मुख्य समाचार:

PM की CMs के साथ मीटिंग: पंजाब ने रखी लॉकडाउन बढ़ाने की मांग, तमिलाडु के सीएम बोले- 31 मई तक न चलें ट्रेन, फ्लाइट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सोमवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की.

May 11, 2020 9:23 PM
मीटिंग में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन समेत अन्य लोग भी मौजूद रहे. (Image: PIB)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सोमवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की. इस मीटिंग में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन समेत अन्य लोग भी मौजूद रहे. मुख्यमंत्रियों में आंध्र प्रदेश के सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी, पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह, बिहार के सीएम नीतीश कुमार, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, अरुणाचल प्रदेश के सीएम पेमा खांडू, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे आदि मौजूद रहे.

मीटिंग में पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पीएम मोदी से लॉकडाउन बढ़ाने की अपील की. उन्होंने कहा कि कोविड19 केस अभी भी बढ़ रहे हैं, इसलिए लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई जानी चाहिए. लॉकडाउन उठाने को अच्छे से प्लान्ड एग्जिट स्ट्रैटेजी अपनाई जाए. साथ ही राज्यों को वित्तीय सहयोग देने को भी कहा. उन्होंने यह भी कहा कि रेड, ऑरेंज व ग्रीन जोन तय का निर्णय राज्यों पर छोड़ देना चाहिए.

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश सिंह बघेल ने मीटिंग में कहा कि ट्रेन, हवाई सफर और अंतरराज्यीय बस सेवा राज्य सरकारों के साथ चर्चा करने के बाद शुरू करनी चाहिए. मनरेगा के तहत 200 दिन के लिए मजदूरी दी जानी चाहिए. राज्यों को ही रेड, ऑरेंज, ग्रीन जोन घोषित करने की जिम्मेदारी मिलनी चाहिए.

बैठक में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मांगी की कि राज्य में आवश्यक सेवाओं से जुड़े स्टाफ के लिए लोकल ट्रेन सेवा शुरू करने की इजाजत दी जानी चाहिए. वहीं तमिलनाडु के सीएम के पलनीस्वामी ने कहा कि चूंकि कोरोना केस बढ़ रहे हैं, इसलिए राज्य में 31 मई तक ट्रेन व हवाई सेवा शुरू नहीं की जानी चाहिए. तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव ने भी कहा कि यात्री ट्रेन सेवा शुरू नहीं करनी चाहिए.

दिल्ली और केरल के सीएम क्या बोले

केरल के सीएम पिनराई विजयन ने मीटिंग में कहा कि राज्य विभिन्न चुनौतियों का सामना कर रहे हैं. इसलिए उन्हें लॉकडाउन दिशानिर्देशों में तार्किक बदलाव करने की आजादी मिलनी चाहिए. राज्यों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट शुरू करने की आजादी होनी चाहिए, जो कि राज्यों की स्थिति के आधार पर प्रतिबंधों सहित रहेगा. मेट्रो रेल सर्विस उन शहरों में शुरू की जानी चाहिए, जो रेड जोन में नहीं हैं. इसमें भी कुछ प्रतिबंध लागू रहेंगे.

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कंटेनमेंट जोन्स को छोड़कर राजधानी के सभी हिस्सों में आर्थिक गतिविधियां शुरू करने की इजाजत मिलनी चाहिए.

पीएम मोदी क्या बोले

इस मीटिंग में पीएम मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों को कहा कि भारत को कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए एक बैलेंस्ड स्ट्रैटेजी अपनानी होगी. देश को कौन सा रास्ता और दिशा अपनाने चाहिए, यह राज्यों की सलाह पर आधारित हो सकता है. देश के लिए सबसे बड़ी चुनौती यह सुनिश्चित करना होगी कि संक्रमण गांवों में न फैले. पीएम मोदी ने इस लड़ाई में राज्यों की भूमिका की सराहना करते हुए कहा कि पूरी दुनिया यह मानती है कि भारत खुद को इस महामारी से सफलतापूर्वक बचाने में सक्षम है.

पीएम मोदी ने कहा कि परेशानियां वहां बढ़ी हैं, जहां सामाजिक दूरी नियमों का पालन नहीं हुआ या लॉकडाउन​ दिशानिर्देशों के लागू होने में कमी रह गई. लोग लॉकडाउन में जहां हैं, वहां सुरक्षित रहें यह सुनिश्चित करने के लिए बेहत उम्दा कोशिशें की जरूरत थी. हालांकि ऐसे वक्त में जब ये लोग अपने घर जाना चाहते हैं, फैसलों में बदलाव किया गया.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. PM की CMs के साथ मीटिंग: पंजाब ने रखी लॉकडाउन बढ़ाने की मांग, तमिलाडु के सीएम बोले- 31 मई तक न चलें ट्रेन, फ्लाइट

Go to Top