मुख्य समाचार:

इनडायरेक्ट टैक्स संग्रह 2018-19 में लक्ष्य से 90,000 करोड़ रुपये कम रह सकता है: रिपोर्ट

वित्त वर्ष 2018-19 में कुल GST संग्रह 6.78 लाख करोड़ रुपये रह सकता है जो बजट अनुमान में 7.44 लाख करोड़ रुपये प्रस्तवित है.

November 22, 2018 10:15 PM
indirect tax Collection, tax collection, gst, arun jaitley, business news in hindi, sbi research reportवित्त वर्ष 2018-19 में कुल GST संग्रह 6.78 लाख करोड़ रुपये रह सकता है जो बजट अनुमान में 7.44 लाख करोड़ रुपये प्रस्तवित है.

GST संग्रह कम रहने तथा पेट्रोलियम उत्पादों पर उत्पाद शुल्क में कटौती से चालू वित्त वर्ष में इनडायरेक्ट टैक्स संग्रह 90,000 करोड़ रुपये कम रह सकता है. एसबीआई रिसर्च ने गुरुवार को एक रिपोर्ट में यह कहा. बजट अनुमान के अनुसार सरकार ने GST से 7.4 लाख करोड़ रुपये और केंद्रीय उत्पाद शुल्क से 2.6 लाख करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है.

पेट्रोलियम और अल्कोहल प्रोडक्ट को छोड़कर उत्पाद शुल्क GST में शामिल हो गए हैं. एसबीआई एकोरैप रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘GST और प्रोडक्ट शुल्क संग्रह में 90,000 करोड़ रुपये की कमी की आशंका है. इसमें 10,500 करोड़ रुपये पेट्रोलियम प्रोडक्ट पर लगने वाले उत्पाद शुल्क में कटौती के कारण है.’’ पेट्रोलियम प्रोडक्ट में उत्पाद शुल्क में 1.50 रुपये की कटौती की गयी थी.

वित्त वर्ष 2018-19 में कुल GST संग्रह 6.78 लाख करोड़ रुपये रह सकता है जो बजट अनुमान में 7.44 लाख करोड़ रुपये प्रस्तवित है. इसमें एसजीएसटी और आईजीएसटी शामिल हैं. हालांकि सीमा शुल्क संग्रह बजटीय अनुमान 1.12 लाख करोड़ रुपये के मुकाबले 14,000 करोड़ रुपये अधिक रह सकता है.

रिपोर्ट के मुताबिक लगातार दूसरे साल डायरेक्ट टैक्स संग्रह बजटीय लक्ष्य से कम-से-कम 20,000 करोड़ रुपये अधिक रह सकता है. इसके अलावा सरकार को कर अदायगी से बचने वालों से 20,000 करोड़ रुपये प्राप्त होने की उम्मीद है. इसमें कहा गया है कि तेल की कीमतों में हाल की गिरावट से मौजूदा वित्त वर्ष में चालू खाते का घाटा हमारे अनुमान 78 अरब डालर से करीब 5-6 अरब डालर कम रह सकता है.

रिपोर्ट के मुताबिक इससे चालू खाते का घाटा GDP का 2.6 फीसदी रहने का अनुमान है जबकि पहले इसके 2.8 फीसदी रहने की बात कही गयी थी. इन्फ्लेशन के बारे में एसबीआई को उम्मीद है कि यह अगले कुछ महीनों में 2.7 से 2.8 फीसदी रह सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. इनडायरेक्ट टैक्स संग्रह 2018-19 में लक्ष्य से 90,000 करोड़ रुपये कम रह सकता है: रिपोर्ट

Go to Top