Crimes Against Women: महिलाओं अपराधों के आधे से अधिक मामले यूपी से, पिछले साल 2014 के बाद से सबसे अधिक शिकायतें आईं सामने

Crimes Against Women: पिछले साल महिलाओं के खिलाफ अपराध के करीब 31 हजार मामले सामने आए जो 2014 के बाद से सबसे अधिक है. इसमें भी आधे से अधिक मामले उत्तर प्रदेश से रहे.

Nearly 31K complaints of crimes against women received in 2021 over half from UP says NCW
महिला आयोग द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल जुलाई से सितंबर के बीच 3100 से अधिक शिकायतें प्राप्त हुईं.

Crimes Against Women: पिछले साल महिलाओं के खिलाफ अपराध के करीब 31 हजार मामले सामने आए जो 2014 के बाद से सबसे अधिक है. इसमें भी आधे से अधिक मामले उत्तर प्रदेश से रहे. ये महिलाओं के खिलाफ अपराध के वे मामले हैं, जो राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) को प्राप्त हुए थे. वर्ष 2020 की तुलना में पिछले साल 2021 में महिलाओं के खिलाफ अपराध करीब 30 फीसदी बढ़े. वर्ष 2020 में महिला आयोग को 23722 शिकायतें प्राप्त हुई थीं जबकि 2021 में 30864 मामले. वर्ष 2014 में महिला आयोग को 33906 शिकायतें प्राप्त हुई थीं.

Covid Vaccination for Children: 15-18 वर्ष के बच्चों का रजिस्ट्रेशन आज से शुरू, आधार के बिना भी इस डॉक्यूमेंट के सहारे लगवा सकेंगे कोरोना वैक्सीन

सबसे अधिक मामले गरिमा के साथ रहने के हक के हनन का

  • पिछले साल 2021 में महिलाओं ने करीब 30864 शिकायतें दर्ज कराईं जिसमें सबसे अधिक मामले गरिमा के साथ रहने के हक के हनन का रहा यानी महिलाओं के भावनात्मक शोषण का. इसे लेकर महिला आयोग के पास 11013 शिकायतें आईं. इसके बाद सबसे अधिक 6633 मामले घरेलू हिंसा के और इसके बाद दहेज उत्पीड़न के सबसे अधिक 4589 मामले दर्ज हुए.
  • सबसे अधिक शिकायतें देश में सबसे अधिक जनसंख्या वाले राज्य उत्तर प्रदेश से आईं. यूपी से महिलाओं ने 15828 शिकायतें दर्ज कराईं. यूपी के बाद दिल्ली से 3336, महाराष्ट्र से 1504, हरियाणा से 1460 और बिहार से 1456 शिकायतें आईं.
  • आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल 1819 शिकायतें छेड़छाड़ के, 1675 शिकायतें बलात्कार या इसकी कोशिश, 1537 शिकायतें पुलिस की उदासीनता और 858 शिकायतें साइबर क्राइम को लेकर दर्ज की गईं.

New Year Rules: इस बैंक में 10 हजार से अधिक जमा करने पर देना होगा चार्ज, आज से लागू हो गए नए नियम

पिछले साल जुलाई से सितंबर हर महीने 3 हजार से अधिक मामले

महिला आयोग द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल जुलाई से सितंबर के बीच 3100 से अधिक शिकायतें प्राप्त हुईं. इससे पहले नवंबर 2018 में उस समय 3 हजार से अधिक शिकायतें महिला आयोग को प्राप्त हुईं जब मीटू (#MeToo) मूवमेंट अपने पीक पर था. शिकायतों में बढ़ोतरी पर महिला आयोग की प्रमुख रेखा शर्मा ने पहले कहा था कि इसे लेकर लगातार लोगों को जागरुक किया जा रहा है जिसके चलते अधिक से अधिक मामले सामने आ रहे हैं. शर्मा ने कहा कि महिलाएं अपनी शिकायतें आसानी से दर्ज करा सकें, इसके लिए किसी भी समय शिकायत दर्ज कराने की सुविधा शुरू की गई.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News