सर्वाधिक पढ़ी गईं

COVID-19: कोरोनावायरस के नए मामले 40 हजार से नीचे, 17 जुलाई के बाद सबसे कम

कोरोना वायरस की स्वदेशी कोवैक्सीन अगले साल जून तक लांच हो सकती है.

October 27, 2020 1:16 PM
New coronavirus infections drop below 40 THOUSAND mark lowest since 17 July AND AFTER 17 SEPT PEAK17 सितंबर को रिकॉर्ड मामले आने के बाद से सोमवार को कोरोना के सबसे कम मामले सामने आए.

Coronavirus new cases in India: देश में सोमवार को कोरोना संक्रमण के 34,469 नए मामले सामने आए हैं जो 17 जुलाई के बाद से एक दिन में कोरोना संक्रमण के सबसे कम मामले हैं. नए मामले सामने आने के बाद से देश में अब तक कोरोना संक्रमण के कुल मामले 79,46,429 हो गए. इसके अलावा पिछले 24 घंटे में 488 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है. कोरोना संक्रमण से 488 लोगों की मौत के बाद देश में इससे मरने वालों का कुल आंकड़ा 1,19,502 हो गया है. कोरोना संक्रमण से मरने वालों की दर यानी मोरलिटी रेट देश में सितंबर के बाद से 1.5 फीसदी है.

24 घंटे में सक्रिय मरीजों की संख्या में बड़ी गिरावट

देश में कोरोना संक्रमण के 6,25,857 सक्रिय मामले हैं. पिछले 24 घंटों में सक्रिय मामले में बड़ी गिरावट आई है. 63,842 लोगों के डिस्चार्ज होने के बाद देश में अब तक 72,01,070 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं. सक्रिय मामलों की संख्या में पिछले 24 घंटों में 27860 की गिरावट आई है.

covid19 active casesSource: PIB

टॉप-10 संक्रमित देशों में भारत में सबसे कम मौत

वर्ल्डमीटर के मुताबिक, कोरोना संक्रमण के सबसे अधिक मामले अमेरिका में हैं. करीब 29 लाख सक्रिय मामलों के साथ अमेरिका टॉप पर है और भारत उसके बाद इस सूची में करीब 6.3 लाख सक्रिय मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है. हालांकि कोरोना से मरने वालों की दर भारत में बहुत कम है. विश्व की बात करें तो कोरोना संक्रमण से मरने वालों का औसत प्रति लाख 149.4 है जबकि अमेरिका में 697 है. इसकी तुलना में यह भारत में 86 है. कोरोना संक्रमित टॉप 10 देशों की बात करें तो इससे भारत में सबसे कम मौतें हुई हैं.

सितंबर में दिखा था कोरोना संक्रमण का पीक

पिछले महीने भारत में कोरोना पीक की स्थिति बनी थी और 17 सितंबर को देश में कोरोना संक्रमण के एक दिन में रिकॉर्ड नए मामले सामने आए थे. उस दिन 97,894 नए मामले सामने आए थे. हालांकि उसके बाद से हर दिन कोरोना संक्रमण के मामले में गिरावट आई है.

 यह भी पढ़ें- 147 रुपये में लगेगा टीका

महाराष्ट्र अभी भी टॉप पर

1,34,657 सक्रिय मामलों के साथ महाराष्ट्र में देश भर में सबसे अधिक कोरोना संक्रमण के सक्रिय मामले हैं. महाराष्ट्र में अब तक इस बीमारी से 14,70,660 लोग ठीक हो चुके हैं और 43,348 लोगों की मौत हो चुकी है. महाराष्ट्र के बाद कोरोना महामारी से सबसे अधिक प्रभावित 75,442 सक्रिय मामलों के साथ कर्नाटक और 93,848 सक्रिय मामलों के साथ केरल हैं. राजधानी दिल्ली में इस समय 25,786 सक्रिय मामले हैं.

यह भी पढ़ें- कोवैक्सीन जून तक होगी उपलब्ध

अगले साल जून तक आएगी वैक्सीन

कोरोना वायरस की स्वदेशी कोवैक्सीन अगले साल जून तक लांच हो सकती है. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक वैक्सीन अगले आठ महीने में उपलब्ध हो जाएगी अगर सरकार इसके आपातकालीन प्रयोग की घोषणा नहीं कर सकती है. कोवैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बॉयोटेक के एग्जेक्यूटिव डाटरेक्टर के मुताबिक अगर सब कुछ योजना के मुताबिक चलता रहा तो अगले साल की दूसरी तिमाही यानी जून 2021 तक कोवैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी. सभी देशवासियों को वैक्सीनेशन सुनिश्चित करने के लिए केंद्र सरकार सभी सरकारी और निजी अस्पतालों के कर्मचारियों का डेटाबेस तैयार कर रही है. इससे देश में हर एक शख्स को जल्द से जल्द वैक्सीन लगाया जाना सुनिश्चित हो सकेगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. COVID-19: कोरोनावायरस के नए मामले 40 हजार से नीचे, 17 जुलाई के बाद सबसे कम

Go to Top