मुख्य समाचार:

PM मोदी को मिले 2700 गिफ्ट की ऑनलाइन नीलामी 14 सितंबर को, रिजर्व प्राइस 200 रु से शुरू

इससे मिलने वाली धनराशि का इस्तेमाल गंगा के संरक्षण और नदी को नवजीवन देने के लिए किया जाएगा.

September 11, 2019 8:15 PM
Over 2700 gifts received by PM Modi to be auctioned from September 14Image: PTI

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देशभर से मिले 2700 से अधिक उपहारों की 14 सितम्बर से नीलामी की जाएगी. इससे मिलने वाली धनराशि का इस्तेमाल गंगा के संरक्षण और नदी को नवजीवन देने के लिए किया जाएगा. संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल ने बुधवार को यह जानकारी दी.

विभिन्न संगठनों और मुख्यमंत्रियों की ओर से प्रधानमंत्री को दिए गए कुल 2,772 उपहारों में पगड़ी, शॉल, चित्र, तलवारें आदि शामिल हैं. इन्हें फिलहाल आधुनिक कला संग्रहालय में देखा जा सकता है. इन उपहारों की नीलामी एक ऑनलाइन पोर्टल पर की जाएगी, जिसे नेशनल इंफॉर्मेटिक्स सेंटर ने डिजाइन किया है.

सिल्क पर बनी तस्वीर है सबसे महंगी

पटेल ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री को बीते छह महीने में मिले उपहारों की नीलामी की जाएगी. इस बार यह नीलामी पूरी तरह से ऑनलाइन होगी (इससे पहले जनवरी माह में भी एक नीलामी हुई थी). यह अवसर देने के लिए मैं प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त करता हूं. इन वस्तुओं के लिए न्यूनतम रिजर्व मूल्य 200 रुपये और अधिकतम ढाई लाख रुपये है.’’

मोदी की सिल्क पर बनी तस्वीर का न्यूनतम मूल्य 2.5 लाख रुपये रखा गया है. इसे सीमात्ति टेक्सटाइल्स की मालिक एवं फैशन डिजाइनर बीना कन्नन ने उन्हें भेंट किया था. इसे सबसे महंगा बताया जा रहा है. वस्तुओं के बेस या रिजर्व मूल्य को विशेषज्ञों ने तय किया है.

इन स्मृतिचिह्नों में 576 शॉल, 964 अंगवस्त्रम, 88 पगड़ियां और भारत की विविधता को दिखाते कई जैकेट शामिल हैं. इनमें गायों की प्रतिकृतियां भी शामिल हैं. मंत्री ने कहा कि नीलामी के लिए जिन वस्तुओं को नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट में प्रदर्शित किया जा रहा है, उन्हें हर 15 दिनों में बदल दिया जाएगा.

जनवरी में 1800 गिफ्ट की हुई थी नीलामी

प्रधानमंत्री को मिले करीब 1800 उपहारों की नीलामी जनवरी में की गई थी, जो करीब 15 दिन चली थी और करीब 4,000 नीलामीकर्ताओं ने इसमें हिस्सा लिया था. नीलामी से एकत्रित हुई राशि को केन्द्र सरकार की गंगा सफाई की योजना ‘नमामि गंगे’ के लिए दी गई थी. इस बार होने वाली नीलामी से एकत्र धन को भी इसी परियोजना में भेजा जाएगा.

अधिकारियों ने बताया कि पिछली बार कारीगरों द्वारा बनाई गई बीएमडब्ल्यू की लकड़ी की बनी प्रतिकृति ई-नीलामी में सबसे महंगा स्मृतिचिह्न थी, जिसकी कीमत करीब पांच लाख रुपये थी. हालांकि, जनवरी में हुई नीलामी में प्राप्त धनराशि का उन्होंने खुलासा नहीं किया.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. PM मोदी को मिले 2700 गिफ्ट की ऑनलाइन नीलामी 14 सितंबर को, रिजर्व प्राइस 200 रु से शुरू

Go to Top