सर्वाधिक पढ़ी गईं

PM Kisan: 10.26 करोड़ से घटकर 3.77 करोड़ रह गए 2000 रु पाने वाले, क्यों सबको नहीं मिल रही किस्त

PM Kisan Samman Nidhi: पीएम किसान के तहत मिलने वाली छठीं किस्त सिर्फ 3.77 करोड़ किसानों तक पहुंची है.

Updated: Nov 19, 2020 1:03 PM
PM Kisan Samman NidhiPM Kisan Samman Nidhi: पीएम किसान के तहत मिलने वाली छठीं किस्त सिर्फ 3.77 करोड़ किसानों तक पहुंची है.

PM Kisan Samman Nidhi: पीएम किसान सम्मान निधि के तहत भले ही कुल 11.7 करोड़ लाभार्थी रजिस्टर्ड हैं, लेकिन इसका लाभ पाने वालों की संख्या लगातार घट रही है. पीएम किसान के तहत मिलने वाली छठीं किस्त सिर्फ 3.77 करोड़ किसानों तक पहुंची है. यह संख्या पहली किस्त से लेकर छठीं किस्त तक लगातार कम हुई है. पहली किस्त में 10.26 करोड़ किसानों को 2000 रुपये मिले थे. यानी छठीं किस्त आते आते यह संख्या करीब 6.49 करोड़ घट गई. आखिर इस योजना का लाभ क्यों नहीं सभी किसानों को मिल पा रहा है. कृषि विशेषज्ञ लाभार्थियों की घटती संख्या में हैरानी जता रहे हैं. उनका कहना है कि एनरोलमेंट के बाद भी इतनी कम संख्या में किसानों को लाभ पहुंच रहा है. इसके पीछे सबसे बड़ी वजह तो यह है कि पोर्टल पर डाले गए डाटा में कमियां हैं.

लगातार घट रही है लाभार्थियों की संख्या

कुल लाभार्थी: 11.17 करोड़

पहली किस्त: 10.26 करोड़ किसानों को
दूसरी किस्त: 9.89 करोड़ किसानों को
तीसरी किस्त: 9.00 करोड़ किसानों को
चौथी किस्त: 7.73 करोड़ किसानों को
पांचवीं किस्त: 6.48 करोड़ किसानों को
छठीं किस्त: 3.77 करोड़ किसानों को

(यहां साफ है कि हर बार लाभार्थी कम हो रहे हैं. पहले से छठीं किस्त में इनकी संख्या 6.49 करोड़ घट गई है.)

क्यों घट रही है संख्या?

कृषि विशेषज्ञ योगेंद्र शर्मा का कहना है, यह हैरानी की बात है कि एनरोलमेंट के बाद भी इतने कम संख्या में किसानों को लाभ मिल रहा है. इसके पीछे सबसे बड़ी वजह तो यह दिख रही है कि पोर्टल पर डाले गए डाटा में कमियां हैं. यह बात पहले भी सामने आई थी कि आंकड़ों में गड़बड़ी है, लेकिन हैरानी ये है कि इतने दिनों बाद भी इसे ठीक क्यों नहीं किया गया. अगर सरकारी प्रयासों से घर-घर जाकर लोगों का वोटर आई कार्ड बन सकता है तो ये विसंग​तियां क्यों नहीं दूर हो सकती हैं?

शर्मा कहते हैं, दूसरा कारण एक और यह हो सकता है कि इस योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए आधार नंबर जरूरी है. दूर-दराज के गांवों में अभी भी लाखों या करोड़ में किसान हैं, जिनके पास आधार कार्ड नहीं है. तीसरा कारण यह हो सकता है कि इस योजना में बहुत से लोगों ने अपना या अपने किसी रिश्तेदार का नाम गलत तरीके से डलवा दिया था. पिछले दिनों ऐसे फर्जी नाम सामने आने के बाद जांच तेज हुई है. जरा भी गड़बड़ी पाए जाने पर किस्त रोकी जा रही है. फिर भी एनरोलमेंट और लाभ पाने वालों की संख्सा में जो अंतर है, वह बहुत बड़ा है. इसे जबतक भरा नहीं जाता, इस योजना का उद्देश्य पूरा नहीं होने वाला है.

छठीं किस्त में कहां कितना पेमेंट

राज्य                          सक्सेस             संख्या

यूपी                             76%                11695324
बिहार                          97%                 713770
एमपी                           13%                2824
छत्तीसगढ़                     79%                212685
महाराष्ट्र                         85%                3592585
तमिलनाडु                      94%               2600802
आंध्र प्रदेश                     82%               3134722
राजस्थान                       83%                2490812
ओडीशा                        48%                371404
केरल                            91%                2371984
पंजाब                            77%               1196238
हरियाणा                         91%              1135326
जे एंड के                        90%              575133
कर्नाटक                         93%               397400

(source: https://pmkisan.gov.in/)

क्या है PM Kisan सम्मान निधि?

पीएम किसान सम्मान निधि योजना को केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों के हितों का ध्यान रखते हुए शुरू किया था. इसके तहत किसानों को एक साल में 3 बार 2000 रुपये की किस्त के जरिए 6000 रुपये की वित्तीय सहायता दी जा रही है. इस योजना में किसानों को अपना नाम रजिस्टर कराना होता है और आधार नंबर और बैंक अकाउंट सहित कई जरूरी जानकारी देनी होती है. यह लाभ उन्हीं किसानों को मिलता है जो खेती-बाड़ी पर ही आश्रित होते हैं. इसके लिए कुछ टर्म और कंडीशन हैं, जिसके बारे में पीएम किसान की वेबसाइट पर पूरी जानकारी है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. PM Kisan: 10.26 करोड़ से घटकर 3.77 करोड़ रह गए 2000 रु पाने वाले, क्यों सबको नहीं मिल रही किस्त

Go to Top