मुख्य समाचार:
  1. 13900 करोड़ रु. के एसेट्स बेचकर कर्ज चुकाना चाहते हैं माल्या, कर्नाटक HC में दायर की याचिका

13900 करोड़ रु. के एसेट्स बेचकर कर्ज चुकाना चाहते हैं माल्या, कर्नाटक HC में दायर की याचिका

माल्या ने यह बात बुधवार को प्रत्यर्पण मामले में सुनवाई के लिए लंदन के वेस्टमिन्स्टर मजिस्ट्रेट्स कोर्ट के बाहर पहुंच कर कही.

September 12, 2018 5:20 PM
Mallya says he made comprehensive settlement offer before Karnataka High Court, vijay mallya, westminster magistrates court, mallya extradition case, UK court इस वक्त वेस्टमिन्स्टर मजिस्ट्रेट्स कोर्ट में माल्या को भारत को सौंपे जाने को लेकर सुनवाई चल रही है. यह इस मामले की आखिरी सुनवाई हो सकती है. (PTI)

बैंकों का 9000 करोड़ लेकर देश छोड़कर भागे शराब कारोबारी विजय माल्या ने कहा है कि उन्होंने अपने बकाए का भुगतान करने के लिए कर्नाटक हाई कोर्ट के समक्ष एक कॉम्प्रिहैन्सिव सेटलमेंट आॅफर रखा है. माल्या ने यह बात बुधवार को प्रत्यर्पण मामले में सुनवाई के लिए लंदन के वेस्टमिन्स्टर मजिस्ट्रेट्स कोर्ट के बाहर पहुंच कर कही.

माल्या ने कहा, ”मैं आशा करता हूं कि जज मेरे इस आॅफर पर विचार करेंगे. सभी के बकाए का भुगतान होगा और मुझे लगता है कि यही प्राथमिकता है.” माल्या के मुताबिक, उन्होंने और यूनाइटेड ब्रेवरीज ग्रुप (UBHL) ने 22 जून, 2018 को कर्नाटक हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की थी. यह याचिका लगभग 13,900 करोड़ रुपये के उपलब्ध एसेट्स को लेकर थी. उन्होंने कोर्ट से ज्यूडिशियल सुपरवीजन के तहत इन एसेट्स की बिक्री करने और कर्जदाताओं को भुगतान करने की अनुमति मांगी है. इन कर्जदाताओं में पब्लिक सेक्टर बैंक भी शामिल हैं.

आखिरी हो सकती है यह सुनवाई

इस वक्त वेस्टमिन्स्टर मजिस्ट्रेट्स कोर्ट में माल्या को भारत को सौंपे जाने को लेकर सुनवाई चल रही है. यह इस मामले की आखिरी सुनवाई हो सकती है. इसके बाद फैसले के लिए एक समयसीमा स्पष्ट हो जाने की उम्मीद है.

दिसंबर 2017 से माल्या के प्रत्यर्पण की हो रही कोशिश

यूके कोर्ट में भारत दिसंबर 2017 से माल्या के फ्रॉड मामले में दोषी होने को सिद्ध करने की कोशिश कर रहा है. साथ ही लगातार यह भी साबित करने में जुटा है कि माल्या को भारत को सौंपने में कोई रुकावट नहीं है और माल्या के साथ भारत में किसी भी तरह का अन्याय नहीं होगा.

Go to Top