मुख्य समाचार:

11 साल में बैंकों में 2.05 लाख करोड़ की धोखाधड़ी, ICICI बैंक में सबसे ज्यादा फ्रॉड केस: RBI रिपोर्ट

RTI के तहत मांगी गई जानकारी के जवाब में केंद्रीय बैंक ने यह आंकड़े दिए हैं.

June 12, 2019 5:45 PM
Over 2 lakh crore bank frauds in 11 years ICICI Bank report maximum cases says RBIRTI के तहत मांगी गई जानकारी के जवाब में केंद्रीय बैंक ने यह आंकड़े दिए हैं.

देश में पिछले 11 वर्ष में बैंकों में 50,000 से ज्यादा धोखाधड़ी के मामले दर्ज किए हैं जिनमें कुल 2.05 लाख करोड़ रुपये की हेराफेरी हुई. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के आंकड़ों के अनुसार धोखाधड़ी के सबसे ज्यादा मामले आईसीआईसीआई बैंक, भारतीय स्टेट बैंक और एचडीएफसी बैंक में दर्ज किए गए हैं. सूचना के अधिकार (RTI) के तहत मांगी गई जानकारी के जवाब में केंद्रीय बैंक ने यह आंकड़े दिए हैं. आंकड़ों के अनुसार, पिछले 11 सालों (2008-2009 से 2018-19 के बीच) में 2.05 लाख करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के कुल 53,334 मामले दर्ज किए गए हैं. सबसे ज्यादा 6,811 मामले आईसीआईसीआई बैंक में दर्ज किए गए हैं, जिनमें 5,033.81 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी हुई है.

SBI में फ्रॉड के 6,793 मामले

आरबीआई ने कहा कि इस दौरान, भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) में 23,734.74 करोड़ रुपये के 6,793 धोखाधड़ी के मामलों की सूचना है. इसके बाद सबसे ज्यादा धोखाधड़ी के मामले एचडीएफसी बैंक में दर्ज किए गए हैं. एचडीएफसी बैंक में 1,200.79 करोड़ रुपये के कुल 2,497 धोखाधड़ी के मामले बाहर आए हैं.

कांग्रेस ने की थी श्वेत पत्र की मांग

पीटीआई-भाषा ने 3 जून को आरबीआई के आंकड़ों का हवाला देते हुए नोटिफाई कॉमर्शियल बैंकों और चुनिंदा वित्तीय संस्थाओं में 71,542.93 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 6,801 मामलों की सूचना दी थी. इस खबर के प्रकाशित होने के बाद कांग्रेस पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी सरकार से देश में बढ़ते बैंक फ्रॉड के मामले पर ‘श्वेत पत्र’ जारी करने की मांग की थी.

किस बैंक में कितना फ्रॉड?

  • बैंक ऑफ बड़ौदा में इस दौरान धोखाधड़ी के मामले गिनती में 2,160 रहे लेकिन इनमें कुल 12,962.96 करोड़ रुपये की राशि की हेराफेरी की गई.
  • पंजाब नेशनल बैंक में 28,700.74 करोड़ रुपये के 2,047 धोखाधड़ी के मामले सामने आए.
  • एक्सिस बैंक में कुल 5,301.69 करोड़ रुपये के 1,944 धोखाधड़ी के मामले सामने आए हैं.
  • बैंक ऑफ इंडिया में 12,358.2 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 1,872 मामले सामने आए.
  • सिंडीकेट बैंक में 5830.85 करोड़ रुपये के 1,783 मामले सामने आए.
  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में 9041.98 करोड़ रुपये के 1,613 धोखाधड़ी के मामले सामने आए.
  • आईडीबीआई बैंक लिमिटेड ने 5978.96 करोड़ रुपये के 1,264 मामले सामने आए.
  • स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक ने 1221.41 करोड़ रुपये के 1,263 मामले सामने आए.
  • कैनरा बैंक ने 5553.38 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 1,254 मामले सामने आए.
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने 11,830.74 करोड़ रुपये के 1,244 मामले सामने आए.
  • कोटक महिंद्रा बैंक ने 430.46 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 1,213 मामले सामने आए.
  • इंडियन ओवरसीज बैंक में 12,644.7 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 1,115 मामले सामने आए.
  • ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स में 5,598.23 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के ऐसे 1,040 मामले सामने आए.

किस वित्त वर्ष में कितना फ्रॉड?

  • 2008-09 में 1,860.09 करोड़ रुपये के कुल 4,372 मामले सामने आए थे.
  • 2009- 10 में 1,998.94 करोड़ रुपये के 4,669 मामले दर्ज किए गए.
  • 2010-11 में 3,815.76 करोड़ रुपये के 4,534 मामले दर्ज किए गए.
  • 2011-12 में 4,501.15 करोड़ रुपये के 4,093 मामले दर्ज किए गए.
  • 2012-13 में 8,590.86 करोड़ रुपये के 4,235 मामले दर्ज किए गए.
  • 2013-14 में 10,170.81 करोड़ रुपये के 4,306 मामले दर्ज किए गए.
  • 2014-15 में 19,455.07 करोड़ रुपये के 4,639 मामले दर्ज किए गए.
  • 2015-16 में 18,698.82 करोड़ रुपये के 4,693 मामले दर्ज किए गए.
  • 2016-17 में 23,933.85 करोड़ रुपये के 5,076 मामले सामने आए.
  • 2017-18 में 41,167.03 करोड़ रुपये के 5,916 के मामले सामने आए.

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. 11 साल में बैंकों में 2.05 लाख करोड़ की धोखाधड़ी, ICICI बैंक में सबसे ज्यादा फ्रॉड केस: RBI रिपोर्ट

Go to Top