Coal Import in October: भारत का कोयला आयात घटा, जानिए पावर सेक्टर में डिमांड बढ़ने के बावजूद क्यों हुआ ऐसा

अक्टूबर 2021 में देश में कोयला आयात 1.575 करोड़ टन रहा जबकि अक्टूबर 2020 में यह 2.150 करोड़ रहा टन था.

India’s coal import declines 27% to 16 mn tonnes in October
भारत के कोयला आयात में अक्टूबर 2021 में गिरावट आई है.

Coal Import in October: भारत के कोयला आयात में अक्टूबर 2021 में गिरावट आई है. इसमें एक साल पहले की तुलना में 26.8 प्रतिशत की गिरावट आई है. इस गिरावट के साथ भारत का कोयला आयात 1.575 करोड़ टन पर आ गया. कोयला और इस्पात के बारे में रिसर्च रिपोर्ट्स प्रकाशित करने वाली कंपनी एमजंक्शन सर्विसेज ने आंकड़ों के आधार पर यह जानकारी दी है. कंपनी ने बताया है कि देश के प्रमुख व अन्य बंदरगाहों पर आयात किए गए कोयला और कोक में अक्टूबर में 26.8 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई.

Mcap of Top 10 Firms: टॉप 10 में से आठ कंपनियों का मार्केट कैप 2.61 लाख करोड़ रुपये घटा, जानें किन कंपनियों को कितना हुआ नुकसान

सिंतबर की तुलना में 6 प्रतिशत की बढ़ोतरी

रिपोर्ट के मुताबिक, अक्टूबर 2021 में देश में कोयला आयात 1.575 करोड़ टन रहा जबकि अक्टूबर 2020 में यह 2.150 करोड़ टन था. हालांकि सितंबर 2021 की तुलना में अक्टूबर में कोयला आयात छह प्रतिशत ज्यादा रहा. सितंबर में कोयला आयात 1.458 करोड़ टन हुआ था. अगर अक्टूबर में आयात किए गए कोयले आयात का वर्गीकरण देखें तो नॉन-कोकिंग कोयला 94.57 लाख टन था जबकि कोकिंग कोयले की मात्रा 40.5 लाख टन की थी. चालू वित्त वर्ष के पहले सात महीनों (अप्रैल-अक्टूबर) में कुल कोयला आयात 12.309 करोड़ टन रहा है जो एक साल पहले की समान अवधि के 11.681 करोड़ टन के मुकाबले 5.4 प्रतिशत ज्यादा है.

चुनाव आयुक्तों के साथ पीएमओ की ‘अनौपचारिक’ चर्चा पर सरकार की सफाई, कहा- पत्र में CEC को नहीं किया गया था संबोधित

ये है गिरावट की वजह

कोल इंपोर्ट ट्रेंड पर टिप्पणी करते हुए, एमजंक्शन के MD और CEO, विनय वर्मा ने कहा, “फेस्टिव सीजन के दौरान पावर सेक्टर से कोयले की मजबूत मांग थी, लेकिन समुद्री मार्ग से आने वाले कोयले की कीमतों में बढ़ोतरी की वजह से आयात घटा है. आने वाले महीनों में घरेलू आपूर्ति में सुधार से इंपोर्ट डिमांड कम रहने की संभावना है.”

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News