सर्वाधिक पढ़ी गईं

कन्हैया कुमार ने थामा कांग्रेस का हाथ, जिग्नेश मेवाणी ‘तकनीकी’ कारणों से नहीं हुए शामिल, कहा- पार्टी की विचारधारा का हिस्सा हूं

राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता लेने के बाद कन्हैया कुमार ने कहा कि वह कांग्रेस में इसलिए शामिल हो रहे हैं क्योंकि यह सिर्फ पार्टी नहीं है. यह एक विचार है.

Updated: Sep 28, 2021 8:13 PM

Kanhaiya Kumar joins Congress : जेएनयू छात्र संगठन के प्रमुख प्रमुख कन्हैया कुमार ( Kanhaiya Kumar) ने आज राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस का दामन थाम लिया. गुजरात के निर्दलीय विधायक और तेज तर्रार दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ( Jignesh Mevani) को भी पार्टी में शामिल होना था लेकिन उन्होंने कहा कि वह ‘तकनीकी’ कारणों से फिलहाल कांग्रेस के साथ नहीं आ सकते. उन्होंने कांग्रेस का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस की विचारधारा के साथ हैं.

कन्हैया कुमार बिहार के बेगूसराय से सीपीआई के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं. राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता लेने के बाद कन्हैया कुमार ने कहा कि वह कांग्रेस में इसलिए शामिल हो रहे हैं क्योंकि यह सिर्फ पार्टी नहीं है. यह एक विचार है. उन्होंने कहा, ” यह देश की सबसे पुरानी और सबसे ज्यादा लोकतांत्रिक पार्टी है. मैं ‘लोकतांत्रिक’ शब्द पर जोर दे रहा हूं. मैं ही नहीं कइयों का मानना है कांग्रेस के बगैर यह देश आगे नहीं बढ़ सकता. देश में आजादी की लड़ाई की तरह अब ‘आइडिया ऑफ इंडिया’ की लड़ाई चल रही है. इसमें कांग्रेस का साथ देना जरूरी है.

कन्हैया कुमार ने कहा, कांग्रेस पार्टी नहीं विचार है

34 साल के फायर ब्रांड नेता कन्हैया कुमार जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष थे. कन्हैया कुमार 2016 जेएनयू में छात्रों के आंदोलन और उसके बाद पीएम मोदी के खिलाफ धुंआधार भाषणों से देश भर में चर्चा केंद्र में आ गए थे. कन्हैया कुमार, उमर खालिद समेत कई अन्य छात्र नेताओं के पर देशविरोधी नारे लगाने के आरोप लगाए गए थे. हालांकि बाद में कन्हैया कुमार को अंतरिम जमानत पर छोड़ दिया गया था. 2019 में कन्हैया कुमार ने बिहार की बेगूसराय सीट से बीजेपी नेता गिरिराज सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ा. हालांकि सीपीआई के टिकट पर लड़ रहे कन्हैया हार गए. पिछले कुछ दिनों से उनके सीपीआई छोड़ कर कांग्रेस में आने की खबरें थीं. कहा जा रहा था कि सीपीआई में शीर्ष नेतृत्व और दूसरे बड़े नेता उनकी बात नहीं सुन रहे हैं.

मेवाणी ने कहा, अगला चुनाव कांग्रेस के चिन्ह पर लडूंगा

कन्हैया कुमार के साथ ही फायर ब्रांड नेता जिग्नेश मेवाणी के भी कांग्रेस में शामिल होने की खबर थी लेकिन वह पार्टी में शामिल नहीं हुए. गुजरात में बीजेपी के खिलाफ आंदोलन कर चुके मेवाणी वडगाम से निर्दलीय विधायक हैं. मेवाणी ने कहा कि वह तकनीकी कारणों से कांग्रेस ज्वाइन नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि वह निर्दलीय विधायक हैं. अगर वह कांग्रेस ज्वाइन करते हैं उनकी विधानसभा की सदस्यता खत्म हो जाएगी. हालांकि कांग्रेस की विचारधारा का हिस्सा हैं और गुजरात में आने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी के चिन्ह पर चुनाव लड़ेंगे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. कन्हैया कुमार ने थामा कांग्रेस का हाथ, जिग्नेश मेवाणी ‘तकनीकी’ कारणों से नहीं हुए शामिल, कहा- पार्टी की विचारधारा का हिस्सा हूं

Go to Top