सर्वाधिक पढ़ी गईं

Mann Ki Baat: PM मोदी ने गिनाईं 2018 की उपलब्धियां, नए साल और त्योहारों की दी शुभकामनाएं

30 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम का 51वां एडिशन संबोधित किया.

December 30, 2018 1:36 PM
mann ki baat 51st edition by prime minister narendra modiइस दौरान पीएम ने सबसे पहले विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना ‘आयुष्मान भारत’ की शुरुआत का जिक्र किया.

30 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम का 51वां एडिशन संबोधित किया. कार्यक्रम की शुरुआत में पीएम ने सबसे पहले देशवासियों को आगामी नए वर्ष की शुभकामनाएं दीं और गुजरे साल 2018 के घटनाक्रमों को दोहराया.

इस दौरान पीएम ने सबसे पहले विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना ‘आयुष्मान भारत’ की शुरुआत का जिक्र किया. उन्होंने कहा कि विश्व की जानी—मानी संस्थाओं ने माना है कि भारत रिकॉर्ड गति के साथ, देश को ग़रीबी से मुक्ति दिला रहा है. देशवासियों के अडिग संकल्प से स्वच्छता कवरेज बढ़कर 95% को पार करने की दिशा में आगे बढ़ रहा है.

इसके बाद उन्होंने विश्व की सबसे ऊँची प्रतिमा स्टैच्यू आॅफ यूनिटी, देश को मिले संयुक्त राष्ट्र के सर्वोच्च पर्यावरण पुरस्कार ‘Champions of the Earth’, सोलर एनर्जी और क्लाइमेट चेंज की दिशा में भारत के प्रयासों को विश्व में मिली पहचान, देश में अन्तर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन की पहली महासभा ‘International Solar Alliance’ के आयोजन, ईज आॅफ डूइंग बिजनेस में सुधार, भारत के जल, थल और नभ-तीनों में परमाणुशक्ति संपन्न होने यानी न्यूक्लियर ट्रायड के पूरे होने आदि का जिक्र किया.

इसके अलावा पीएम ने वाराणसी में भारत के पहले जलमार्ग की शुरुआत, देश के सबसे लम्बे रेल-रोड पुल बोगीबील ब्रिज के उद्घाटन, सिक्कित को पहला और देश को 100वां एयरपोर्ट पाक्योंग मिलने जैसे घटनाक्रमों और स्पोर्ट्स के मोर्चे पर भारत द्वारा किए गए बेहतरीन प्रदर्शन का भी उल्लेख किया.

दुनिया को अलविदा कहने वाली खास हस्तियों का किया जिक्र

कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने दिसंबर में दुनिया को छोड़कर गई दो खास हस्तियों का भी जिक्र किया. ये हस्तियां चेन्नई के डॉक्टर जयाचंद्रन और कर्नाटक की सुलागिट्टी नरसम्मा हैं.

पीएम ने कहा कि डॉक्टर जयाचंद्रन गरीबों को सस्ता इलाज उपलब्ध कराने के लिए जाने जाते थे. उन्हें लोग प्यार से ‘मक्कल मारुथुवर’ कहते थे. वह अपने पास इलाज के लिए आने वाले बुजुर्ग मरीजों कोवोआने-जाने का किराया तक दे देते थे. वहीं सुलागिट्टी गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी में मदद करने वाली सहायिका थीं. उन्होंने कर्नाटक में, विशेषकर वहाँ के दुर्गम इलाकों में अपनी सेवाएं दीं. सुलागिट्टी को इस साल की शुरुआत में ‘पद्मश्री’ से सम्मानित किया गया था.

हनाया निसार, रजनी और वेदांगी को दी बधाई

मन की बात में पीएम ने कुछ देश की तीन युवा लड़कियों को उनकी उपलब्धियों पर बधाई और आगे के लिए शुभकामनाएं दीं. पहला जिक्र कश्मीर के अनंतनाग की हनाया निसार का किया. 12 साल की हनाया ने कोरिया में कराटे चैंपियनशिप में गोल्ड जीता है.

ऐसे ही 16 साल की रजनी ने मुक्केबाजी चैंपियनशिन में गोल्ड जीता है. पीएम ने कहा कि रजनी इन दिनों मीडिया में छाई हुई हैं, इसकी वजह है कि मेडल जीतने के तुरंत बाद रजनी पास के एक दूध के स्टॉल पर गईं और एक गिलास दूध पिया. रजनी ने ऐसा अपने पिता जसमेर सिंह जी के सम्मान में किया, जो पानीपत के एक स्टॉल पर लस्सी बेचते हैं. रजनी के मुताबिक, उनके यहां तक पहुंचने में उनके पिता का बहुत बड़ा हाथ है.

पीएम ने पुणे की 20 साल की वेदांगी कुलकर्णी को भी बधाई और शुभकामनाएं दी. वेदांगी साइकिल से दुनिया का चक्कर लगाने वाली सबसे तेज एशियाई बन गई हैं. वह 159 दिनों तक रोजाना लगभग 300 किलोमीटर साइकल चलाती थीं.

जनवरी के त्योहारों पर दी शुभकामनाएं

कार्यक्रम में पीएम ने आगामी जनवरी के त्योहारों जैसे लोहड़ी, पोंगल, मकर संक्रान्ति, उत्तरायण, माघ बिहू, माघी पर भी बात की. उन्होंने कहा कि इन सभी त्योहारों के नाम भले ही अलग-अलग हैं लेकिन सब को मनाने की भावना एक है. ये उत्सव कहीं-न-कहीं फसल और खेती-बाड़ी से जुड़े हुए हैं. किसान, गाँव, खेत खलिहान से जुड़े हुए हैं. इस​लिए हमारे अन्नदाता किसानों और सभी देशवासियों को शुभकामनाएं.

कुंभ मेले का भी किया जिक्र

कार्यक्रम में पीएम ने कहा कि हमारी संस्कृति में ऐसी चीज़ों की भरमार है, जिन पर हम गर्व कर सकते हैं और पूरी दुनिया को अभिमान के साथ दिखा सकते हैं- उनमें एक है कुंभ मेला. इस बार 15 जनवरी से प्रयागराज में आयोजित होने जा रहे विश्व प्रसिद्ध कुंभ मेले के लिए अभी से संत-महात्माओं के पहुँचने का सिलसिला प्रारंभ भी हो चुका है. इसके वैश्विक महत्व का अंदाज़ा इसी से लग जाता है कि पिछले वर्ष UNESCO ने कुंभ मेले को Intangible Cultural Heritage of Humanity की सूची में चिन्हित किया.

आगे कहा कि कुछ दिन पहले कई देशों के राजदूतों ने कुंभ की तैयारियों को देखा, वहाँ पर एक साथ कई देशों के राष्ट्रध्वज फहराए गए।. प्रयागराज में आयोजित हो रहे इस कुंभ के मेले में 150 से भी अधिकदेशों के लोगों के आने की संभावना है. कुंभ की दिव्यता से भारत की भव्यता पूरी दुनिया में अपना रंग बिखेरेगी.

गणतंत्र दिवस पर भी बोले PM

पीएम ने कहा कि इस वर्ष हम महात्मा गांधी का 150वाँ जयन्ती वर्ष मना रहे हैं. इस साल गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि के रूप में दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामाफोसा भारत आ रहे हैं. दक्षिण अफ्रीका ही था, जहाँ से मोहन,‘महात्मा’ बन गए. दक्षिण अफ्रीका में ही महात्मा गांधी ने अपना पहला सत्याग्रह आरम्भ किया था और रंग-भेद के विरोध में डटकर खड़े हुए थे। उन्होंने फीनिक्स और टॉलस्टॉय फार्म्स की भी स्थापना की थी, जहाँ से पूरे विश्व में शान्ति और न्याय के लिए गूँज उठी थी.

गुरु गोबिंद सिंह को किया नमन

मन की बात में पीएम मोदी ने 13 जनवरी को गुरु गोबिंद सिंह जी की जयन्ती का भी उल्लेख किया. पीएम ने कहा कि अपने पिता श्री गुरु तेगबहादुर जी के शहीद होने के बाद गुरुगोबिंद सिंह जी ने 9 साल की अल्पायु में ही गुरु का पद प्राप्त किया. गुरु गोबिन्द सिंह जी को न्याय की लड़ाई लड़ने का साहस सिख गुरुओं से विरासत में मिला. वे शांत और सरल व्यक्तित्व के धनी थे, लेकिन जब-जब, ग़रीबों और कमजोरों की आवाज़ को दबाने का प्रयास किया गया, उनके साथ अन्याय किया गया, तब-तब गुरु गोबिन्द सिंह जी ने गरीबों और कमजोरों के लिए अपनी आवाज़ दृढ़ता के साथ बुलंद की.

वह कहा करते थे कि कमज़ोर तबकों से लड़कर ताकत का प्रदर्शन नहीं किया जा सकता. वह वीरता, शौर्य, त्याग धर्मपरायणता से भरे हुए दिव्य पुरुष थे, जिनको शस्त्र और शास्त्र दोनों का ही अलौकिक ज्ञान था. वे एक तीरंदाज तो थे ही, इसके साथ-साथ गुरूमुखी, ब्रजभाषा, संस्कृत, फारसी, हिन्दी और उर्दू सहित कई भाषाओं के भी ज्ञाता थे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Mann Ki Baat: PM मोदी ने गिनाईं 2018 की उपलब्धियां, नए साल और त्योहारों की दी शुभकामनाएं

Go to Top