मुख्य समाचार:

Teachers’ Day स्पेशल: Byju ने खड़ी कर दी 100 करोड़ मंथली रेवेन्यू वाली कंपनी, कभी कोचिंग से की थी शुरुआत

छोटे से गांव से शुरूआती पढ़ाई करने वाले रविंद्रन बायजू ने एक कोचिंग क्लास को 100 करोड़ रुपये मंथली रेवेन्यू वाली कंपनी में बदल दिया. Byju’s-द लर्निंग ऐप इंडिया की सबसे बड़ी एडटेक कंपनी बन गई है.

September 5, 2018 7:45 AM
ravindran byju, edtech company, learning app, रविंद्रन बायजू, largest india, बायजू, byju, revenue, income, students, कोचिंग क्लास, subscribers, एडटेक कंपनीछोटे से गांव से शुरूआती पढ़ाई करने वाले रविंद्रन बायजू ने एक कोचिंग क्लास को 100 करोड़ रुपये मंथली रेवेन्यू वाली कंपनी में बदल दिया. Byju’s-द लर्निंग ऐप इंडिया की सबसे बड़ी एडटेक कंपनी बन गई है. (Reuters)

5 सितंबर को शिक्षक दिवस है. बहुत से शिक्षक रहे हैं, जिन्होंने अपनी एक खास मिशाल पेश की है. हम यहां एक ऐसे मॉडर्न शिक्षक रविंद्रन बायजू की बात कर रहे हैं, जिन्होंने न केवल अपनी स्किल से दुनियाभर के करोड़ों छात्रों को शिक्षा देने में मदद की है, बल्कि इसी के जरिए बिजनेस की दुनिया में नया मुकाम हासिल किया है.

एक छोटे से गांव से शुरुआती पढ़ाई करने वाले रविंद्रन बायजू ने एक कोचिंग क्लास को आज 100 करोड़ रुपये मंथली रेवेन्यू वाली कंपनी में बदल दिया. उनकी कंपनी Byju’s – द लर्निंग ऐप इंडिया की सबसे बड़ी एडटेक कंपनी बन गई है. बायजू को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2018-19 में Byju’s का रेवेन्यू बढ़कर 1400 करोड़ रुपये हो सकता है.

2.2 करोड़ रजिस्टर्ड छात्र

Byju’s ने FE Hindi Online को बताया कि मौजूदा समय में कंपनी के साथ करीब 2 करोड़ छात्र रजिस्टर्ड हैं. वहीं, 14 लाख पेड सब्सक्राइबर्स हैं. हर महीने 15 लाख नए छात्र रजिस्टर्ड हो रहे हैं. मौजूदा समय में बायजू के साथ 2500 से ज्यादा कर्मचारी जुड़े हुए हैं.

100 करोड़ मंथली रेवेन्यू

Byju’s ने FE Hindi Online को बताया कि मई 2018 में कंपनी 100 करोड़ मंथली रेवेन्यू वाली कंपनी बन गई. 20 फीसदी मंथली के हिसाब से कंपनी का रेवेन्यू बढ़ रहा है. पिछले 3 साल की बात करें तो औसतन 100 फीसदी सालाना ग्रोथ रही है. वित्त वर्ष 2018-19 में कंपनी को 1400 करोड़ रुपये रेवेन्यू आने की उम्मीद है. 2014-15 में कंपनी का रेवेन्यू 48 करोड़, 2015-16 में 120 करोड़ और 2016-17 में बढ़कर 260 करोड़ रुपए रहा था.

गांव से शुरू हुआ सफर

बायजू रविंद्रन की शुरुआती शिक्षा कन्नूर जिले के गांव अझीकोड में मलयालम मीडियम स्कूल से शुरू हुई, जहां उनके पिता और माता शिक्षक थे. शुरू में उन्हें पढ़ाई के अलावा खेलों में भी बहुत ज्यादा इंटरेस्ट था. ग्रेजुएशन के बाद बायजू ने इंजीनियर के तौर पर अपनी नौकरी शुरू की. उसी दौरान अपने कुछ दोस्तों को एमबीए के एग्जाम की तैयारी में मदद करने की सोची और उनके लिए टीचिंग शुरू की. बेहतर रिजल्ट दिखा तो दोस्तों ने कोचिंग क्लास शुरू करने की सलाह दी. यहीं से बायजू के एक सफल बिजनेसमैन बनने का सफर शुरू हुआ.

शुरू की थी कोचिंग

बायजू ने छोटे निवेश के साथ कोचिंग क्लास शुरू की थी. वे दूसरे शहरों में जाकर भी कोचिंग क्लास लेते थे. बाद में उन्होंने सोचा कि क्यों न एक ही जगह रहकर अपने सभी छात्रों तक पहुंचा जा सके. उन्होंने 2009 में CAT के लिए ऑनलाइन वीडियो बेस्ड लर्निंग प्रोग्राम शुरू किया.

2015 में Byju’s – द लर्निंग ऐप

2015 में उन्होंने अपना फ्लैगशिप प्रोडक्ट Byju’s – द लर्निंग एप लॉन्च किया. यह उनके लिए गेमचेंजर साबित हुआ. स्मार्टफोन की बढ़ती लोकप्रियता के बीच उनका यह एप भी पॉपुलर होता गया. कंपनी ऑनलाइल कंटेंट उपलब्ध करवाती है. कुछ कंटेंट तो फ्री हैं, लेकिन एडवांस लेवल के लिए फीस देनी होती है.

देश के कोने-कोने में पहुंचने का लक्ष्य

Byju’s का लक्ष्य है कि उनकी पहुंच देश के कोने-कोने तक हो, जिससे हर तबके के छात्रों को लाभ मिले. Byju’s ने FE Hindi Online को बताया कि अभी उनके ज्यादातर छात्र देश के टॉप 7 शहरों के हैं. Byju’s का कहना है कि आज के ज्यादातर छात्रों की पढ़ाई सवालों के हल निकालने के लिए हो रही है. चुनौती यह है कि इस ट्रेंड को किस तरह से बदला जाए. छात्रों को इस तरह से तैयार किया जाए कि वह अपने तरीके से सीख सकें. छात्रों को इस तरह से तैयार किया जाए कि वह खुद समस्या खोजें और उसके हल का उपाय निकालें. इसमें तकनीकी बेहतर ढंग से मदद कर सकती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Teachers’ Day स्पेशल: Byju ने खड़ी कर दी 100 करोड़ मंथली रेवेन्यू वाली कंपनी, कभी कोचिंग से की थी शुरुआत

Go to Top