मुख्य समाचार:
  1. Jet Airways : जेट एयरवेज अस्थाई तौर पर बंद होगी या जारी रहेगी उड़ान, मंगलवार को होगा फैसला

Jet Airways : जेट एयरवेज अस्थाई तौर पर बंद होगी या जारी रहेगी उड़ान, मंगलवार को होगा फैसला

Jet Airways: जेट एयरवेज बंद कर सकती है काम काज

April 16, 2019 3:34 PM
Jet Airways, जेट एयरवेज, Cash Crisis, Naresh Goyal, Bidding, Jet Airways Board MeetingJet Airways बंद कर सकती है काम काज

Jet Airways Board Meeting : जेट एयरवेज के फाउंडर नरेश गोयल कंपनी में बोली लगाने की रेस से बाहर हो गए हैं. सूत्रों के मुताबिक गोयल ने अपना नाम खुद वापस ले लिया है. वहीं बोर्ड की बेठक में जेट एयरवेज के मैनेजमेंट ने साफ किया है कि अगर फंड नहीं मिला तो एविएशन केपनी के लिए काम काज जारी रखना मुश्किल हो जाएगा. यह संकेत भी दिए कि कंपनी अस्थाई तौर पर अपना काम काज बंद कर सकती है. वहीं, इस खबर के बाद से शेयर बाजार में कंपनी के स्टॉक में 15 फीसदी तक गिरावट दर्ज हुई.

10 से कम विमान ऑपरेशनल

जेट के संकट का अंदाजा इस बात से ही ला सकते हैं कि इस समय में उसके महज 6-7 विमान ही उड़ान भर रहे हैं. विमानों की लीज का किराया नहीं देने के चलते जेट के करीब-करीब सभी विमान ठप पड़ें हैं. पायलट और कर्मचारियों को सैलरी नहीं मिल पा रही है. जिसके चलते उन्होंने हड़ताल की धमकी दी थी. फिलहाल सोमवार को उन्होंने हड़ताल को टाल दिया.

सरकार ने समीक्षा का दिया निर्देश

नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने विमान किरायों में बढ़ोत्तरी और उड़ानों के रद्द होने सहित संकटग्रस्त जेट एयरवेज से जुड़े विभिन्न मुद्दों की समीक्षा का निर्देश दिया है. प्रभु ने नागर विमानन सचिव प्रदीप सिंह खारोला को यात्रियों के अधिकार एवं सुरक्षा के लिए जरूरी कदम उठाने का निर्देश भी दिया. प्रभु ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है.

NAG ने मांगे थे 1500 करोड़ रुपये

भारी आर्थिक तंगी से जूझ रही जेट एयरवेज पायलट बॉडी नेशनल एविएटर्स गिल्ड ने सोमवार को SBI से अपील की थी कि वह 1500 करोड़ रुपये का फंड जारी करे. पिछले महीने डेट रिस्ट्रक्चरिंग प्लान के तहत एयरलाइन में 1500 करोड़ रुपये का फंड डालना प्रस्तावित था. वहीं, जेट के पायलट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से एयरलाइंस की करीब 20,000 नौकरियां भी बचाने की गुहार लगाई है.

Jet Airways: नौकरियों पर संकट

नेशनल एविएटर्स गिल्ड (NAG) के वाइस प्रेसिडेंट एडिम वलियानी ने सोमवार को एयरलाइन के मुख्यालय में ​संवाददाताओं को बताया, हमने एसबीआई से एयरलाइन के ऑपरेशन को सुचारू करने के लिए 1500 करोड़ रुपये का फंड जारी करने की अपील की है. साथ ही पीएम मोदी से गुजारिश है कि वह एयरलाइन की करीब 20 हजार नौकरियां बचा लें.

नरेश गोयल को होना पड़ा बाहर

जेट एयरवेज का संकट इस कदर बढ़ गया कि उसके फाउंडर और चेयरमैन नरेश गोयल को आखिरकार कंपनी से बाहर होना पड़ा. नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनिता गोयल ने बीते 25 मार्च को कंपनी बोर्ड से इस्तीफा दे दिया. कर्जदाताओं (एसबीआई की अगुवाई में बैंकों के समूह) की तरफ से कर्ज में डूबी एयरलाइंस को बचाने के लिए फंड मुहैया कराने के बदले नरेश गोयल पर पद छोड़ने का दबाव था.

जेट एयरवेज के बोर्ड ने लेंडर्स के रिजॉल्यूशन प्लान को मंजूरी दे दी है. इसके तहत एसबीआई की अगुवाई में बैंकों का समूह तत्काल 1500 करोड़ रुपये तक का फंड इन्फ्यूज करने का प्रस्ताव है. कर्जदाताओं के 1 रुपये का कर्ज 11.4 करोड़ इक्विटी में कन्वर्जन होगा.

Go to Top