मुख्य समाचार:

ISRO ने PSLV-C43 से लॉन्च किए 31 सैटेलाइट, भारत का HySIS करेगा पृथ्वी की निगरानी

HySIS पृथ्वी की निगरानी करने वाले देश का हाइपर स्पेक्ट्रल इमेजिंग सैटलाइट है. यह PSLV की 45वीं उड़ान है.

November 29, 2018 11:51 AM
ISRO, PSLV-C43, earth observation satellite HysIS, ISRO Space Mission, What is earth observation satellite HysIS, PSLV, HysIS, sriharikota rocket launch stationHySIS पृथ्वी की निगरानी करने वाले देश का हाइपर स्पेक्ट्रल इमेजिंग सैटलाइट है. यह PSLV की 45वीं उड़ान है. (Image: ANI)

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने गुरुवार को पोलर सैटलाइट लॉन्च व्हीकल (PSLV) C43 के जरिए 31 सैटलाइट को लॉन्च कर दिया है. इसे आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से 9.58 बजे छोड़ा गया. इसमें भारत का हाइपरस्पेक्ट्रल इमेजिंग सैटलाइट (HySIS) और 8 देशों के 30 दूसरे सैटलाइट शामिल हैं. HySIS पृथ्वी की निगरानी करने वाले देश का हाइपर स्पेक्ट्रल इमेजिंग सैटलाइट है. यह पीएसएलवी की 45वीं उड़ान है.

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अनुसार, रॉकेट के लॉन्च के बाद इस मिशन को पूरा होने में केवल 112 मिनट लगेंगे. 44.4 मीटर लंबा और 230 टन वजनी PSLV-CA (कोर अलोन) वर्जन ने सुबह 9.58 बजे प्रक्षेपण स्थल से उड़ान भरी. PSLV रॉकेट अपने साथ 380 किलोग्राम वजनी HySIS और कुल 261 किलोग्राम के 30 अन्य उपग्रह ले गया है.

रॉकेट उड़ान के 16 मिनट बाद अपना चौथा इंजन बंद कर लेगा और उड़ान के 17 मिनट बाद पांच सालों की जीवन अवधि वाला HySIS उपग्रह निर्धारित कक्षा 636 किमी घ्रुवीय सूर्य समन्वय कक्ष (SSO) में स्थापित कर दिया जाएगा-

अमेरिका के 23 सैटलाइट

भारत के अलावा अमेरिका के 23 सैटलाइट और ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, कोलंबिया, फिनलैंड, मलयेशिया, नीदरलैंड और स्पेन (प्रत्येक का एक सैटलाइट) शामिल हैं। इनमें एक माइक्रो और 29 नैनो सैटलाइट हैं.

ISRO, PSLV-C43, earth observation satellite HysIS, ISRO Space Mission, What is earth observation satellite HysIS, PSLV, HysIS, sriharikota rocket launch station (Image: ISRO)

खास मिशन पर HySIS

भारत का हाइपर स्पेक्ट्रल इमेजिंग उपग्रह (HySIS) इस मिशन का प्राथमिक सैटलाइट है. इमेजिंग सैटलाइट पृथ्वी की निगरानी के लिए इसरो ने डेवलप किया है.

ये भी पढ़ें…G20 Summit: ग्लोबल इकोनॉमी, ट्रेड समेत कई मुद्दे एजेंडे में

इस सैटलाइट पृथ्वी की सतह के साथ इलेक्ट्रोमैग्नेटिक स्पैक्ट्रम में इंफ्रारेड और शॉर्ट वेव इंफ्रारेड फील्ड का अध्ययन करेगा. इसकी मदद से धरती के चप्पे-चप्पे पर नजर रखना आसान हो जाएगा क्योंकि लगभग धरती से 630 किमी दूर अंतरिक्ष से पृथ्वी पर मौजूद वस्तुओं के 55 विभिन्न रंगों की पहचान आसानी से की जा सकेगी.

हाइपर स्पेक्ट्रल इमेजिंग या हाइस्पेक्स इमेजिंग अंतरिक्ष से एक दृश्य के हर पिक्सल के स्पेक्ट्रम को पढ़ने के अलावा पृथ्वी पर वस्तुओं, सामग्री या प्रक्रियाओं की अलग पहचान भी करती है. इससे पर्यावरण सर्वेक्षण, फसलों के लिए उपयोगी जमीन का आकलन, तेल और खनिज पदार्थों की खानों की खोज आसान होगी.

ISRO, PSLV-C43, earth observation satellite HysIS, ISRO Space Mission, What is earth observation satellite HysIS, PSLV, HysIS, sriharikota rocket launch station (Image: ISRO)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. ISRO ने PSLV-C43 से लॉन्च किए 31 सैटेलाइट, भारत का HySIS करेगा पृथ्वी की निगरानी

Go to Top