मुख्य समाचार:

मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 13 रु/लीटर तक बढ़ाई; आप पर क्या होगा असर, देखें आज का भाव

सरकार ने पेट्रोल पर 10 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर 13 रुपए प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी बढ़ा दी है.

May 6, 2020 9:53 AM
modi government increased excise duty on petrol and diesel by 13 rs per ltr, excise duty hike, what impact on consumers, petrol and diesel prices today on 6 may 2020, indian oil, HPCL, BPCL, oil marketing companies, cheaper crude, govt fuel revenue, petrol pump, retail prices of petrol and dieselसरकार ने पेट्रोल पर 10 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर 13 रुपए प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी बढ़ा दी है.

देशभर में जारी लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार ने फ्यूल पर एक्साइज ड्यूटी में भारी इजाफा किया है. सरकार ने पेट्रोल पर 10 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर 13 रुपए प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी बढ़ा दी है. हालांकि इससे आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है. एक्साइज ड्यूटी में इस बढ़ोत्तरी से आम आदमी की जेब पर कोई असर नहीं होगा. पंप पर पेटठ्रोल और डीजल की रिटेल कीमतों पर इसका कोई असर नहीं होगा. ऑयल मार्केटिंग कंपनियां इंडियन आयल, BPCL और HPCL पेट्रोल-डीजल पर बढ़ी हुई ड्यूटी को वहन करेंगी.

सरकार का 1.6 लाख करोड़ बढ़ेगा रेवेन्यू

सरकार द्वारा एक्साइज ड्यूटी में बढ़ोत्तरी के बाद भी पेट्रोल पंप पर रिटेल कीमतों में कोई इजाफा नहीं होगा. पंप पर रिटेल के दाम जस के तस बने रहेंगे. इसका भार ऑयल मार्केटिंग कंपनियां सहेंगी. एक्साइज ड्यूटी की नई दर मंगलवार आधी रात से लागू हो गई. माना जा रहा है कि इससे सरकार के रेवेन्यू में 1.6 लाख करोड़ का इजाफा होगा. बता दें कि इससे पहले दिल्ली और फिर पंजाब सरकार ने मंगलवार को पेट्रोल-डीजल पर वैट बढ़ाया था. अन्य राज्य भी राजस्व बढ़ाने के लिए पेट्रोल-डीजल पर वैट बढ़ा सकते हैं.

भारत में, पेट्रोल का बेस प्राइस उसके रिटेल प्राइस का करीब 40 फीसदी है. इसके अलावा फ्यूल पर केंद्र सरकार और राज्य सरकारें टैक्स, ड्यूटी और सेश लगाती हैं, जिससे कीमतें बढ़ जाती हैं. इस साल कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट के बीच, सरकार रिटेल फ्यूल से अधिक करों को इकट्ठा करने की कोशिश कर रही है, जिसका उपयोग अन्य राजस्व घाटे की भरपाई के लिए किया जा सकता है.

लंबे समय क्रूड बना हुआ है सस्ता

इसके पहले मार्च महीने में भी सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर 3 रुपये प्रति लीटर तक एक्साइज ड्यूटी में इजाफा किया था. इस बढ़ोत्तरी से सरकारी खजाने में 39 हजार करोड़ आने की उम्मीद थी. बता दें कि इंटरनेशनल मा​र्केट में क्रूड की कीमतें लंबे समय से निचले सतरों पर बनी हुई हैं. इससे सरकार को सस्ता तेल खरीदने का मौका मिला है. इसी को देखते हुए तेल कंपनियों पर यह भार डाला गया है.

कल दिल्ली में बदले थे भाव, बाकी शहरों में बदलाव नहीं

मंगलवार को वैट बढ़ने से दिल्ली में 50 दिनों बाद पेट्रोल 1.67 रुपए और डीजल 7.10 रुपए प्रति लीटर महंगा हुआ था. दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 71.26 रुपए प्रति लीटर हो गई, वहीं डीजल 62.29 रुपए से बढ़कर 69.39 रुपए प्रति लीटर हो गया है. अन्य महानगरों में कीमतों में कोई बढ़ोत्तरी नहीं हुई है. मुंबई में पेट्रोल 76.31 रुपये प्रति लीटर तो डीजल 66.21 रुपये प्रति लीटर है. कोलकाता में पेट्रोल 73.30 रुपये प्रति लीटर और डीजल 65.62 रुपये प्रति लीटर है. वहीं चेन्नई में पेट्रोल 75.54 रुपये प्रति लीटर तो डीजल 68.22 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 13 रु/लीटर तक बढ़ाई; आप पर क्या होगा असर, देखें आज का भाव

Go to Top