मुख्य समाचार:

PM मोदी ने सऊदी अरब को दी चेतावनी, कहा- कच्चे तेल के बढ़ते दाम से बिगड़ रही है वैश्विक अर्थव्यवस्था

विश्व बाजार में कच्चे तेल के बढ़ते दाम को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सऊदी अरब जैसे तेल उत्पादक देशों को चेतावनी दी.

October 15, 2018 10:33 PM
PM Modi, pm modi warns Saudi Arabia, Saudi Arabia, high oil prices, oil price, global economic growth, financial express hindiकच्चे तेल के दाम बढ़ने से भारत में डीजल-पेट्रोल और रसोई गैस के दाम बढ़ गए हैं. (Photo source- PTI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को सऊदी अरब जैसे तेल उत्पादक देशों से तेल के भावों को कम कर उचित स्तर पर लाने के लिए और अधिक कदम उठाने की अपील की. सूत्रों के मुताबिक, मोदी ने तेल का उत्पादन एवं निर्यात करने वाले देशों को आगाह किया कि कच्चे तेल की ऊंची कीमतों से वैश्विक आर्थिक वृद्धि को नुकसान हो रहा है.

मोदी ने वैश्विक तथा घरेलू तेल एवं गैस कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों के साथ तीसरी सालाना चर्चा में भारत जैसे तेल उपभोक्ता देशों की चिंताओं को सामने रखा. कच्चे तेल के दाम बढ़ने से भारत में डीजल-पेट्रोल और रसोई गैस के दाम बढ़ गए हैं. मोदी ने सऊदी अरब के तेल मंत्री खालिद अल-फालेह की उपस्थिति में कहा कि कच्चे तेल की कीमतें चार साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई हैं. इससे वैश्विक आर्थिक वृद्धि पर प्रभाव पड़ रहा है, मुद्रास्फीति बढ़ रही है और भारत जैसे विकासशील देशों का बजट खराब हो रहा है.

मोदी ने कंपनियों के प्रमुखों से यह भी पूछा कि पिछली बैठक में उनके द्वारा दिए सुझावों पर अमल करने के बाद भी देश में तेल एवं गैस के खोज और उत्पादन के क्षेत्र में निवेश क्यों नहीं आ रहा है.

महंगे तेल से हो रही कई दिक्कतें: प्रधान

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इस मौके पर कहा कि कच्चे तेल की कीमतें बढ़ने से भारत कई दिक्कतों का समाना कर रहा है. पिछले एक साल में डॉलर के संदर्भ में कच्चा तेल 50 प्रतिशत और रुपये के संदर्भ में 70 प्रतिशत महंगा हो चुका है. इस बैठक में वित्त मंत्री अरुण जेटली, नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार भी शामिल रहे.

इन दिग्गज कंपनियों के लोग रहे मौजूद

सूत्रों के मुताबिक, बैठक में सउदी अरब और यूएई के मंत्री तथा आरामको, एडीएनओसी, बीपी, रास्रेफ्ट, आईएचएस मार्किट, पायनीयर नेचुरल रिसोर्सिज कंपनी, एतसन इलेक्ट्रिक कंपनी, टेलूरियन मुबाडला इन्वेस्टमेंट कंपनी, टोटल के प्रमुख पैट्रिक फोउयाने, रिलायंस इंडस्ट्रीज के निदेशक पीएमएस प्रसाद और वेदांता प्रमुख अनिल अग्रवाल सहित तेल क्षेत्र की कई कंपनियों के सीईओ और विशेषज्ञ शामिल हुए. बैठक में इसके अलावा देश में कारोबार करना आसान बनाने के लिए उठाये जाने कदमों तथा निवेश आकर्षित करने के उपायों पर भी चर्चा हुई.

तेल उत्पादक और उपभोक्ताओं के बीच बढ़े भागीदारी

कच्चे तेल के अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमतों के उछाल के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने तेल उत्पादकों और उपभोक्ता देशों के बीच भागीदारी के संबंध पर भी जोर दिया. ताकि वैश्विक अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में मदद मिल सके. प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी बयान के मुताबिक, मोदी ने तेल उत्पादक देशों से भी अपील की कि वे अपने निवेश योग्य सरप्लस अमाउंट को विकासशील देशों के तेल क्षेत्र में वाणिज्यिक लाभ के लिए लगाएं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. PM मोदी ने सऊदी अरब को दी चेतावनी, कहा- कच्चे तेल के बढ़ते दाम से बिगड़ रही है वैश्विक अर्थव्यवस्था

Go to Top