मुख्य समाचार:
  1. कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार गिरी, विश्वासमत हासिल करने में रहे नाकामयाब

कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार गिरी, विश्वासमत हासिल करने में रहे नाकामयाब

इसी के साथ राज्य में करीब तीन हफ्ते से चल रहे राजनीतिक ड्रामे का अंत हो गया.

July 24, 2019 1:13 AM
Kumaraswamy loses confidence vote in the AssemblyImage: PTI

कर्नाटक में कांग्रेस-जद (एस) की सरकार मंगलवार को विधानसभा में विश्वास मत हासिल करने में विफल रही. इसके चलते सरकार गिर गई. इसी के साथ राज्य में करीब तीन हफ्ते से चल रहे राजनीतिक ड्रामे का अंत हो गया. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को संख्या बल का साथ नहीं मिला और उन्होंने विश्वास मत प्रस्ताव पर चार दिन की चर्चा के खत्म होने के बाद हार का सामना किया. विधानसभा में पिछले बृहस्पतिवार को उन्होंने विश्वास मत का प्रस्ताव पेश किया था.

केवल 6 वोट से चूके

कर्नाटक विधानसभा स्पीकर केआर रमेश कुमार ने विधायकों को विधानसभा में खड़ा करवाकर सत्ता और विपक्ष के नंबरों की गिनती करवाई. विधायकों की हर लाइन को अलग-अलग खड़ा कर अधिकारियों ने पहले सत्ता पक्ष और बाद में विपक्षी विधायकों को गिना. स्पीकर को छोड़कर सदन में विधायकों की संख्या 204 थी और बहुमत के लिए 103 का आंकड़ा जरूरी था. गिनती के बाद स्पीकर ने एलान किया कि 99 विधायकों ने प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिया है, जबकि 105 सदस्यों ने इसके खिलाफ मत दिया है. इस प्रकार यह प्रस्ताव गिर गया.

केवल 14 महीने ही चल सकी सरकार

कुमारस्वामी 14 महीने से 116 विधायकों के साथ सरकार चला रहे थे, लेकिन इसी महीने 15 विधायक बागी हो गए. एचडी कुमारस्वामी ने राज्यपाल वजुभाई वाला को अपना इस्तीफा सौंपा. और उन्होंने इसे स्वीकार कर लिया. अब भाजपा सरकार बनाने का दावा पेश करेगी.

यह लोकतंत्र की जीत: येदियुरप्पा

कर्नाटक भाजपा अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि यह लोकतंत्र की जीत है. जनता कुमारस्वामी सरकार से त्रस्त थी. उन्होंने भरोसा दिलाया कि अब विकास का नया युग शुरू होगा और किसानों को ज्यादा तवज्जो दी जाएगी. हम जल्द ही वाजिब कदम उठाएंगे. येदियुरप्पा चौथी बार मुख्यमंत्री बन सकते हैं.

Go to Top