मुख्य समाचार:

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने थामा कमल का हाथ, BJP में हुए शामिल

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था.

March 11, 2020 3:54 PM
jyotiraditya scindia joins BJP in presence on JP Naddaबीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता दिलाई. (Image: PTI)

भारतीय राजनीति के एक बड़े घटनाक्रम में पूर्व केंद्रीय मंत्री माधवराव सिंधिया के पुत्र और बीते 18 साल से कांग्रेस में सक्रिय रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) ज्वाइन कर ली. सिंधिया ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान समेत कई अन्य नेताओं की मौजूदगी में भाजपा का हाथ थामा. इस दौरान, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बीजेपी की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण की.  इससे पहले, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को पीएम नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद सिंधिया खेमे के 22 कांग्रेस विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया. जिसके बाद मध्य प्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्व वाली 15 महीने पुरानी कांग्रेस सरकार गिरने के कगार पर पहुंच गई है.

किसान, नौजवान की बात कर कांग्रेस पर साधा निशाना

बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करने के दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी को आड़े हाथों लिया और जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ”मन व्यथित और दुखी भी है. क्योंकि जो आज स्थिति पैदा हुई है. मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि जनसेवा आज उस संगठन (कांग्रेस पार्टी) के माध्यम से नहीं हो पा रही है. जड़ता का एक वातावरण उत्पन्न है. नई सोच, नई विचारधारा को इस वातावरण में रास्ता नहीं मि सकता है.

सिंधिया ने कहा, ”हमने सपना पिरोया था जब 2018 में सरकार बनी थी, लेकिन 18 महीने में वो सपने पूरी तरह बिखर गए. चाहें हम किसानों की बात करें, जहां कहा गया था कि 10 दिन में कर्जे माफ करेंगे वो 18 महीने में नहीं हो पाया. आज भी पिछले फसल का मुआवजा नहीं मिल पाया था. वचन पत्र में कहा गया था कि बेरोजगार नौजवान को हर माह एक भत्ता दिया जाएगा, उसकी एक भी सुध नहीं है. मध्य प्रदेश में एक ट्रांसफर उद्योग चल रहा है. रेत का माफिया चल रहा है.”

सिंधिया ने दो तारीखों का किया जिक्र

इस मौके पर सिंधिया ने कहा, ”मेरे जीवन में दो तारीखें बहुत महत्वपूर्ण रही हैं. व्यक्ति के जीवन में कई बार ऐसे मोड़ आते हैं जो व्यक्ति के जीवन को बदल कर रख देते हैं. मेरे जीवन में वो दो दिवस, पहला दिवस 30 सितंबर 2001 जिस दिन मैंने अपने पूज्य पिताजी को खोया. एक जीवन बदलने का दिवस था मेरे लिये. और उसी के साथ दूसरी तारीख 10 मार्च 2020 जो उनकी 75वीं वर्षगांठ थी. जहां जीवन में एक नई परिकल्पना एक नया मोड़ का सामना करके मैंने एक निर्णय किया है. मैने सदैव माना है कि हमारा लक्ष्य इस भारत मां की जनसेवा होना चाहिए. राजनीति केवल उस लक्ष्य की पूर्ति का एक माध्यम होना चाहिए.

सिंधिया ने कहा, ”मैं अपने आपको सौभाग्यशाली समझता हूं कि नड्डा, मोदी शाह ने वो मंच प्रदान किया जिससे हम जनसेवा को आगे बढ़ पाए. देश के इतिहास में जो जनादेश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार को मिला है वो किसी को नहीं मिला है. मैं मानता हूं भारत का भविष्य पूर्ण रूप से उनके हाथों में सुरक्षित है. नड्डा जी के साथ-साथ हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पूर्व अध्यक्ष अमित शाह जी का धन्यवाद अर्पित करना चाहूंगा.”

‘ज्योतिरादित्य जी अपने परिवार में हो रहे हैं शामिल’

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इस मौके पर कहा, ”आज हम सबके लिए बहुत खुशी का विषय है और आज मैं हमारी वरिष्ठतम नेता स्वर्गीय राजमाता सिंधिया जी को याद कर रहा हूं. भारतीय जनसंघ और भाजपा दोनों पार्टी की स्थापना और स्थापना से लेकर विचारधारा को बढ़ाने में एक बहुत बड़ा योगदान रहा है. हमारे लिए राजमाता जी आदर्श और हम सब के लिए वो एक दृष्टि और दिशा देने वाली नेता रही हैं. उन्होंने पार्टी को शैशव काल से उसकी विचारधारा को आगे बढ़ाने का काम किया. ज्योतिरादित्य जी आज अपने परिवार में शामिल हो रहे हैं, मैं इनका स्वागत करता हूं और हार्दिक अभिनन्दन भी करता हूं.”

नड्डा ने कहा, ”वो परिवार के सदस्य हैं. वो इस परिवार में शामिल हो रहे हैं. मैं उनका स्वागत कर रहा हूं. मैं इनको यह विश्वास देता हूं कि आपको बीजेपी में मुख्य धारा में काम करने का अवसर मिलेगा.”

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने थामा कमल का हाथ, BJP में हुए शामिल
Tags:BJP

Go to Top