सर्वाधिक पढ़ी गईं

केंद्रीय मंत्री ने लांच किए खादी के नए प्रॉडक्ट्स, पहली बार आया ‘यूज एंड थ्रो’ स्लिपर

खादी कॉटन बेबी वियर की कीमत 599 रुपये प्रति पीस रखी गई है जबकि एक जोड़ी स्लिपर्स 50 रुपये में खरीद सकते हैं.

Updated: Jul 16, 2021 5:00 PM
MSME minister launches new khadi products baby wear use and throw slippers

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने गुरुवार को खादी उत्पादों के विस्तृत रेंज को लांच किया है. एमएमएमई (माइक्रो, स्माल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज) मिनिस्टर राणे ने नई दिल्ली में स्थित खादी इंडिया के फ्लैगशिप शोरूम में बेबी वियर और हाथ से बने स्लिपर्स समेत खादी के कई सामानों को लांच किया है. इन उत्पादों में स्लीवलेस वेस्ट्स, फ्रॉक्स, ब्लूमर्स और न्यूबॉर्न व दो वर्ष तक के बच्चों के लिए नैपी शामिल हैं. इन्हें शत प्रतिशत हाथ से बनाई गई सामग्री से बनाया गया है. हाथ से बुना गया इसका कॉटन फैब्रिक मुलायम है और बच्चों के स्किन के प्रति संवेदनशील है जिससे उनकी त्वचा पर रैशेज नहीं पड़ेंगे और स्किन इरिटेशन भी नहीं होगी. केंद्रीय मंत्री ने हाथ से बना हुए पेपर के स्लिपर्स को भी लांच किया है जो ‘यूज एंड थ्रो’ के मुताबिक है. इस प्रकार के ‘यूज एंड थ्रो’ स्लिपर्स को पहली बार देश में डिजाइन किया गया है. ये पूरी तरह से इकोफ्रेंडली और कॉस्ट इफेक्टिव हैं.

तत्व चिंतन फार्मा के 500 करोड़ का आईपीओ सब्सक्रिप्शन के लिए खुला, इशू से लेकर कंपनी से जुड़ी डिटेल्स यहां जानिए

50 रुपये में मिल जाएगी एक जोड़ी स्लिपर

स्लिपर्स को बनाने में हाथ से बने पेपर का इस्तेमाल किया गया है. यह पूरी तरह से लकड़ी-मुक्त है और कॉटन जैसे नेचुरल फाइबर, फटे हुए पुराने कपड़ों व एग्रो वेस्ट से तैयार किया गया है. ये स्लिपर्स वजन में बहुत हल्के हैं और यात्रा व घर, होटल रूम्स, अस्पताल, पूजा स्थल व लैब जैसे स्थानों के लिए बहुत सही हैं. खादी एंड विलेज इंडस्ट्रीज कमीशन (केवीआईसी) के मुताबिक खादी कॉटन बेबी वियर की कीमत 599 रुपये प्रति पीस है जबकि एक जोड़ी स्लिपर की कीमत 50 रुपये रखी गई है.

Insurance Plan: इन तीन इंश्योरेंस प्लान से करें खुद को कवर, बनाएं अपने आज और कल को सुरक्षित

इको-फ्रेंडली और सस्टेनेबल प्रॉडक्ट्स बनाने पर जोर

इस हफ्ते एमएसएमई मंत्रालय का प्रभार संभालने वाले केंद्रीय मंत्री राणे ने इको-फ्रेंडली और सस्टेनेबल प्रॉडक्ट्स बनाने पर जोर दिया है. राणे ने कहा कि एग्रेसिव मार्केटिंग से लोगों के बीच खादी प्रॉडक्ट्स की मांग को बढ़ाई जा सकती है. इसे सभी प्रकार के लोगों के बजट में लाने की कोशिश की जानी चाहिए. इसके अलावा केंद्रीय मंत्री ने केवीआईसी को युवाओं के लिए अधिक से अधिक रोजगार के मौके उपलब्ध कराने के लिए कहा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. केंद्रीय मंत्री ने लांच किए खादी के नए प्रॉडक्ट्स, पहली बार आया ‘यूज एंड थ्रो’ स्लिपर

Go to Top