modi address 93th annual convention of ficci on theme inspired indiaफिक्की के 93वें एनुअल कंवेंशन की शुरुआत आज होगी और इसकी थीम इंस्पायर्ड इंडिया रखी गई है.

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फिक्की के 93वें सालाना आम बैठक को वर्चुअली उद्घाटन किया. वह इस बैठक को वर्चुअली संबोधित कर रहे हैं. भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (FICCI) देश में व्यापारिक संगठनों का महासंघ है. फिक्की के 93वें सालाना आम बैठक में पीएम मोदी भारतीय अर्थव्यवस्था से जुड़े मामलों पर संबोधित कर रहे हैं. उन्होंने किसानों के भी मुद्दे पर भी बातचीत की. इस मौके पर उन्होंने निजी सेक्टर के भी योगदान को सराहा और कहा कि वे न सिर्फ घरेलू मांग पूरी कर रहे हैं बल्कि वैश्विक स्तर पर भारत की पहचान मजबूत कर रहे हैं.

उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत कोरोना महामारी से की. उन्होंने कहा कि 20-20 क्रिकेट मैच में चीजें तेजी से बदलती हैं वैसे ही इस साल 2020 में बहुत उतार-चढ़ाव रहा. उन्होने कहा कि कुछ साल बाद इस कोरोना काल को याद करने पर यकीन नहीं होगा. फरवरी-मार्च में महामारी की शुरुआत के बाद एक अंजान शत्रु से लड़ाई शुरू हुई. प्रोडक्शन, उत्पादन और इकोनॉमी रिवाइवल को लेकर अनिश्चितता का माहौल बना हुआ था लेकिन दिसंबर आते-आते स्थितियां बदल गई हैं. अब इकोनॉमिक इंडिकेटर प्रोत्साहित करने वाले हैं.

उन्होंने पुराने दौर की याद दिलाई जब सरकार का उत्पादन पर कठोर नियंत्रण रहता था. पीएम मोदी के मुताबिक इस एप्रोच से दुर्दशा बढ़ी. हालांकि अब स्थितियां बदली हैं और अब भारत में सबसे प्रतिस्पर्धी कॉरपोरेट टैक्स है. भारत अपने उद्यमियों पर भरोसा कर के आगे बढ़ रहा है. ज्यादातर सेक्टर्स को प्रतिस्पर्धात्मक बनाया गया है. जब एक सेक्टर आगे बढ़ता है तो उसका प्रभाव अन्य सेक्टर्स पर भी पड़ता है. इसकी तुलना में अगर किसी एक इंडस्ट्री के सामने दीवारें खड़ी की जाएं तो न सिर्फ वह प्रभावित होगी बल्कि अन्य सेक्टर्स पर भी बुरा प्रभाव पड़ेगा.

ए्गीकल्चरल इंफ्रास्ट्रक्चर, स्टोरेज, कोल्ड चेन के बीच दीवारों को अब हटाया जा रहा है. एग्रीकल्चरल रिफॉर्म्स से किसानों को नए विकल्प मिलेंगे और उन्हें नए तकनीक का फायदा होगा. इसका सबसे अधिक फायदा किसानों को होगा. कृषि कानूनों के जरिए किसानों को मंडी के बाहर अपनी फसल बेचने का विकल्प मिल रहा है. सरकार किसानों का हित करने के लिए प्रतिबद्ध है.

ग्रामीण भारत में एक्टिव इंटरनेट यूजर्स की संख्या शहरों से अधिक हो चुकी है. देश के आधे से अधिक स्टार्टअप्स टियर 2 और टियर 3 शहरों में हैं. प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना से देश की लगभग 98 फीसदी बस्तियां सड़कों से जुड़ चुकी हैं. गांव के लोग अब बाजार, कोर्ट और अस्पताल जैसी दूसरी सुविधाओं से तेजी से बढ़ रही हैं. पीएम वाणी सार्वजनिक हॉटस्पॉट की योजना है. उद्योगपतियों से आग्रह है कि वह इसमें अपनी भागीदारी करें.

महामारी के इस दौर में आत्मनिर्भरता की तरफ भारत का बढ़ता कदम दुनिया को राह दिखा रहा है. मुश्किल समय में भी ग्लोबल सप्लाई प्रभावित नहीं हुई. वैक्सीन मैनुफैक्चरिंग में भारत आगे बढ़ रहा है और इससे न सिर्फ भारतीय उद्योगों को सुरक्षा कवच मिलेगा, दुनिया के कई देशों में भी नई जिंदगी देगी.

वर्ष 2022 में भारतीय स्वतंत्रता के 75 वर्ष हो रहे हैं और आजादी के बाद से लेकर आज तक फिक्की की देश के विकास में बड़ी भूमिका रही है. अब फिक्की को राष्ट्र के विकास में अपनी भूमिका को और व्यापक बनाना है.

इस बैठक में वह इस मुद्दे पर बोला कि कैसे देश की इकोनॉमी में जो बढ़त हो रही है, उसका फायदा सबसे गरीब लोगों और समाज के अंतिम पायदान पर रह रहे लोगों तक पहुंचाया जा सके. पीएम मोदी इस बैठक का उद्घाटन वर्चुअल तरीके से किया.

तीन दिन होगा बैठक का आयोजन

फिक्की के 93वें एनुअल कंवेंशन की शुरुआत आज होगी और इसकी थीम इंस्पायर्ड इंडिया रखी गई है. यह तीन दिन होगा; 11 दिसंबर, 12 दिसंबर और 14 दिसंबर. फिक्की की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक आज शाम 4:30 से 5:45 तक भारत सरकार के सचिवों के साथ इंस्पायर्ड इंडिया पर पैनल डिस्कशन होगा. इसके बाद 5:45 से 6:15 तक भारत-अमेरिका रणनीतिक साझेदारी पर चर्चा होगी और उसके बाद शाम 5:45 से 7:00 बजे तक इंडियन माइथोलॉजी एंड बिजनेस पर चर्चा होगी.

दुनिया भर से जुड़ते हैं फिक्की के एजीएम से

फिक्की के एनुअल जनरल मीटिंग (एजीएम) में दुनिया भर के औद्योगिक प्रमुख, डिप्लोमेट्स और पॉलिसीमेकर्स शामिल होते हैं. इस बार इसमें माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला, टाटा ग्रुप के एन चंद्रशेखरन, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण भी शामिल होंगी. इस में देश के मैनुफैक्चरिंग और सर्विस सेक्टर पर भी चर्चा होगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. पीएम मोदी ने कृषि कानूनों को बताया किसानों के लिए फायदेमंद, निजी सेक्टर के योगदान को सराहा

Go to Top