मुख्य समाचार:
  1. 5 स्टार होटल नहीं अपने घर से काम करेंगे देश के पहले लोकपाल

5 स्टार होटल नहीं अपने घर से काम करेंगे देश के पहले लोकपाल

Lokpal Pinaki Chandra Ghosh: लोकपाल के ऑफिस के लिए ‘द अशोक’ को किराये के तौर पर अब तक कोई भुगतान नहीं किया गया है.

May 2, 2019 3:20 PM
lokpal pinaki ghosh office to shift from delhi 5 star luxury hotel the ashok to residenceजस्टिस घोष मई 2017 में सुप्रीम कोर्ट से रिटायर हुए थे.

Lokpal Pinaki Chandra Ghosh: देश के पहले लोकपाल का ऑफिस राष्ट्रीय राजधानी के एक आलीशान पांच सितारा होटल से हट कर अब अपने स्थायी आवास में शिफ्ट किया जाएगा. अभी लोकपाल का ऑफिस चाणक्यपुरी स्थित होटल ‘द अशोक’ से कामकाज कर रहा है. कार्मिक मंत्रालय यानी मिनिस्ट्री ऑफ पर्सनल ने प्रेस ट्रस्ट के पत्रकार की ओर से दायर RTI एक्ट के तहत पूछे गए सवाल के जवाब में कहा है, ‘सरकार, लोकपाल के लिए एक स्थायी ऑफिस की तलाश में है.’ इसमें कहा गया है कि लोकपाल के ऑफिस के लिए ‘द अशोक’ को किराये के तौर पर अब तक कोई भुगतान नहीं किया गया है.

23 मार्च को लोकपाल बने थे पिनाकी चंद्र घोष

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 23 मार्च को जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष को भ्रष्टाचार निरोधक लोकपाल के तौर पर पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी थी.
जस्टिस घोष मई 2017 में सुप्रीम कोर्ट से रिटायर हुए थे. वह राष्ट्रीय मनवाधिकार आयोग के सदस्य थे.

दिलीप कुमार लोकपाल ऑफिस में ऑफिसर आन स्पेशल ड्यूटी नियुक्त

भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी दिलीप कुमार को सोमवार को लोकपाल ऑफिस में ऑफिसर आन स्पेशल ड्यूटी नियुक्त किया गया था. लोकपाल में शायद यह पहला मौका है जब नौकरशाह की नियुक्ति की गयी है.
कुमार इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस के 1995 बैच के पंजाब कैडर के अधिकारी हैं. इससे पहले वह राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में संयुक्त सचिव के रूप में तैनात थे. लोकपाल के आठ सदस्यों को न्यायमूर्ति घोष ने 27 मार्च को पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी थी.

Go to Top