मुख्य समाचार:
  1. आयुष्मान भारत स्कीम: 15 हजार आरोग्य मित्रों को ट्रेनिंग देगी ICICI फाउंडेशन, NHA के साथ किया करार

आयुष्मान भारत स्कीम: 15 हजार आरोग्य मित्रों को ट्रेनिंग देगी ICICI फाउंडेशन, NHA के साथ किया करार

Ayushmaan Bharat: ICICI एकडमी फोर स्किल्स अपने 20 केंद्रों पर प्रशिक्षण देगी.

June 19, 2019 7:37 PM
nha partners with icici foundation to skill 15000 personnel for Ayushman Bharat schemeइस भागीदारी के तहत एक साल में 15 हजार से अधिक राज्य कर्मियों तथा आरोग्य मित्रों को प्रशिक्षण दिया जाएगा.

देश में गरीबों को बेहतर चिकित्सा सुविधायें उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना को लोगों तक पहुंचाने के लिये राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (NHA) और ICICI फाउंडेशन ने हाथ मिलाया है. दोनों संगठनों ने जरूरतमंद तक इस योजना का लाभ पहुंचाने के लिये राज्य एवं जिला स्तर पर तथा प्रधानमंत्री आरोग्य मित्रों को प्रशिक्षित करने के लिये समझौता किया है. समावेशी वृद्धि के लिये NHA और ICICI फाउंडेशन के बीच किये गये एग्रीमेंट का लक्ष्य राज्य एवं जिला स्तर पर चिकित्सा कर्मियों को कुशल बनाना है.

20 केंद्रों पर प्रशिक्षण देगी ICICI एकडमी

इस भागीदारी के तहत एक साल में 15 हजार से अधिक राज्य कर्मियों तथा आरोग्य मित्रों को प्रशिक्षण दिया जायेगा. NHA के एक अधिकारी ने कहा कि प्रशिक्षण के बाद प्रशिक्षित कर्मी लाभार्थियों को बेहतर तरीके से योजना समझने में मदद करेंगे. ICICI एकडमी फोर स्किल्स अपने 20 केंद्रों पर प्रशिक्षण देगी. आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के मुख्य कार्यकारी अधिकारी इंदु भूषण ने इस भागीदारी के बारे में कहा कि NHA स्वास्थ्य सेवाओं को लोगों तक बेहतर तरीके से पहुंचाने तथा लाभार्थियों को निर्बाध अनुभव प्रदान करने की निजी संस्थानों की विशेषज्ञता का लाभ उठाने के लिये उनके साथ भागीदारी कर रहा है.

क्या है आयुष्मान भारत योजना

मोदीकेयर के नाम से मशहूर आयुष्मान भारत योजना (ABY) 25 सितंबर 2018 से अमल में आई. इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों या 50 करोड़ लोगों को सालाना 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जा रहा है. ABY को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) भी कहा जाता है.

PM-JAY के तहत लाभ लेने के लिए आप योग्य हैं या नहीं, इसकी जानकारी https://mera.pmjay.gov.in/search/login या 14555 और 1800-111-565पर ली जा सकती है. अगर आप पात्र हैं तो आपके पास एक गोल्डन PM-JAY ई-कार्ड आ जाएगा. इस कार्ड में आपके बारे में पूरी डिटेल मौजूद रहेगी और इसके जरिए आप बिना किसी पेपरवर्क के इंश्योरेंस का लाभ ले सकेंगे.

PM-JAY के तहत 1300 से ज्यादा बीमारियां कवर होंगी, जिनमें डायबिटीज, दिल की बीमारी, किडनी, लिवर से जुड़ी बीमारियां आदि शामिल हैं.

PM-JAY के तहत लाभार्थी की जांच से लेकर उसके हॉस्पिटल में भर्ती होने, इलाज, दवा और इलाज के बाद के जरूरी खर्चे भी कवर होंगे. लाभार्थी अगर PM-JAY से जुड़े अस्पताल में भर्ती होता है तो अस्पताल उसका आइडेंटीफिकेशन करेगा. यानी लाभार्थी पात्र है या नहीं, यह सुनिश्चित किया जाएगा. पात्रता लिस्ट में होने पर उसके मुफ्त इलाज को मंजूरी दी जाएगी और इलाज शुरू किया जाएगा.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop