मुख्य समाचार:

अगर सुधर जाए सरकारी बैंकों की हालत तो FY20 में 1.80% घट सकता है NPA: क्रिसिल

इससे सरकारी क्षेत्र के बैंकों के चार साल में पहली बार फायदे में आने की संभावना है.

April 1, 2019 8:02 PM
NPA to improve 180 bps to 8.5% this fisc on PSB revival: Crisilएजेंसी का अनुमान है कि बैंकों का सकल NPA मार्च 2019 में समाप्त वित्त वर्ष में उनके बकाया कर्ज का 10.3% रहेगा. (PTI)

रेंटिंग एजेंसी क्रिसिल ने सोमवार को कहा है कि कर्ज वसूली की समस्या कम होने से चालू वित्त वर्ष में बैंकों के NPA का अनुपात करीब 1.80% घट कर 8.5% पर आ सकता है. इससे सरकारी क्षेत्र के बैंकों के चार साल में पहली बार फायदे में आने की संभावना है.

एजेंसी का अनुमान है कि बैंकों का सकल NPA मार्च 2019 में समाप्त वित्त वर्ष में उनके बकाया कर्ज का 10.3% रहेगा. कर्ज बाजार की स्थिति पर क्रिसिल की छमाही रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2018-19 के 10.3 फीसदी की तुलना में 2019-20 में एनपीए का स्तर 1.80% कम हो कर 8.5% रह जायेगा. यह भी कहा गया है कि कर्ज में 14 फीसदी की बढ़ोतरी के बीच एनपीए की समस्या में कमी आ रही है.

क्रिसिल की रिपोर्ट में कहा गया है कि अदायगी में असफलता कम होने के साथ-साथ दिवाला प्रक्रिया के तहत एनपीए के समाधान से एनपीए का स्तर कम होगा. वर्ष 2018-19 की दूसरी छमाही में साख अनुपात (सम्पत्ति गुणवत्ता में गिरावट के मुकाबले सुधार) 1.81 गुना रहा. पहली छमाही में साख अनुपात 1.68 गुना था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. अगर सुधर जाए सरकारी बैंकों की हालत तो FY20 में 1.80% घट सकता है NPA: क्रिसिल

Go to Top